Report Exclusive, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India #Expose #Special #Episode 03 हनुमानगढ़ बीजेपी प्रत्याशी व उसके भाई ने किसान को इतना सताया की इच्छामृत्यु तक मांगनी पड़ी... - Report Exclusive

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Wednesday, 5 December 2018

#Expose #Special #Episode 03 हनुमानगढ़ बीजेपी प्रत्याशी व उसके भाई ने किसान को इतना सताया की इच्छामृत्यु तक मांगनी पड़ी...


हनुमानगढ़(कुलदीप शर्मा) कुछ चीजें ऐसी होती है जो मतदाताओ को जाननी बहुत जरूरी होती है ताकि उन्हें पता चल सके कि हम जिसे विधानसभा में भेजा है वो कैसा है और उसने पिछले कार्यकाल में क्या किया है.


 क्षेत्र हनुमानगढ़ में बीजेपी से मंत्री रहे डॉ. रामप्रताप सहु के प्रताड़ना के कई मामले सामने आए थे जिसके बाद से मीडिया में भी चर्चाओ का दौर शुरू होता रहा है। एक ऐसा ही मामला उनके पैतृक गांव जोड़किया से भी जुड़ा हुआ आया था।उसी मामले ने जिले भर में चर्चा का बाजार गर्म करवा दिया था! हालांकि और भी कई ऐसे मामले थे जिसके चलते आमजन में नाराजगी का माहौल बन चुका था! मंत्री डॉ. रामप्रताप व उनके भाई पर ब्राह्मण परिवार को प्रताड़ित करने का मामला भी सामने आया था।जानकार सूत्रों की माने तो जिसके बाद से ही ब्राह्मण समाज के काफी जनो में डॉ. रामप्रताप सहु का विरोध देखने को मिला था!

ब्राह्मण समाज के परिवार ने मांगी थी इच्छामृत्यु..
.....
गांव जोड़किया के ही बनवारीलाल ब्राह्मण ने जिला कलेक्टर को ज्ञापन सौंपकर मंत्री डॉक्टर रामप्रताप व उनके भाई पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाते हुए इच्छामृत्यु की मांग रखी थी। इस खबर ने ब्राह्मण समाज को कहीं ना कहिं अंदर से झकझोरा जरूर होगा। बताया गया था कि करीबन 25 बीघा भूमि बड़े जमीदारो द्वारा कुर्क करवा रखी है। इसलिए वह दाने-दाने को मोहताज हो रखा था। इसी से परेशान होकर इच्छामृत्यु की मांग रखी गयी थी।


आवास से बेदखल तक करवाने की भी करी साजिश...
....
ब्राह्मण समाज के व्यक्ति जोड़किया निवासी बनवारीलाल को प्रताड़ित करने में कोई कसर नहीं छोड़ी गई थी। उस समय दिए ज्ञापन में पीड़ित बनवारी लाल ने बताया कि उसकी जमीन तो कुर्क करवा ही रखी थी बल्कि उसके एकमात्र रिहायशी आवास से भी बेदखल करने का प्रयास किया गया था जिसके बाद चारो तरफ से परेशान होकर ब्राह्मण परिवार ने इच्छामृत्यु मांगी थी।

रिटायर्ड अधिकारियों से जांच की रखी थी मांग...
...
इसी मामले में ब्राह्मण परिवार ने इच्छामृत्यु मांगते समय ये भी मांग रखी कि अगर मुझे मेरा हक़ दिलाया जाता है तो वो सिर्फ कोई रिटायर्ड कर्मचारी ही ईमानदारी से जांच कर सकता है। ब्राह्मण परिवार ने बताया था कि उन्हें ऐसे न्याय नहीं मिल सकता क्योंकि केबिनेट मंत्री रामप्रताप के दबाब में रहेंगे सारे अधिकारी। निष्पक्ष जांच के लिए रिटायर्ड ईमानदार कर्मचारी से करवाने की मांग रखी थी।


ब्राह्मण समाज भी दे सकता है अंदरूनी टक्कर..
....
जोड़किया गांव में हुए मामले से मीडिया में चर्चा बनने के बाद इस बात से भी मुंह नहीं फेरा जा सकता कि इस मामले ने ब्राह्मण समाज को आहत ना किया हो। अब ये देखने वाली बात रहेगी कि ब्राह्मण समाज इस मामले को भुनाता है या डॉ. रामप्रताप के साथ रहकर उन्हें जीत में सहयोग करता है...!लेकिन अपुष्ट सूत्रों की माने तो मामला हड़बड़ ही हैं...!


खुलासे लगातार रहेंगे जारी...
...
रिपोर्ट एक्सक्लूसिव की टीम प्रत्याशियों के विकास व उनसे जुड़े मुद्दों को खंगालने में लगी हुई है। विकास के दावो की क्या है हक़ीक़त पर भी हम आमजन तक खबरे लाते रहे है। आगे भी दो दिन दिनभर खबरों का फटाफट अंदाज आपको देखने को मिलेगा। हालांकि हमे भी पता है कि हम रिस्क पॉइंट पर बैठ कर आमजन के हितों की बात करते है। रिपोर्ट एक्सक्लूसिव स्वतन्त्र पत्रकारिता करने का भरसक प्रयास कर रहा है इसी के चलते किसी हमले का शिकार भी हो जाये तो कोई बड़ी बात नहीं होगी!

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे