Report Exclusive, Lok Sabha Elections 2019: Latest News, Photos, and Videos on India General Elections, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India भीषण गर्मी में पेयजल विभाग नियमित आपूर्ति करे व विद्युत विभाग सर्तक रहें-अतिरिक्त जिला कलेक्टर श्रीगंगानगर - Report Exclusive

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Tuesday, 4 June 2019

भीषण गर्मी में पेयजल विभाग नियमित आपूर्ति करे व विद्युत विभाग सर्तक रहें-अतिरिक्त जिला कलेक्टर श्रीगंगानगर


भीषण गर्मी में पेयजल व विधुत विभाग सर्तक रहें
विश्व पर्यावरण दिवस पर न्यायालय परिसर में होगा वृक्षारोपण
श्रीगंगानगर।(सतवीर सिह मेहरा) अतिरिक्त जिला कलक्टर श्री ओ.पी.जैन ने कहा कि भीषण गर्मी के दौरान विधुत एवं पेयजल विभाग उपभोक्ताओं को विधुत व पानी की नियमित आपूर्ति बनाये रखें। जहां कही भी समस्या सामने आती है, उसका तत्काल यथासम्भव निदान करें।
श्री जैन मंगलवार को कलेक्ट्रेट सभाहॉल में आयोजित जिला स्तरीय अधिकारियों की बैठक में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि विधुत विभाग के पास ट्रांसफार्मर जलने या लाईन ट्रिपिंग की समस्या आने पर उसका निदान करें तथा जिले में नीचे स्तर के कनिष्ठ एवं सहायक अभियंताओं को सर्तक रखें।
उन्होंने कहा कि लोकतांत्रिक प्रणाली में किसी भी नागरिक को अपनी बात कहने का अधिकार है। ऐसे में नगरपरिषद, नगरविकास न्यास व एसडीएम गंगानगर ऐसी जगह का चिन्हिकरण करेंगे, जहां प्रदर्शन कर अपनी बात को बताया जा सकता है। उन्होंने नगरपरिषद को निर्देश दिये कि शहर में पानी निकासी की बडी बाधा नालों में कचरे का होना है। जिला प्रशासन द्वारा लगाये गये अधिकारियों की रिपोर्ट में भी यही बात सामने आयी है। वर्षा प्रारम्भ होने से पूर्व सभी मुख्य नालों व नालियों की सफाई का कार्य पूर्ण कर लिया जाये।
आज विश्व पर्यावरण दिवस
एडीएम प्रशासन श्री जैन ने कहा कि 5 जून को विश्व पर्यावरण दिवस  है, इसके लिये न्यायालय परिसर में प्रातः 7 बजे वृक्षारोपण का कार्यक्रम रखा गया है, जिसमें सभी जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहेगें। उन्होंने कहा कि आने वाली पीढी को शिक्षित बनाने के साथ-साथ अच्छा पर्यावरण देने के उद्देश्य से प्रत्येक नागरिक को एक-एक पौधा अवश्य लगाना चाहिए।
कचरा नही जलाये
एडीएम श्री जैन ने स्थानीय निकायों के अधिकारियों से कहा कि वे सफाई कार्मिकों को पाबन्द करें कि कचरे को कभी नही जलाये। इसके अलावा आमजन में भी इस बात की जागृति लाई जाये कि कचरा जलाने से पर्यावरण प्रदूषित होता है। कचरे का विधिवत निस्तारण करना ही एकमात्र उपाय है। पूरा पर्यावरण शुद्ध रहे, इसके लिये मानसिकता में बदलाव की आवश्यकता है। प्रत्येक नागरिक को यह सोचना होगा कि पर्यावरण प्रदूषित न हो, इसके लिये हर एक की भागीदारी आवश्यक है।
उन्होंने हेल्पलाईन 181, महिला बाल विकास विभाग, शिक्षा सहित अन्य विभागों की प्रगति की समीक्षा की।
बैठक में एडीएम शहर श्री राजवीर सिंह, एसडीएम श्री मुकेश बारहठ, सीएमएचओ डॉ. नरेश बंसल, पीएमओ डॉ. के.एस.कामरा, विधुत विभाग के अधीक्षण अभियंता श्री के.के.कस्वा, पेयजल के अधीक्षण अभियंता श्री अशोक गुप्ता, जिला रसद अधिकारी श्री राकेश सोनी, उपवन सरंक्षक श्री पयोंग शशि सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे। 

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे