Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India नशे के चंगुल में फंसे अपने बच्चो को ईलाज के लिए आगे आएं - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Friday, 27 May 2022

नशे के चंगुल में फंसे अपने बच्चो को ईलाज के लिए आगे आएं

 नशे के चंगुल में फंसे अपने बच्चो को ईलाज के लिए आगे आएं


श्रीगंगानगर, । संभाग स्तरीय मंशा नशामुक्ति अभियान के अंतर्गत जिला कलक्टर श्रीमती रुक्मणि रियार सिहाग व जिला पुलिस श्री अधीक्षक आनंद शर्मा के निर्देशानुसार नशामुक्ति जनजागृति कार्यशाला  पुलिस थाना सूरतगढ़ शहर द्वारा महाराजा अग्रसेन भवन में आयोजित हुई।
इस अवसर पर मुख्य वक्ता के रूप में राजकीय नशा मुक्ति परामर्श एवम् उपचार केंद्र के प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ. रविकांत गोयल ने बायोकेमिकल एंड मॉलिक्युलर टॉक्सिकोलॉजी जर्नल में प्रकाशित एक शोध के हवाले से बताया कि लीवर कैंसर दुनिया भर में कैंसर से संबंधित मौत का तीसरा प्रमुख कारण है। यह पुरुषांे में पांचवा और महिलाओं में सातवां सबसे अधिक बार होने वाला कैंसर है। दुनिया भर में रिपोर्ट किए गए चार प्रमुख कैंसरों में लीवर कैंसर के 7 लाख से अधिक नए मामलों की पुष्टि हुई है। वही विश्व में सालाना 6 लाख से अधिक मौत इसी बीमारी से होती है। लीवर कैंसर का प्रमुख कारण शराब का सेवन है। लंबे समय तक गोदामों में रखे अनाज का इस्तेमाल करने से खाने में फंफूद उत्पन्न होने संभावना रहती है। ऐसे अनाज के इस्तेमाल से भी लीवर कैंसर की प्रबल संभावना रहती है। नशाखोरी के कारण नई पीढ़ी का जीवन अंधकारमय हो रहा है।
शिक्षा विभाग के प्रतिनिधि समाजसेवी मुनीश कुमार लड्ढा ने कहा कि नशा करने वाले नवयुवक सबसे पहले अपने ही परिवार पर चोट करते है। नशे की पूर्ति के लिए घरेलू सामान तक बेच डालते है। ऐसे परिवार भी लोकलाज के चलते समाज को यह नही बताते कि उनका जवान बेटा नशे का शिकार हो चुका है और लोकलाज़ के कारण नशा करने वाले बेटे के उपचार की ओर भी ध्यान नहीं देते । ऐसे अनेक मामलों में नशा करने वाले नौजवानों की वजह से उनका परिवार बर्बादी के कगार पर पहुंच गया।
            इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में शिक्षाविद् प्रवीण भाटिया ने कहा जो शिक्षा, सामाजिक सरोकारों से ना जुड़ी हो, वह व्यर्थ है। इससे अच्छा अनपढ़ रह जाना है। हम शिक्षित होकर आम गरीब, अंतिम पंक्ति में बैठे व्यक्ति की पीड़ा को समझकर उसके काम आएं। आज नशे की बढ़ती सामाजिक समस्या के दौर में मंशा अभियान के मजबूत हाथ बनकर पूरे इलाके को नशामुक्त करने के लिए काम आएं। आज का नौजवान देश भक्तांे के स्थान पर गुंडे मवालियों को अपना रोल मॉडल समझता है। लेकिन याद रखे किसी गुंडे मवाली की जिंदगी बहुत छोटी होती है। अच्छे लोगों को अपना रोल मॉडल मानकर जीवन में समाज के लिए काम आने का आह्वान किया।
  थानाधिकारी रामकुमार लेघा ने शहरवासियों से आह्वान किया कि वे अपने युवा होते बच्चों की हर हरकत पर सावधानी से नजर रखे। उन्हे अच्छे संस्कारों से जोड़े। किसी संस्थान में भर्ती करवा कर चैन की नींद न सो जाएं। समय-समय पर  उनकी हर एक्टिविटी पर नजर रखे। नौजवान  जो अवैध रूप से नशा बेचते है, उनकी सूचनाएं सी. एल. जी. सदस्यांे, शिक्षकों, बीट कांस्टेबल, थानाधिकारी के माध्यम से साझा करें ताकि पुलिस प्रशासन उनके विरुद्ध प्रभावी कार्यवाही कर सकंे

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे