Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India जरूरतमंद परिवारों तक पहुंचे खाद्य सामग्री प्रतिक्षा सूची वाली संस्थाओं को अवसर दे - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Tuesday, 14 April 2020

जरूरतमंद परिवारों तक पहुंचे खाद्य सामग्री प्रतिक्षा सूची वाली संस्थाओं को अवसर दे


बेधर नागरिकों को प्राथमिकता के साथ खाद्य सामग्री उपलब्ध करवाएं
श्रीगंगानगर। जिला कलक्टर श्री शिवप्रसाद एम. नकाते ने कहा कि जिले में धारा 144 व लाॅकडाउन के दौरान जरूरतमंद नगारिकों को खाद्य सामग्री की कोई कमी न रहे, इसके एसडीएम व जिला रसद अधिकारी, सामाजिक संस्थाओं के सहयोग से प्राथमिकता के साथ जरूरतमंद तक खाद्य सामग्री पहुंचाना सुनिश्चित करेंगे। 
जिला कलक्टर ने बताया कि जिला प्रशासन के साथ-साथ लगभग 30 संस्थाएं सहयोग कर रही थी, जिनमें से 7 संस्थाओं ने सेवा कार्य नही करने पर प्रतिक्षा सूची में शामिल अन्य संस्थाओं को सेवा का अवसर दिया गया है। ये संस्थाएं जरूरतमंद नागरिकों को खाद्य सामग्री आवंटित क्षेत्रा के अनुसार वितरित करेगी। संस्थाएं संबंधित थाना क्षेत्रा को सूचित करते हुए कार्मिको की उपस्थिति में खाद्य सामग्री वितरित करेंगे। जिससे जरूरतमद की प्राथमिकता के साथ-साथ सोशन डिस्टेंसिंग की पालना सुनिश्चित करेंगे। जिला कलक्टर ने कहा कि फूड पैकेट की प्राथमिकता ऐसे बेघर या जिनके रसोई की व्यवस्था नही है, उन्हे वितरित किये जाए। जरूरतमंद परिवारों का सर्वे पटवारी, व कांस्टेबल के माध्यम से करवाया जा रहा है। सर्वे का कार्य एक सत्त प्रक्रिया है, जो निरन्तर जारी रहेगी।
उन्होने बताया कि शहर में लगभग 30 राजकीय विद्यालयों में खाना बनाने की सभी व्यवस्थाएं उपलब्ध है, जहां प्रतिदिन 10 हजार फूड पैकेट बनाने की क्षमता है। अगर जिले में आवश्यकताएं बढती है, तो मिड-डे-मिल में लगे कार्मिको की संेवाएं ली जा सकती है। उन्होने बताया कि रसद विभाग में विभिन्न सामाजिक संस्थाओं में सहयोग करने का अनुरोध किया था। बहुत सी संस्थाओं  को प्रतिक्षा सूची में रखा गया था, जिन्हे उनके क्षेत्रा के अनुसार सेवा का अवसर दिया जाएगा। 
श्री नकाते ने बताया कि पास की व्यवस्था एसडीएम के माध्यम से सामुहिक की जगह व्यक्तिगत पास की व्यवस्था की जाएगी। जिन संस्थाओं ने सेवा कार्य स्थगित किया है, उन्हे जारी पास जमा करवाने होंगे। सभी नागरिकों को लाॅकडाउन की पालना करनी होगी। पालना नही करने पर आपदा प्रबन्धन अधिनियमों एवं एपिडेमिक एक्ट के तहत कार्यवाही की जाएगी। सोशल डिस्टेंसिंग की पालना नही करने या कही भीड़ नजर आने पर राहत टीम को हटा लिया जाएगा। किसी संस्था द्वारा प्रशासन के साथ सहयेाग करने के कार्य में बाधा डालने पर आपदा प्रबन्धन व एपिडेमिक एक्ट में कार्यवाही होगी। 
जिला रसद अधिकारी श्री राकेश सोनी ने बताया कि लाॅकडाउन के दौरान कोई संस्था सेवा कार्य में सहयोग करना चाहती तो अपना नाम, पता, मोबाईल नम्बर व सेवा का क्षेत्रा बताते हुए एसडीएम, जिला रसद विभाग को सूचित करे। रसद विभाग के नियंत्राण कक्ष 0154-2445006 पर सूचित किया जा सकता है। श्री सोनी ने बताया कि बहुत सी संस्थाएं ने आगे आकर सेवा करने का प्रस्ताव दिया है। 
ईंट भट्टों के बाद जिनिंग फैक्ट्रियों में होगा कार्य
जिला कलक्टर श्री नकाते ने बताया कि जिले में संचालित ईंट भट्टों पर शर्तो के साथ श्रमिको को कार्य करने की छूट दी गई है। इसी प्रकार जिले में जिनिंग फैक्ट्रियां जिनके पास काॅटन का स्टाॅक है, उन्हे कार्य कार्य करने की छूट दी गई है। इन फैक्टियों में काम करने वाले कार्मिक मिल के अन्दर ही रहकर कार्य करेंगे। बाहर के क्षेत्रा में किसी प्रकार का आवागमन नही होगा। सीसीए की लगभग 14 फैक्ट्रियां तथा 3-4 अन्य फैक्ट्रियों को कार्य करने की इजाजत दी गई है। 
आरएसएमपी एप डाउनलोड करे
जिला कलक्टर श्री नकाते ने बताया कि कोविड-19 के दौरान आरएसएमपी एप आमजन के लिए बहुत उपयोगी है। इसमें सेल्फ सर्वे किया जा सकता है। इस एप को डाउनलाड करने के बाद प्ले स्टोर पर सिटीजन सर्वे का आॅपशन है, जिसमें नागरिक को खांसी, बुखार, श्वास लेने में परेशानी है तो इत्यादि जानकारियां जो चिकित्सक पूछते है, देनी होगी। सिटीजन सर्वे में नागरिक स्वयं का तथा उसके परिवार का भला है। अगर कोई नागरिक अस्वस्थ है, तो चिकित्सा विभाग की टीम परामर्श देगी। चिकित्सकों से आॅनलाईन परामर्श भी लिया जा सकता है। आयु एप में भी लिंक दिया हुआ है, जिसमें टेलिमेडिसिन व परामर्श जैसी सुविधाए है। आरएसएमपी एपं को पटवारी व शिक्षक भी डाउनलोड करे तथा अन्य को डाउनलोड के लिए दूरभाष के माध्यम से ही जानकाारी दे। 

No comments:

Post a comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे