Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India एनएमपीजी कॉलेज में "गांधी दर्शन की वर्तमान जीवन में प्रासंगिकता" विषय पर हुआ संगोष्ठी का आयोजन - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Tuesday, 10 August 2021

एनएमपीजी कॉलेज में "गांधी दर्शन की वर्तमान जीवन में प्रासंगिकता" विषय पर हुआ संगोष्ठी का आयोजन


एनएमपीजी कॉलेज में "गांधी दर्शन की वर्तमान जीवन में प्रासंगिकता" विषय पर हुआ संगोष्ठी का आयोजन


9 से 15 अगस्त तक जिले भर में आयोजित किए जाएंगे विभिन्न कार्यक्रम

हनुमानगढ़, । महात्मा गांधी की 150 वी जयंती एवं स्वतंत्रता दिवस के 75 वीं वर्षगांठ के उपलक्ष पर अगस्त क्रांति सप्ताह के दूसरे दिन जिला मुख्यालय पर टाउन स्थित एनएमपीजी कॉलेज में "गांधी दर्शन की वर्तमान जीवन में प्रासंगिकता" विषय पर संगोष्ठी का आयोजन हुआ। जिसमें मुख्य अतिथि हनुमानगढ़ पंचायत समिति के पूर्व प्रधान व प्रगतिशील किसान श्री दयाराम जाखड़ और विशिष्ट अतिथि श्री मनीष धारणियां,महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती को लेकर जिला स्तर पर गठित समिति के सह संयोजक श्री तरूण विजय, पार्षद श्री मनोज सैनी और सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी श्री सुरेश बिश्नोई थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता कॉलेज प्राचार्य डॉ नरेन्द्र सिंह भांभू ने की। रेयॉन कॉलेज के प्रिसिंपल डॉ संतोष राजपुरोहित और पीलीबंगा से आए व्याख्याता श्री लीलाधर ने गांधी जी के दर्शन पर विस्तार से प्रकाश डाला।मंच संचालन कॉलेक के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ विनोद जांगीड़ ने किया। 
                                कार्यक्रम को संबोधित करते हुए गांधीजी की 150 वीं जयंती को लेकर गठित जिला स्तरीय समिति के सह संयोजक श्री तरूण विजय ने कहा कि हमारे प्रदेश के गांधीवादी मुूख्यमंत्री जी ने गांधी जी के दर्शन सत्य, अहिंसा, सत्याग्रह, सर्वाेदय, ट्रस्टीशिप, स्वराज इत्यादि को जन जन तक पहुंचाने के लिए ये आयोजन प्रदेश भर में करवाया जा रहा है। गांधी के दर्शन की आज भी उतनी ही प्रासंगिकता है जितनी पहले थी। युवा वर्ग को गांधीजी के बारे में विस्तार से पढ़ना चाहिए ताकि उनके बताए मूल्यों को अपने जीवन में आत्मसात करके जीवन को सफल बना सके।    
                                कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पंचायत समिति के पूर्व प्रधान श्री दयाराम जाखड़ ने कहा कि गांधी के दर्शन सत्य और अहिंसा पर आज पूरे विश्व को चलने की आवश्यकता है। गांधी के सिद्धांत आज भी प्रासंगिक हैं। हमारे राज्य के मुख्यमंत्री खुद गांधीवादी हैं। आज युवा वर्ग को गांधी के मार्ग पर चलने की आवश्यकता है। 
                               कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि श्री मनीष धारणियां ने कार्यक्रम में संबोधित करते हुए कहा कि गांधी का दर्शन आज भी पूरे विश्व के लिए प्रासंगिक है। इसमें कोई दो राय नहीं। विश्व की बहुत सी समस्याओं का हल सत्य और अहिंसा से हो सकता है। अफ्रीकी नेता श्री नेल्सन मंडेला, अमरिकी राष्ट्रपति श्री बराक ओबामा समेत विश्वभर में गांधी की शिक्षाओं को याद किया जाता है। विश्व का ऐसा कोई देश नहीं जहां गांधी का स्टेच्यू नहीं बना हो।
                              सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी श्री सुरेश बिश्नोई ने कहा कि महात्मा गांधी की शिक्षा आज के लिए प्रासंगिक और जरूरी है इसीलिए सरकार ने गांधीजी की 150वीं जयंती को दो वर्ष तक मनाने का फैसला किया। माननीय मुख्यमंत्री चाहते हैं कि युवाओं को गांधी की सत्य और अहिंसा समेत अन्य दर्शन के बारे में विस्तार से पता चले। उन्होने युवा वर्ग को गांधी द्वारा रचित ''सत्य के साथ मेरे प्रयोग'' और भगवदगीता जिसे गांधी खुद भी पढ़ा करते थे इन दोनों किताबों को पढ़ने का आह्वान किया। 
                             कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ नरेन्द्र सिंह भांभू ने गांधी के दर्शन की प्रासंगिकता को बताते हुए जानकारी दी कि जल्द ही कॉलेज लाइब्रेरी में गांधी कॉर्नर अलग से शुरू किया जाएगा। जिसमें गांधी दर्शन से संबंधित किताबें ही होंगी। इससे पहले रेयॉन कॉलेज प्रिंसिपल डॉ संतोष राजपुरोहित, पीलीबंगा कॉलेज से आए व्याख्याता श्री लीलाधर और एनएमपीजी कॉलेज के व्याख्याता श्री सिद्धार्थ राव ने गांधी जी के दर्शन पर विस्तार से प्रकाश डालते हुए उनकी शिक्षाओं को वर्तमान के लिए भी अति प्रासंगिक बताया। छात्र नेता श्री आशीष गौतम ने कहा कि वे पहले स्टूडेंट लाइफ में गांधी जी को कभी नहीं माना। लेकिन फिर एक सज्जन पत्रकार ने गांधी के बारे में पढ़ने को कहा तो गांधी को पढा। फिर ये आभास हुआ कि गांधी जी को पढ़ने की ही बल्कि गांधी की शिक्षाओं को अपने जिंदगी में आत्मसात करने की सख्त आवश्यकता है। 

बुधवार को होगा साइकिल रैली का आयोजन-
                          अतिरिक्त जिला कलक्टर श्री रामरतन सौंकरिया ने बताया कि अगस्त क्रांति सप्ताह के अंतर्गत तय कार्यक्रम के अनुसार तीसरे दिन 11 अगस्त को सुबह 7 बजे साइकिल रैली का आयोजन जंक्शन में भगत सिंह चौक से टाउन भारत माता चौक तक किया जाएगा। 
                            
अगस्त क्रांति सप्ताह के अन्य कार्यक्रम - 
                         अतिरिक्त जिला कलक्टर श्री रामरतन सौंकरिया ने बताया कि 12 अगस्त को सुबह 7 बजे श्रमदान का आयोजन वार्ड नंबर 37 हनुमानगढ़ टाउन रेलवे स्टेशन के सामने रखा गया है। 13 अगस्त को सुबह 7:00 बजे पौधरोपण का कार्यक्रम जंक्शन स्थित पुरानी कलेक्ट्रेट परिसर में बनी हुई बा-बापू वाटिका में, 14 अगस्त को सुबह 6:30 बजे क्रिकेट मैच का आयोजन प्रशासन एवं न्याय विभाग के मध्य बेबी हैप्पी मॉडर्न पीजी कॉलेज जंक्शन में, 15 अगस्त को रक्तदान शिविर का आयोजन शाम 4:00 बजे राजकीय जिला चिकित्सालय में किया जाएगा। एडीएम ने बताया कि इसी तरह 20 से 26 अगस्त तक विभिन्न कार्यक्रम आयोजित होंगे।

कार्यक्रम में इनकी रही उपस्थिति-
                          कार्यक्रम में गांधीजी की 150 वीं जयंती को लेकर गठित जिला स्तरीय समिति के सह संयोजक श्री तरूण विजय, पूर्व प्रधान श्री दयाराम जाखड़, श्री मनीष धारणियां, पार्षद श्री मनोज सैनी, सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी श्री सुरेश बिश्नोई, कॉलेज प्राचार्य डॉ नरेन्द्र सिंह भांभू, रेयॉन कॉलेज प्रिंसिपल डॉ संतोष राजपुरोहित, पीलीबंगा कॉलेज से आए व्याख्याता श्री लीलाधर, एनएमपीजी कॉलेज के डॉ रामपाल अहरोदिया, व्याख्याता श्री सिद्धार्थ राव, श्री रोहित बिश्नोई, श्री सुरेन्द्र शर्मा, श्री विवेक शर्मा, श्री गुरमेल सिंह, श्रीमती भावना बेनीवाल, श्रीमती भागवंती, श्रीमती मंदीप कौर समेत एनसीसी, एनएसएस, स्काउट एंड गाइड के वॉलेटियर्स समेत कॉलेज के अन्य स्टूडेंट्स उपस्थित थे। 

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे