Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India सहकारी समितियां नो लोस-नो प्रोफिट पर विक्रय करे: जिला कलक्टर - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Wednesday, 1 April 2020

सहकारी समितियां नो लोस-नो प्रोफिट पर विक्रय करे: जिला कलक्टर

किराणा  भावों को नियंत्रण करने सहकारी समितियों द्वारा विक्रय प्रारम्भ
सहकारी समितियां नो लोस-नो प्रोफिट पर विक्रय करे: जिला कलक्टर
श्रीगंगानगर,। केन्द्रीय सहकारी बैंक के प्रबन्ध निदेशक श्री भूपेन्द्र सिंह ने बताया कि जिला प्रशासन के पास कई दिनों से यह शिकायतें प्राप्त हो रही थी कि ग्रामीण क्षेत्र के दुकानदारों द्वारा मनमाने मूल्यों पर आवश्यक वस्तुओं का विक्रय किया जा रहा है। जिसके निवारण हेतु प्रशासक बैंक एवं जिला कलक्टर श्री शिवप्रसाद एम. नकाते द्वारा जिले में कार्यरत ग्राम सेवा सहकारी समितियों के माध्यम से आवश्यक वस्तुओं का विक्रय नो लो-नो प्रोफिट के आधार पर किये जाने हेतु निर्देशित किया गया।
श्री सिंह ने बताया कि वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के अन्तर्गत जिला कलक्टर  के निर्देशों की पालना में जिले में कार्यरत ग्राम सेवा सहकारी समितियों द्वारा आवश्यक उपभोक्ता सामग्री हेतु दुकानें खोली जावेगी। जिले में कुल 325 ग्राम सेवा सहकारी समितियों में से 4 समितियों द्वारा पूर्व में ही उपभोक्ता सामग्री विक्रय का कार्य किया जा रहा है। शेष समितियों द्वारा आवश्यक 16 वस्तुएं उच्च गुणवत्ता एवं उचित मूल्य पर विक्रय किया जावेगा। 
इस व्यवस्था के अन्तर्गत रायसिंहनगर में एक सैन्टर हब स्टोर बनाया गया है जहां से रायसिंहनगर क्षेत्र एवं आगे अनूपगढ़, घड़साना, रावला आदि क्षेत्र की तथा श्रीगंगानगर में सहकारी उपभोक्ता होलसेल भण्डार, श्रीगंगानगर को सैन्टर हब स्टोर बनाया गया है जहां से श्रीगंगानगर क्षेत्र की ग्राम सेवा सहकारी समितियां विक्रय हेतु उपभोक्ता सामग्री प्राप्त कर सकेगी। समितियां उपभोक्ता सामग्री प्राप्त करने के उपरान्त आम उपभोक्ता को उचित मूल्य पर आवश्यक वस्तुएं उपलब्ध करवायेगी। जिसके अन्तर्गत आज दिनांक तक रायसिंहनगर क्षेत्र 18 ग्राम सेवा सहकारी समितियों को 9.50 लाख रूपये की उपभोक्ता सामग्री उपलब्ध करवाई गई जिसमें से 1670 उपभोक्ताओं को 4.00 लाख रूपये की उपभोक्ता सामग्री उपलब्ध करवाई जा चुकी है तथा कार्य निरन्तर जारी है।
ये व्यवस्था करने के उपरान्त कुछेक ग्रामीण क्षेत्र से इसके विरोध का सामना भी ग्राम सेवा सहकारी समितियों एवं उपभोक्ताओं को करना पड़ रहा है एवं उन दुकानदारों द्वारा इसमें अड़चने पैदा की जा रही है। जिसे जिला प्रशासन द्वारा गम्भीरता से लेते हुए उन दुकानदारों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही करने हेतु निर्देश जारी किये जा रहे है। इस प्रकार ग्राम सेवा सहकारी समितियों के माध्यम से आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धतता से बाजार के भावों को नियंत्रित करने सहायता मिलेगी।
जिला कलक्टर के निर्देशानुसार जिन ग्राम सेवा सहकारी समितियों के कार्यक्षेत्र में एक से अधिक गांव है उन समितियों द्वारा मोबाईल वैन के माध्यम से डोर टू डोर आवश्यक वस्तुएं उपलब्ध करवाई जा रही है। 

No comments:

Post a comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे