Report Exclusive, Lok Sabha Elections 2019: Latest News, Photos, and Videos on India General Elections, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India निर्माण विकास कार्यों की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देवेंः- शिक्षा राज्यमंत्री - Report Exclusive

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Thursday, 31 January 2019

निर्माण विकास कार्यों की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देवेंः- शिक्षा राज्यमंत्री


प्रभारी मंत्री ने ली जिला स्तरीय अधिकारियों की बैठक
निर्माण, विकास के लिये प्राप्त राशि का समायोजन करें

श्रीगंगानगर। शिक्षा राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री गोविन्द सिंह डोटासरा ने कहा कि विभागों के पास सरकार द्वारा संचालित योजनाएं है, उनके लक्ष्य समय रहते शत-प्रतिशत पूरे किये जाये। उन्होंने कहा कि निर्माण व विकास कार्यों की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है।
प्रभारी मंत्रा बुधवार को कलेक्ट्रेट सभा हॉल में जिला स्तरीय अधिकारियों की बैठक में आवश्यक निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि जिले में नशे की प्रवृति पर अंकुश लगाने के लिये पुलिस विभाग को एक टास्क फोर्स का गठन करना होगा, जो अचानक कही भी कार्यवाही करने में सक्षम हो। उन्होंने कहा कि नशा एक ऐसी बुराई है, जो समाज को खोखला कर देता है। हम सभी को मिलकर इस बुराई के विरूद्ध लड़ना है।
उन्होंने कहा कि शहर में यातायात सुगम व सुव्यवस्थित हो, इसके लिये यातायात सलाहाकार समिति में जनप्रतिनिधियों को आमंत्रित कर एक प्लान तेयार किया जाये, जिससे आमजन को राहत मिलें तथा पर्यावरण की रक्षा की जा सकें। उन्होंने शहर में चल रहे थ्री विलर की संख्या को जाना तथा बाल वाहिनियों के निरीक्षण के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि बाल वाहिनियों की फिटनेस की जांच समय-समय पर होनी चाहिए।
शिक्षा राज्यमंत्रा ने चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिये कि स्वाईन फल्यू की प्रभावी रोकथाम के लिये आमजन में जागरूकता बढाई जाये। चिकित्सा विभाग के पेरामेडिकल स्टॉफ को डोर-टू-डोर भेजकर आमजन के स्वास्थ्य को जानने तथा उन्हें जागरूक करने का कार्य किया जाये। उन्होंने संस्थागत प्रसव बढाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार निशुल्क दवा एवं निशुल्क जांच योजना को लेकर गंभीर है। जिला चिकित्सालय से लेकर ग्राम स्तर तक के चिकित्सालयों में पर्याप्त मात्रा में दवाएं उपलब्ध होनी चाहिए। उन्होंने औषधि विभाग को निर्देशित किया कि कही भी अमानक दवाओं का विक्रय न हो, इसके लिये लगातार नमूने लिये जाये।
श्री डोटासरा ने पंचायती राज विभाग को निर्देश दिये कि कार्य पूर्ण होने पर उसकी यूसी व सीसी जारी की जाये तथा जारी की गई राशि का समायोजन शीघ्र किया जाये। जब तक राशि का समायोजन नही होगा, तब तक ओर राशि आवंटित नही होगी। उन्होंने इस कार्य को गंभीरता से पूर्ण करने के निर्देश दिये। प्रभारी मंत्रा ने विधालयों में नामांकन बढाने तथा जिन विधालयों में विधुत कनेक्शन नही है, वहां विधुत उपलब्ध करवाने के निर्देश दिये। दूध योजना की बकाया राशि के लिये बजट की मांग करने के लिये कहा गया।
उन्होंने जिले में यूरिया व डीएपी खाद की उपलब्धता पर चर्चा की। विधुत विभाग को निर्देश दिये कि दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण विधुत योजना व सौभाग्य योजना में कोई भी ढाणी या घर बिना बिजली के नही रहने चाहिए। उन्होंने श्रम विभाग को निर्देश दिये कि एक करोड़ रूपये से अधिक के प्राप्त बजट को शुभशक्ति योजना के पात्रा लाभार्थियों को राशि जारी की जाये। उन्होंने आरयूआईडीपी द्वारा संचालित सीवरेज कार्य की धीमी गति पर नाराजगी जताई। उन्होंने कहा कि आमजन को परेशानी न हो, इसके लिये कार्य में तेजी लाई जाये।
पूर्व राज्यमंत्रा एंव करणपुर विधायक श्री गुरमीत सिंह कुन्नर ने कहा कि नरेगा योजना में बहुत कम श्रमिक लगे हुए है। उन्होंने कहा कि ग्रामीणों की जरूरत के अनुसार श्रमिकों की संख्या में बढोतरी की जाये। उन्होंने कैमिकल युक्त नशे के दुष्प्रभावों पर प्रकाश डालते हुए इस पर प्रभावी कार्यवाही पर बल दिया। उन्होंने कहा कि नशे के बडे सप्लायरों को पकड़ा जाये। श्री कुन्नर ने पेयजल परियोजनाओं में सीधे ही रा वॉटर सप्लाई नही करने तथा फिल्टर के बाद ही पानी आपूर्ति करने की बात कही। उन्होंने कहा कि गत विधानसभा चुनाव के दौरान निर्मित सड़कों की गुणवत्ता की जांच की जाये।
गंगानगर विधायक श्री राजकुमार गौड ने कहा कि इस क्षेत्रा में नशा पूरी तरह पैर पसार चुका है। इसके विरूद्ध लगातार कार्यवाही की जाये। उन्होंने कहा कि शहर में यातायात व्यवस्था को ठीक करने के लिये जल्द ही रोड सेफ्टी की बैठक आयोजित की जाये। उन्होंने स्वाईन फल्यू रोग के संबंध में किये जा रहे सर्वे के कार्य में तेजी लाने पर बल दिया। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्रा में नकली दवाएं न बिके, इसके लिये विभाग को अधिक ध्यान देने की जरूरत है। श्री गौड ने अधिकारियो से कहा कि कार्यालयों की बजाय क्षेत्रा का दौरा करें तथा आमजन की समस्याओं को सुनकर उन्हें दूर करने का प्रयास करें। उन्होंने जरूरत के अनुसार श्रमिकों को महात्मा गांधी नरेगा में रोजगार देने तथा वंचित ढाणियों के नागरिकों को विधुत कनेक्शन देने के कार्य में तेजी लाने पर बल दिया।
बैठक में पुलिस अधीक्षक श्री हेमेन्त शर्मा, एडीएम प्रशासन श्री नख्तदान बारहठ, नगरपरिषद के सभापति श्री अजय चांडक, प्रधान श्रीमती परमेश्वरी देवी, सूरतगढ़ नगरपालिका की अध्यक्ष श्रीमती काजल छाबडा, अनूपगढ से श्रीमती निर्मला सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी व जनप्रतिनिधि उपस्थित थे। 

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे