Report Exclusive, Lok Sabha Elections 2019: Latest News, Photos, and Videos on India General Elections, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India गांव 6 पी में आयोजित हुई रात्रि चौपाल - Report Exclusive

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Friday, 12 July 2019

गांव 6 पी में आयोजित हुई रात्रि चौपाल


जिला कलक्टर ने एक-एक कर ग्रामीणों की सुनी समस्याएं
श्रीगंगानगर, 12 जुलाई। जिला कलक्टर श्री शिवप्रसाद मदन नकाते ने कहा कि रात्रि चौपाल का उद्धेश्य ग्रामीणों के बीच जाकर उनकी समस्याओं को समझना व निराकरण करना है, साथ ही सरकार द्वारा संचालित योजनाओं की जानकारी देकर पात्रा नागरिकों को लाभांवित करना है।
जिला कलक्टर श्री नकाते शुक्रवार को अनूपगढ क्षेत्रा की ग्राम पंचायत 6 पी में आयोजित रात्रि चौपाल में आवश्यक निर्देश दे रहे थे। गांव की 6 वर्षिय कोमल ने सुनाई नही देने का प्रार्थन पत्रा दिया। जिला कलक्टर ने चिकित्सा अधिकारियों को निर्देश दिए कि बालिका का परीसण कर कोकलीयर प्लान्ट लग सकता है, जिससे बालिका को सुनने लगेगा। 6 पी के नागरिकों ने जिला कलक्टर को बताया कि नर्सरी के मध्य से गुजर रही विद्युत लाईन से अक्सर पशु पक्षी मर जाते है। जिला कलक्टर ने विद्युत विभग के अधिकारियों को आवश्यक कार्यवाही करने निर्देश दिए। गांव के हंसराज व देवकरण ने विद्युत लाईन सिफ्टिंग के लिए अपने खेत में जगह देने की सहमति दी साथ ही सरपंच व गांववासी विद्युत लाईन स्थानान्तरण में सहायोग करेंगे। जिला कलक्टर ने बताया कि लाईन सिफ्टिंग के लिए 50 प्रतिशत राशि देने का प्रावधान है। लेकिन ग्रामीणों की वाजिब समस्या व पशु-पक्षियों की रक्षा के लिए लाईन स्थानान्तरण की जाएगी। 
इसी प्रकार ग्रामीण इन्द्राज व मनफूल ने ढाणियों की ओर जाने वाली विद्युत लाईन के ढीले तारों को खीचने की समस्या पर जिला कलक्टर ने अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। रात्रि चौपाल में12 एमडी निवासी  तारा सिंह ने पालनहार योजना की राशि नही आने का प्रार्थना पत्रा दिया। जिला कलक्टर ने सुनवाई के बाद बताया कि पालनहार योजना की स्वीकृति 6 मार्च 2019 को हो चुकी है तथा बजट प्राप्त होते ही भुगतान कर दिया जाएगा। 6 पी निवासी कालूराम ने बीपीएल होने के बाद भी विद्युत कनैक्शन नही होने का प्रार्थना पत्रा दिया। जिला कलक्टर ने विद्युत अधिकारियों को नियमानुसार बिजली देने को कहा। ग्रामीणों ने बताया कि राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय के समीप एक साथ 3 ट्रांसफार्मर लगे हुए है, जिससे गांव की कई गलियों में विद्युत ढीम रहती है। जिला कलक्टर ने ग्रामीणों की समस्या को वाजिब मानते हुए ट्रांसफार्मरों को विभिन्न स्थानों पर स्थापित करने के निर्देश दिए। 
इसी प्रकार शुभशक्ति योजना में भुगतान नही मिलने, कुछ घरों में पेयजल की समस्या, आम रास्तों से संबंधित समस्या, कृषि डिग्गियों के निर्माण, पक्के खालों के निर्माण से संबंधित प्रार्थना पत्रा प्राप्त हुए। ग्रामीणों ने ग्राम पंचायत की सार्वजनिक समस्याओं के साथ-साथ निजी समस्याओं को भी रात्रि चौपाल में बताया। 
रात्रि चौपाल में जिला कलक्टर के निर्देश पर ग्राम पंचायत 6 पी में गत पांच वर्षो में हुए विकास कार्यो का लेखा जोखा रखा तथा ग्रामीणों से विकास कार्यो का भौतिक सत्यापन करवाया। विकास अधिकारी ने बताया कि जेजेवाई योजना में डिग्गी की सफाई, शौचालयों का निर्माण, नई पाईप लाईन, पंचायत घर का रंग रोगन, पेयजल की डिग्गियों का निर्माण, इंटरलोकिंग, जोहड का पुर्ननिर्माण तथा गत 3 वर्षो में 155 प्रधानमंत्रा आवासों का निर्माण हो चुका है तथा वर्ष 2019-20 में 86 प्रधानमंत्रा आवासों की स्वीकृति प्राप्त हो चुकी है। गांव में 335 परिवारों में शौचालयों का निर्माण किया गया। 
रात्रि चौपाल में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा के लाभ के लिए ई-मित्रा के माध्यम से आवेदन किया जा सकता है। ऐसे गरीब परिवार जिनकी रसोई गैस नही है, वे प्रधानमंत्रा उज्जवला योजना में रसोई गैस का लाभ ले सकते है। श्रम विभाग की शुभ शक्ति , प्रसुति योजना की जानकारी दी गई। कृषि विभाग द्वारा नरमा कपास में लगने वाले रोग व उपचार की जानकारी दी गई। इसी प्रकार समाज कल्याण, शिक्षा विभाग, चिकित्सा विभाग सहित विभिन्न विभागों की जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी गई। 
   रात्रि चौपाल में मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री सौरभ स्वामी, भारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रशिक्षु श्री मोहम्मद जावेद, एसडीएम श्री मनमोहन मीणा, सरपंच श्री कैलाशचंद्र, जिला रसद अधिकारी श्री राकेश सोनी, उपनिदेशक आयुर्वेद श्री हरविन्द्र दावडा, विद्युत के अधीक्षण अभियन्ता श्री के.के. कस्वा, उपनिदेशक कृषि श्री जी.आर. मटोरिया सहित विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय, ब्लॉक स्तरीय अधिकारी व ग्रामीणजन उपस्थित थे। 

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे