Report Exclusive, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India हनुमानगढ़:-मौसमी बीमारियों की रोकथाम के लिए जिले में चला सघन अभियान,Live... - Report Exclusive

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Monday, 15 October 2018

हनुमानगढ़:-मौसमी बीमारियों की रोकथाम के लिए जिले में चला सघन अभियान,Live...

Nohar(Hanumangarh)

- स्वास्थ्य कार्मिकों ने घर-घर जाकर की लोगों की स्वास्थ्य जांच
-  टंकियों, परिण्डों, डिब्बे, पुराने टायर, कूलर तथा पानी के पात्रों की जांच 
हनुमानगढ़। जिले में मौसमी बीमारियों की रोकथाम के लिए “स्वास्थ्य दल-आपके द्वार-2” कार्यक्रम आज जिले में शुरू कर दिया गया। ‘‘स्वास्थ्य दल आपके द्वार’’ कार्यक्रम में स्वास्थ्य कार्मिकों को शामिल कर बनाई गई टीम ने घर-घर जाकर लोगों को मच्छरों को भगाने व मौसमी बीमारियां जैसे डेंगू, मलेरियां, स्वाईन फ्लू, चिकनगुनिया एवं स्क्रब टाइफस जैसे रोगों से सावचेत रहने संबंधी जानकारियां प्रदान कर जागरूक किया गया। 
Rawatsar(Hanumangarh)

सीएमएचओ डॉ. अरूण कुमार ने बताया कि स्वाईन फ्लू, डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया, स्क्रबटाईफस के नियंत्रण एवं रोकथाम के लिए एएनएम, आशा सहयोगिनी सहित स्वास्थ्य कार्यकर्ता को सम्मिलित कर बनाई गई टीमों ने घर-घर जाकर लोगों को इन बीमारियों के प्रति लोगों को जाग्रत किया। यह अभियान आज सोमवार को पीलीबंगा, रावतसर, टिब्बी व नोहर क्षेत्र में आयोजित किया गया। कल हनुमानगढ़, भादरा व संगरिया जिले में भी अभियान को शुरू कर दिया जाएगा। अभियान के तहत गांव-गांव व ढ़ाणी-ढ़ाणी जाकर लोगों को मच्छरों के लार्वा स्त्रोतो के बारे में जानकारी दी गई। इसके अलावा साफ पानी के स्त्रोतों की भी जांच की गई। लोगों को बताया गया कि पानी को इकट्ठा ना होने दें, इनमें लार्वा पनपते हैं। ऐसी जगहों पर मौके पर ही टेमीफोस डाला गया। गंदे पानी के गड्डो में जला हुआ तेल डाला गया व मच्छरों को मारने के लियें फोगिंग और पायरेथ्रियम का स्प्रे किया गया। 
Sangria(Hanumangarh)

डॉ. सुरेश चौधरी ने बताया कि स्वास्थ्य दलों द्वारा अन्य विभागों के साथ समन्वय स्थापित कर एन्टीलार्वल गतिविधियां सम्पन्न करवाई जा रही है। टीमों द्वारा पानी के स्त्रोंतों की साफ-सफाई करवाई गई। शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में गठित टीमों ने घर-घर जाकर टंकियों, परिण्डों, डिब्बे, पुराने टायर, कूलर तथा पानी के पात्रों की जांच की। उन्होंने बताया कि कई जगहों पर टीम ने भरे पानी कण्टेनरों को खाली कराया और कई स्थानों पर टेमीफोस का सोल्यूशन डलवाया गया। उन्होंने बताया कि कई हाई रिस्क एरिया में विशेष ध्यान दिया गया। वहां रह रहे लोगों को मौसमी बीमारियों से बचाव हेतु प्रचार-प्रसार वितरित कर उन्हें जागरूक किया गया। उन्होंने बताया कि मौसमी बीमारियों के बचाव हेतु चिकित्सा विभाग द्वारा की जाने वाली सोर्स रिडक्शन एक्टिविटी से 70 प्रतिशत तक डेंगू व मलेरिया रोग होने से रोका जा सकता है। 
Tibbi(Hanumangarh)


सावधानी रखें व अहतियात बरतें
स्वास्थ्य दलों द्वारा लोगों को मौसमी बीमारियों से बचने के लिए विशेष अहतियात बरतने की सलाह दी गई। गन्दगी भरे क्षेत्रों में रह रहे लोगों को बताया कि वह अपने घरों के आस-पास पानी को जमा ना होने दें। वहां पर बने हुए गड्ढों में मिट्टी डालकर उन्हें सही करवाएं। घरों के आसपास बनी हुई नालियों में जला हुआ तेल या कैरोसीन आदि डालें ताकि वहां लार्वा ना पनप सके। घरों के आसपास पुराने टायर, कबाड़ व वह स्थान जहां बारिश का पानी जमा हो उन्हें खाली करवाकर साफ करवाएं। घरों में काम आने वाले मटकों के नीचे वाले बर्तन, गमले, फूलदान आदि के पानी को समय-समय पर खाली करते रहें। कूलर, फ्रीज के पीछे की ट्रे, घर के बाहर रखी पानी की टंकी व परिण्डों को भी नियमित अंतराल में साफ करते रहते की जानकारी दी गई। इसके अलावा उन्हें प्रचार-प्रसार सामग्री भी दी गई

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे