बीकानेर:-पत्रकार समाज का प्रहरी,पत्रकार होली स्नेह मिलन समारोह,वरिष्ठ पत्रकारों का किया सम्मान - Report Exclusive

Report Exclusive

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Tuesday, 27 February 2018

बीकानेर:-पत्रकार समाज का प्रहरी,पत्रकार होली स्नेह मिलन समारोह,वरिष्ठ पत्रकारों का किया सम्मान


रिपोर्ट एक्सक्लूसिव,बीकानेर(जयनारायण बिस्सा)। पत्रकार समाज का प्रहरी होता है, पत्रकार बन्धु  गरीब असहाय तथा हर खबरों का प्रकाशन बिना किसी जोर दबाव के स्वत्रन्त्र  होकर करते है और समाज को एक नया आयाम दिलाते है। ये उद्गार मंडल  रेल प्रबंधक ए के दुबे ने रविवार को हरि हैरिटेज में आयोजित पत्रकार होली  स्नेह मिलन समारोह में बतौर मुख्य अतिथि के रूप में व्यक्त किये। 

उन्होंने कहा  कि पत्रकार ही समाज की रूप रेखा को बदल सकते है, हम लोग भी पत्रकार  बन्धुओं का काफी स मान करते है और भीष्म परिस्थितियों में भी अपने जान  को जोखिम में डालकर खबर संकलन का कार्य करते ह। वरिष्ठ अतिथि  एसबीआई बीकानेर अंचल के डीजीएम विनित कुमार ने कहा कि  वास्तव में  आज यह सम्मान पत्रकारों का स मान नहीं वरन शब्दों का सम्मान है। लगातार  विचार प्रक्रिया से उत्पन्न शब्दों का यह सम्मान है। समाचार पत्रों के लिए अपने  पाठकों के बीच विश्वसनीय समाचारों की ताजगी और समाचार पत्र के लिए  आकर्षण बनाए रखने की एक बड़ी चुनौती है।

 यह प्रसन्नता की बात है कि  अधिकांश समाचार पत्र इस कसौटी पर खरे उतर रहे हैं। कार्यक्रम अध्यक्ष पूर्व  सभापत्ति चर्तुभुज व्यास ने कहा कि आज की पत्रकारिता का पैमाना ही बदल  गया है समाचार पत्रों के लिए विश्वसनीयता बहुत जरूरी है। समारोह में पत्रकार  खेलकूद प्रतियोगिता क्रि केट,तीरंदाजी,बैडमिन्टन,टीटी के विजेताओं को भी  पुरस्कृत किया गया। संचालन अनुराग हर्ष ने किया। 

वरिष्ठ पत्रकारों का किया सम्मान 
कार्यक्रम आयोजक जयनारायण बिस्सा ने बताया कि कार्यक्रम में वरिष्ठ पत्रकार  दीनबन्धु चौधरी,के डी हर्ष,उमेश चन्द्र सक्सेना,संतोष जैन व प्रकाश पुगलिया  का उल्लेखनीय कार्य के लिये पत्रकारों की ओर से प्रशस्ति पत्र,श्रीफल,साफा व  शॉल ओढ़ाकार सम्मान किया गया। कार्यक्रम में पद्यारे हुए अतिथियों को वरिष्ठ  पत्रकार लूणकरण छाजेड़ व पूर्व मंत्री डॉ बी डी कल्ला ने स्मृति चिन्ह देकर  अभिनंदन किया गया। 

loading...

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे