Report Exclusive, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India निहत्थे कांग्रेसियों-पत्रकारों पर लाठीचार्ज बर्बरता की पराकाष्ठा-कांग्रेस - Report Exclusive

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Tuesday, 18 September 2018

निहत्थे कांग्रेसियों-पत्रकारों पर लाठीचार्ज बर्बरता की पराकाष्ठा-कांग्रेस


दिल्ली-रायपुर। बिलासपुर कांग्रेस भवन लाठीचार्ज की कड़े शब्दों में निंदा करते हुये कांग्रेस विधायक दल के नेता टी.एस. सिंहदेव ने पूछा कि रघुपति राघव राजाराम गा रहे लाठीचार्ज का आदेश किसने दिया? दंडाधिकारी के आदेश से ही लाठीचार्ज होता है।

कांग्रेस भवन के अंदर जाकर लाठीचार्ज करना और महिलाओं, पत्रकारों को भी निशाना बनाना आरोप यह अमानवीय कृत्य करने वालों और उनके आकाओं की धारा 307-120बी के तहत तत्काल गिरफ्तारी की मांग कांग्रेस विधायक दल के नेता टी.एस. सिंहदेव ने की।

देश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल ने बिलासपुर में कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर कांग्रेस भवन में घुसकर निहत्थे कांग्रेस कार्यकर्ताओं महिलाओं एवं वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं पर मुख्यमंत्री रमन सिंह के इशारे पर किये गये लाठीचार्ज की निंदा करते हुये कहा कि रमन सिंह का असली चेहरा उजागर हो गया है। जिस प्रकार झीरम में हमारे नेताओं की हत्या कराई गई थी और उसी प्रकार आज बिलासपुर के कांग्रेस भवन में शांतिपूर्वक बैठे हुए कार्यकर्ताओं के साथ बदसलूकी हुई।

वहां महिलाओं को घसीट-घसीट कर पीटा गया, पार्टी के पदाधिकारियों पर लाठी से जानबूझकर सांघातिक वार किया गया, प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री अटल श्रीवास्तव का सर फोड़ा गया जो शांतिपूर्वक खड़े हुये थे। रमन सिंह के पुलिस वालों ने लाठी से उनका सर फोड़ा और नीचे गिर जाने के बावजूद उन पर लगातार लाठियां बरसाई गयी।

साथ ही वहां मौजूद सभी कांग्रेस कार्यकर्ताओं को बेदम पिटाई की गयी। थाने में ले जाकर भी कांग्रेस नेताओं को पीटा गया है। यह सब सीधे मुख्यमंत्री रमन सिंह के इशारे पर हुआ है। कार्यकर्ताओं को कांग्रेस भवन में घुसकर मारा गया है। उपस्थित मीडिया को चुनौती देते हुये कहा कि जिसको जो दिखाना है दिखाओं और लाठियां बरसाते रहे, जिसकी कांग्रेस पार्टी कड़ी निंदा करती है।

छत्तीसगढ़ के इतिहास में पहले कभी भी किसी राजनीतिक दलों के कार्यालय में घुसकर पुलिस ने मारपीट नहीं की गई, महिलाओं तक को घसीट-घसीट कर पीटा गया है जिसकी हम निंदा करते हैं और न्यायिक जांच की मांग करते हैं।

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे