Report Exclusive, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India केजरीवाल का थप्पड़कांड!अब बैठकों का होगा लाइव प्रसारण - Report Exclusive

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Monday, 26 February 2018

केजरीवाल का थप्पड़कांड!अब बैठकों का होगा लाइव प्रसारण


नेशनल। केजरीवाल सरकार की कैबिनेट मीटिंग का भी दिल्ली सरकार की वेबसाइट पर लाइव प्रसारण होगा। सरकार की नीतियों से जुड़ी फाइलों पर कब किस मंत्री और अधिकारी ने क्या लिखा और कितना समय लगाया, इसका ब्यौरा भी वेबसाइट पर जनता के लिए डाला जाएगा।

केजरीवाल सरकार के इस अहम फैसले के बाद किस मंत्री और किस अधिकारी के पास फैसलों से जुड़ी फाइल कितनी देर तक रही और किसने कब साइन किया, इसका ब्यौरा वेबसाइट पर डालकर जनता को पूरा ब्यौरा दिया जाएगा। केजरीवाल सरकार का यह फैसला सरकार में बैठकों और नीतियों को लेकर पारदर्शिता बनाए रखने की कोशिश माना जा रहा है। 

21 फरवरी को मुख्यसचिव से पिटाई के बाद से दिल्ली सरकार और ब्यूरोक्रेसी में तलवारें खिची हुई हैं। दिल्ली से सारे अफसर केजरीवाल सरकार के खिलाफ लामबंद हो गए हैं। इस मामले में बीते 6 दिनों में दिल्ली सरकार को काफी विरोध झेलना पड़ रहा है। जहां अफसरों की लामबंदी से दिल्ली का सारा काम बीते 6 दिनों से प्रभावित हो रहा,वहीं दिल्ली पुलिस लगातार विधायकों पर शिकंजा कसती जा रही है। 21 फरवरी की रात का सीसीटीवी फुटेज खंगालने के लिए दिल्ली पुलिस मुख्यमंत्री के घर तक सर्च ऑपरेशन चला चुकी है। सोमवार से आप से 9 विधायकों से दिल्ली पुलिस पूछताछ करेगी। मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री तक से पूछताछ हो सकती है।

कहते हैं कि दूध का जला, छाछ को भी फूंक-फूंक कर पीता हैं शायद यह बात केजरीवाल सरकार पर भी लागू हो चुकी है। इसी कारण मुख्य सचिव से मारपीट के आरोप के बाद दिल्ली सरकार ने अब किसी भी विवाद से बचने के लिए बड़ा फैसला लिया है। दिल्ली सरकार ने घोषणा कि अब हर बैठक की न सिर्फ रिकॉर्डिंग होगी, बल्कि इसका सरकारी वेबसाइट पर लाइव प्रसारण भी होगा। मुख्यमंत्री सहित हर मंत्री और अधिकारी की सरकारी बैठकों का लाइव वेबकास्ट किया जाएगा। 

बात दे कि केजरीवाल सरकार अधिकारियों पर फाइलें दबाने और विलंब करने का आरोप लगाती रही है। सरकार का ये फैसला अधिकारियों पर नकेल के रूप में भी देखा जा रहा है। दिल्ली सरकार मार्च में विधानसभा में पेश होने वाले बजट में इस बाबत प्रावधान रखेगी। इधर बीजेपी ने इस फैसले पर दिल्ली सरकार को घेरना भी शुरू कर दिया है। दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष और सांसद मनोज तिवारी ने इस फैसले पर तंज कसते हुए कहा कि नौ सौ चूहे खाकर बिल्ली हज को चली। उन्होंने कहा कि लाइव टेलीकास्ट तो अंकित के पिता के अपमान का हो चुका है।


No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे