Report Exclusive, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India टॉप 10 में से 7 कंपनियों का बाजार पूंजीकरण घटा,RIL को सबसे ज्यादा नुकसान - Report Exclusive

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Monday, 24 September 2018

टॉप 10 में से 7 कंपनियों का बाजार पूंजीकरण घटा,RIL को सबसे ज्यादा नुकसान


नई दिल्ली(जी.एन.एस) सेंसेक्स की शीर्ष 10 कंपनियों में से 7 के बाजार पूंजीकरण (मार्केट कैप) में पिछले सप्ताह कुल 89,779.67 करोड़ रुपये की कमी आई। रिलांयस इंडस्ट्रीज के बाजार पूंजीकरण में सबसे ज्यादा गिरावट रही। पिछले सप्ताह बॉम्बे शेयर बाजार का सेंसेक्स 1,249.04 अंक यानी 3.28 प्रतिशत की गिरावट के साथ 36,841.60 अंक पर बंद हुआ। टीसीएस, एचडीएफसी बैंक और ओएनजीसी को छोड़कर एसबीआई, मारुति सुजुकी इंडिया, एचडीएफसी और इन्फोसिस समेत अन्य 7 कंपनियों के बाजार पूंजीकरण में गिरावट रही।
रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) का बाजार पूंजीकरण 22,530.89 करोड़ रुपए घटकर 7,71,293.11 करोड़ रुपए रह गया। इसके बाद सबसे ज्यादा गिरावट एसबीआई के बाजार पूंजीकरण में रही। इसका बाजार मूल्यांकन 18,161.51 करोड़ रुपए गिरकर 2,41,008.49 करोड़ रुपए रहा। इसी प्रकार, मारुति सुजुकी का बाजार पूंजीकरण 17,922.23 करोड़ रुपए घटकर 2,42,858.77 करोड़ रुपए और एचडीएफसी का पूंजीकरण 13,524.56 करोड़ रुपए गिरकर 3,10,784.44 करोड़ रुपए रहा।

इन्फोसिस का बाजार पूंजीकरण 12,624.11 करोड़ रुपए गिरकर 3,08,538.89 करोड़ रुपए और आईटीसी का पूंजीकरण 3,178.98 करोड़ गिरकर 3,71,527.02 करोड़ रुपए रह गया। हिंदुस्तान यूनिलीवर का बाजार पूंजीकरण 1,837.39 करोड़ रुपए गिरकर 3,51,029.61 करोड़ रुपए रहा।
दूसरी ओर टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) का बाजार पूंजीकरण 15,506.65 करोड़ रुपए चढ़कर 8,05,455.65 करोड़ रुपए हो गया। ओएनजीसी का बाजार मूल्यांकन 9,240.57 करोड़ रुपए बढ़कर 2,31,126.57 करोड़ रुपए और एचडीएफसी बैंक का बाजार पूंजीकरण 6,095.67 करोड़ रुपए चढ़कर 5,34,530.67 करोड़ रुपए पर पहुंच गया। शीर्ष 10 कंपनियों में बाजार पूंजीकरण के लिहाज से टीसीएस पहले स्थान पर रही। उसके बाद आरआईएल, एचडीएफसी बैंक, आईटीसी, हिंदुस्तान यूनिलीवर, एचडीएफसी, इंफोसिस, मारुति सुजुकी, एसबीआई और ओएनजीसी का स्थान रहा।

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे