Report Exclusive, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India जिले का पात्र एक भी बच्चा खुराक से वंचित न रहे, तीन फरवरी को विशेष अभियान - जिला कलक्टर श्रीगंगानगर - Report Exclusive

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Tuesday, 15 January 2019

जिले का पात्र एक भी बच्चा खुराक से वंचित न रहे, तीन फरवरी को विशेष अभियान - जिला कलक्टर श्रीगंगानगर


0 से 5 वर्ष के बच्चो को पिलाई जायेगी दवा


श्रीगंगानगर। जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने कहा कि आगामी तीन फरवरी को जिले के 0 से 5 वर्ष तक आयु के समस्त बच्चों को पल्स पोलियों अभियान के तहत खुराक पिलाई जायेगी। राष्ट्रीय कार्यक्रम में कोई भी बच्चा खुराक से वंचित न रहे, ऐसी व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाये।
जिला कलक्टर मंगलवार को कलेक्ट्रेट सभाहॉल में पल्स पोलियों अभियान की जिला टास्क फोर्स की बैठक में आवश्यक निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि तीन फरवरी को प्रत्येक बूथ पर दवा पिलाई जायेगी। 4 व 5 फरवरी को डोर-टू-डोर जाकर वंचित बच्चों को दवा पिलाई जायेगी। उन्होंने कहा कि अधिकांश बच्चे बूथ पर आये, ऐसी तैयारी की जाये। फिर भी किसी कारण से कोई बच्चा बूथ पर नही पहुंचता है तो उसे घर जाकर दवा पिलाई जायेगी।
प्रशिक्षण में कोई अनुपस्थित न रहे
उन्होंने कहा कि पल्स पोलियो अभियान की सफलता के लिये आंगनबाड़ी कार्यक्रताओं, एएनएम इत्यादि को प्रशिक्षण दिया जायेगा, जिसमें शत-प्रतिशत उपस्थिति सुनिश्चित की जाये। प्रशिक्षण में अनुपस्थित रहने या उपस्थिति लगाकर जाने वाले कार्मिकों के विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी। जिले के एसडीएम व विकास अधिकारी प्रशिक्षण कार्यक्रमों का निरीक्षण करेगें।
सभी पोलियो बूथ खुले मिले
जिला कलक्टर ने निर्देश दिये है कि जहां-जहां पल्स पोलियो खुराक पिलाने के केन्द्र बनाये गये है, वे प्रातः से ही खुले मिलने चाहिए। एक दिन पूर्व साफ-सफाई पेयजल की व्यवस्था होनी चाहिए तथा पर्याप्त फर्नीचर उपलब्ध करवाया जाये। पल्स पोलियो अभियान एक राष्ट्रीय कार्यक्रम है। इसके लिये कोई भी संस्था प्रधान चाहे वह सरकारी हो या गैर सरकारी इंकार नही करेगे और न ही बच्चों को पोलियो रोधी दवा पिलाने के लिये मना करेगें। ऐसा करने वालो के विरूद्ध तत्काल प्रभावी कार्यवाही अमल में लाई जायेगी।
विधालयों में प्रार्थना सभाओं में दे जानकारी
जिला कलक्टर ने कहा कि 3 फरवरी को पल्स पोलियो अभियान की जानकारी घर-घर पहुंचे, इसके लिये जिला शिक्षा अधिकारी यह व्यवस्था सुनिश्चित करे कि प्रार्थना सभाओं में इस अभियान की तिथि की जानकारी दी जाये, जिससे बच्चे घर में जाकर अपने अभिभावकों को तिथि की जानकारी देगें। पल्स पोलियो अभियान से एक दिन पूर्व रैलियां आयोजित की जाये। सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत संचालित दुकानों के बाहर भी 3 फरवरी को पोलियो खुराक पिलाने संबंधी सूचनाएं चस्पा की जाये। ग्रामीण क्षेत्रा में धार्मिक व सामाजिक संस्थाओं के माध्यम से भी आमजन को 3 फरवरी को दवा पिलाने की जानकारी दी जाये।
जिला कलक्टर ने बताया कि भारत में लगभग पोलियो समाप्त हो चुका है, लेकिन पाकिस्तान, अफगानिस्तान व नाईजीरिया में अभी भी पल्स पोलियो के विषाणु व्याप्त है। जिला कलक्टर ने कहा कि 1 से 6 फरवरी तक चिकित्सा विभाग में किसी तरह का अवकाश स्वीकृत नही किया जायेगा। उन्होंने कहा कि जिले में संचालित ईंट भट्टा मजदूरों के बच्चों, बस अड्डा, रेलवे स्टेशन तथा दूर दराज के वाशिंदो तक पहुंचकर पोलियोरोधी खुराक पिलाई जाये।
बैठक में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. नरेश बंसल, क्षेत्राय उपनिदेशक सुश्री ऋषिबाला श्रीमाली, पीएमओ डॉ. पवन सैनी, डॉ. प्रीत मोहिन्दर सिंह, सहायक निदेशक समाज कल्याण श्री बी.पी. चंदेल, जिला रसद अधिकारी श्री पार्थ सारथी सहित विभिनन विभागों के अधिकारी उपस्थित थे। 

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे