Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India अगले दो दिन में निस्तारित हों संपर्क पोर्टल पर 60 दिनों से अधिक के बकाया प्रकरण -मेहता - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Monday, 14 December 2020

अगले दो दिन में निस्तारित हों संपर्क पोर्टल पर 60 दिनों से अधिक के बकाया प्रकरण -मेहता

  • साप्ताहिक समीक्षा बैठक में जिला कलक्टर ने दिए निर्देश
  • जल जीवन मिशन क्रियान्वयन के लिए भी कार्यवाही के निर्देश

बीकानेर। जिला कलक्टर नमित मेहता ने कहा है कि संपर्क पोर्टल के माध्यम से प्राप्त आमजन के परिवाद निस्तारण के लिए सभी विभाग अपने स्तर पर एक बेहतर मैकेनिज्म रखें। यह निर्देश सोमवार को साप्ताहिक समीक्षा बैठक में दिए। उन्होंने कहा कि किसी भी विभाग में 60 दिन से अधिक का एक भी प्रकरण बकाया नहीं रहना चाहिए। अगले दो दिनों में ऐसे समस्त प्रकरणों को निस्तारित करते हुए रिपोर्ट प्रस्तुत करें।

मुख्यमंत्री कार्यालय सहित विभिन्न आयोगों से प्राप्त प्रकरणों को प्राथमिकता से रखते हुए निस्तारित करें। सभी विभाग विजिलेंस आदि से जुड़े बैठकों में आने वाले मुद्दों का भी समयबद्ध निस्तारण करे। मेहता ने कहा सिस्टम में जो भी व्यक्ति शिकायत लेकर आता है उसके निस्तारण की गुणवत्ता की भी विभाग स्तर पर समीक्षा की जाए और यदि किसी प्रकरण का निस्तारण उच्च स्तर पर होना है तो इसके लिए व्यक्तिगत रूप से बात करें।

शहर की सफाई, प्रकाश व्यवस्था सुचारू रखने के निर्देश

जिला कलक्टर ने नगर निगम आयुक्त को शहर की मुख्य सड़के विशेषकर जो राष्ट्रीय राजमार्ग से जुडी है पर साफ सफाई व्यवस्था में सुधार के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सफाई व्यवस्था  मॉनिटरिंग के लिए उच्च अधिकारियों की जोन के अनुसार ड्यूटी लगाएं। कचरा उठाने के कार्य की भी नियमित मॉनिटरिंग हो। जिला कलक्टर ने सभी विवाह स्थल का नई गाइडलाइन के अनुसार पंजीकरण करने के भी निर्देश दिए। सुजानदेसर गौशाला भूमि में जो अतिक्रमण है उन्हें तुरंत हटवाने की कार्यवाही करें। इसके बाद गौशाला भूमि की तारबंदी की जाए, इस संबंध में अगले सप्ताह रिपोर्ट करें।

रैन बसेरों में पुरुष-महिला के लिए हो अलग-अलग व्यवस्था

जिला कलेक्टर ने नगर निगम आयुक्त को रैन बसेरे में साफ सफाई नियमित रूप से करवाने के निर्देश देते हुए कहा कि पुरुष और महिलाओं के ठहरने के लिए अलग-अलग व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। बैठक में निगम आयुक्त ने बताया कि डोर टू डोर कचरा संग्रहण के लिए ऑटो टिपर की वर्तमान संख्या को ओर बढ़ाने के प्रस्ताव तैयार किए जा रहे हैं।

जिला कलक्टर ने पूगल रोड पर सीवरेज का पानी मुख्य सड़क पर भरने की समस्या को सुलझाने के लिए सार्वजनिक निर्माण विभाग, नगर निकास न्यास तथा नगर निगम को समन्वय करते हुए इस कार्य को तत्काल निस्तारित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा इस कार्य के लिए सभी संबंधित एजेंसी लोंगटर्म प्लान भी तैयार करें, जिससे बार -बार सीवरेज लाइन में लीकेज की समस्या का स्थाई समाधान हो सके।

मेहता ने कहा कि नगर विकास न्यास द्वारा सर्वे के बाद जो भी हाई मास्ट लाइट बंद पाई गई हैं उन्हें तुरंत प्रभाव से चालू करवाया जाए। जिला कलेक्टर ने सूरसागर में समस्त कार्य 17 दिसंबर तक पूरा करवा कर पानी भरवाने के निर्देश दिए। मरम्मत कार्य के दौरान सूरसागर में लाइटिंग के लिए कुछ विशेष पॉइंट लगवाएं। मेहता ने सीवरेज सिस्टम को चालू करने के लिए घरों से कनेक्शन करने के काम का भी एक्शन प्लान बनाने के लिए नगर विकास न्यास को निर्देश दिए।

बढ़ाएं मनरेगा श्रमिकों की संख्या

जिला कलक्टर ने कहा कि मनरेगा के तहत नए मस्टरोल जारी करवाएं और यह सुनिश्चित किया जाए कि जितने भी मस्टरोल जारी है उतनी लेबर फील्ड पर उपस्थित रहे। पीएमएवाई के तहत तय लक्ष्य के अनुसार काम हो।

पंचायत भवन निर्माण के लिए आवंटित करें जमीन

जिला कलक्टर ने पंचायत भवन निर्माण कार्य को प्राथमिकता से करने के निर्देश देते हुए कहा कि एसडीओ वार पंचायत भवन निर्माण सूची भेजी जाए जिससे भूमि आवंटन की कार्यवाही पूरी की जा सके।  उन्होंने कहा कि सभी उपखण्ड अधिकारी और विकास अधिकारी यह भी सुनिश्चित कर ले कि जिन क्षेत्रों में नए पंचायत भवन बनने है वहां अगर कोई अन्य राजकीय भवन  खाली है तो प्राथमिकता के आधार पर ऐसे भवनों का आवंटन ग्राम पंचायतों को किया जाए।

जिला कलक्टर ने पानी और विद्युत आपूर्ति सप्लाई  की समीक्षा करते हुए कहा कि जीएलआर सफाई ,अवैध कनेक्शन काटने आदि की कार्रवाई नियमित रूप से हो ।

जिला कलक्टर ने कहा कि 20 सूत्री कार्यक्रम के तहत निर्धारित टारगेट से पीछे रहने वाले विभाग समय काम पूरे करवाएं। 

सभी जीएसएस पर हो तुलाई का कार्य सुचारू रूप से

जिला कलक्टर ने कहा कि खरीफ की तुलाई के लिए तो 31 केंद्र स्थापित किए गए हैं वहां पर मूंगफली की तुलाई का कार्य बेहतर तरीके से होता रहे इसकी मॉनिटरिंग सभी जीएसएस पर कोऑपरेटिव विभाग के अधिकारी और कर्मचारी लगातार करें। उन्होंने कहा कि कुछ जीएसएस द्वारा तुलाई का कार्य नहीं किया जा रहा है ऐसे सभी केंद्रों पर जाकर तुलाई का कार्य सुचारू रूप से करवाए जाए। तुलाई का कार्य बंद होने की जानकारी मिलती है तो इसके लिए डी. आर. कॉपरेटिव को जिम्मेदार मानते हुए उनके विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्रवाई अमल में लाई जाएगी

उन्होंने कहा कि जिले में 682 ऐसे बच्चे हैं जो पालनहार योजना से तो जुड़े हैं मगर कुछ समय से ट्रेस नहीं हो रहे हैं और उन्हें योजना के तहत दी जाने वाली धनराशि का भुगतान नहीं हो रहा है। सामाजिक न्याय अधिकारिता विभाग ऐसे बच्चों को ढूंढने का कार्य शीघ्रता से कर बच्चों को योजना के तहत दी जाने वाली राशि उपलब्ध करवाएं। जिला कलक्टर ने कहा कि सिलिकोसिस से पीड़ित व्यक्ति चिकित्सा स्वास्थ्य विभाग द्वारा चिन्हित कर लिए गए हैं उन्हें सरकार द्वारा दी जाने वाली आर्थिक इमदाद मिल जाए इसके पुख्ता बंदोबस्त होने चाहिए, साथ ही अगर अपरिहार्य कारणों से सिलिकोसिस से पीड़ित व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है तो उसके परिजनों को मिलने वाली आर्थिक इमदाद भी शीघ्रता से परिजनों को मिल जाए इसके लिए सामाजिक न्याय अधिकारिता विभाग माइंस डिपार्टमेंट संयुक्त रुप से तुरंत कार्रवाई करें।

जल जीवन मिशन में होंगे घर-घर कनेक्शन

बैठक में बताया गया कि जल जीवन मिशन के तहत 100 से अधिक आबादी वाले गांव में प्रत्येक घर और ढाणियों को पेयजल कनेक्शन देने का लक्ष्य रखा गया है। अधीक्षण अभियंता पीएचईडी दीपक बंसल ने बताया कि इसके तहत ग्राम पंचायत स्तर पर विलेज वॉटर सैनिटेशन कमेटी गठित की जाएगी। सरपंच के अध्यक्षता में बनने वाली इस कमेटी द्वारा विलेज एक्शन प्लान पानी की उपलब्धता के संबंध में सूचना तैयार की जाएगी।  कनेक्शन खर्च का 10ः जनभागीदारी से वहन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि अटल भूजल योजना के तहत भूजल  की गुणवत्ता, स्तर आदि का विश्लेषण करने के लिए अध्ययन भी किया जाएगा।

यह जिला स्तरीय कमेटी

जिला कमेटी के अध्यक्ष जिला कलक्टर नमित मेहता होंगे। कमेटी के सदस्य मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद, उप वन सरंक्षक वन विभाग, अधीक्षण अभियंता प्ॅडच् परियोजना अधिकारी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी, अधिशाषी अभियंता जल संसाधन विभाग, उपनिदेशक कृृषि विभाग, जन सम्पर्क अधिकारी सूचना एवं जनसम्पर्क कार्यालय, उपनिदेशक उद्यान विभाग, अधीक्षण अभियंता जोधपुर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड होंगे। अधीक्षण अभियंता जन स्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी वृत, वरिष्ठ, कनिष्ठ भूजल वैज्ञानिक भूजल विभाग सदस्य सचिव होंगे।

बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) ए. एच. गौरी, नगर विकास न्यास सचिव मेघराज सिंह मीना, नगर निगम आयुक्त पंकज शर्मा, महाप्रबंधक जिला उद्योग केन्द्र मंजू नैण गोदारा, उपनिदेशक महिला एवं बाल विकास शारदा चैधरी सहित पानी बिजली सड़क आदि संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।




No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे