बीकानेर:-शक्ति कैम्पेन की हुई शुरूआत,राहुल से सीधा संवाद करें कार्यकर्ता - Report Exclusive

Report Exclusive

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Tuesday, 13 March 2018

बीकानेर:-शक्ति कैम्पेन की हुई शुरूआत,राहुल से सीधा संवाद करें कार्यकर्ता


रिपोर्ट एक्सक्लूसिव,बीकानेर(जयनारायण बिस्सा)। राजस्थान विधानसभा चुनाव में सत्ता हासिल करने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अब पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ सीधा संपर्क करेंगे । इसके लिए पार्टी ने शक्ति कैंपेन शुरू  किया है । जिसकी बीकानेर में मंगलवार को लॉचिंग देहात कांग्रेस कार्यालय में हुई। इस मौके  पर देहात अध्यक्ष महेन्द्र गहलोत ने कहा कि अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की ओर से जारी  इस तकनीकी माध्यम के जरिए कांग्रेसजन अपने मोबाइल से 7045003900 नंबर पर अपना  वोटर आईडी कार्ड नंबर एसएमएस कर प्रोजेक्ट शक्ति से जुड़ सकते हैं।

 वे अपने सुझाव राहुल  गांधी तक आसानी से भेज सकेंगे और राहुल गांधी अपने सुझाव एवं संदेश सभी कांग्रेसजनों  तक भेज सकेंगे। उन्होंने कहा कि इस डिजिटल माध्यम से दोतरफा संवाद सुगम हो जाएगा।  उन्होंने बताया कि वोटर आईडी नंबर एक बार भेजने के बाद उसे फिर से नहीं भेजें, पुन: भेजने  पर वह डिस्कनेक्ट हो जाएगा। उन्होंने कहा कि बीते तीन उपचुनावों में मिली जीत के बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं के हौसले बुलंद हैं। 

कार्यकर्ताओं को एकजुट रखने और उनका हौसला बढ़ाने  के लिए राहुल गांधी बूथस्तर के कार्यकर्ताओं से संपर्क में रहेंगे। महिला देहात कांग्रेस अध्यक्ष  शशिकला राठौड़ ने कहा कि  शक्ति कैंपेन के जरिए राहुल गांधी सीधा ग्रासरूट स्तर से फीडबैक लेंगे। अगर यह फार्मूला कामयाब रहा तो कांग्रेस देशभर में बूथस्तर तक कार्यकर्ताओं  से सीधा संवाद करने के इस कैंपेन को मॉडल के रूप में लागू करेगी। 

इस कैंपेन के जरिए  ग्रासरूट स्तर तक के कार्यकर्ताओं से सीधे हाईकमान का संपर्क होने से सही फीडबैक, तो  मिलेगा। देहात कोषाध्यक्ष कौशल दुग्गड़ ने कहा कि शक्ति कैंपेन के तहत पार्टी ने 16 लाख कार्यकर्ताओ का डाटा बेस तैयार किया है । इसमें कार्यकर्ताओं के नाम, पता, मोबाइल नंबर और  लैंड लाइन नंबर आदि सभी जानकारियां जुटाई गई हैं । यह डाटा बेस पार्टी आलाकमान को  भेजा गया है । 

राहुल से बात करनी है तो दें मिस्ड कॉल
कैंपेन को लेकर एक खास नंबर 7045003900 जारी किया गया है। इस पर कार्यकर्ता को  मिस्ड कॉल देना होगा । इसके बाद कंट्रोल रूम में बैठे कांग्रेस के टेक्निशियन कॉल करने वाले  व्यक्ति से सम्पर्क करके उसके वोटर आईडी कार्ड से नंबर लेंगे। इस तरह मिलने वाली जानकारी को वेरीफाई करने के बाद उनका डाटा बेस तैयार किया जाएगा, फिर राहुल गांधी बात करेंगे।

loading...

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे