Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India 8 निजी अस्पतालों में भी होगा कोविड टीकाकरण जिला नोडल अधिकारी एएच गौरी ने किए लक्ष्य निर्धारित - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Monday, 4 January 2021

8 निजी अस्पतालों में भी होगा कोविड टीकाकरण जिला नोडल अधिकारी एएच गौरी ने किए लक्ष्य निर्धारित

बीकानेर,। कोविड-19 टीकाकरण को लेकर तैयारियां चरम पर हैं। को-विन सॉफ्टवेयर के मार्फत प्रतिदिन लाभार्थियों का डाटा अपडेट हो रहा है। बीकानेर शहरी क्षेत्र के 8 बड़े निजी चिकित्सालय में भी कोविड टीकाकरण किया जाएगा । यहां उन्हीं के अस्पताल के समस्त स्टाफ को कोविड वैक्सीन दी जाएगी। इनमें  कोठारी, एमएन, डीटीएम, जीवन रक्षा,  सुगनी देवी,  मारवाड़  व चलाना अस्पताल  शामिल है। शेष निजी अस्पतालों व लैब-डायग्नोस्टिक केंद्रों के स्टाफ का टीकाकरण नजदीकी पीएचसी पर होगा। इसके अलावा बीएसएफ, आर्मी व ईएसआईसी अस्पतालों के स्वास्थ्य कर्मियों व स्टाफ को भी प्रथम चरण में वैक्सीन मिलेगी। तैयारियों को लेकर सोमवार को जिला कलेक्ट्रेट सभागार में  आमुखीकरण कार्यशाला आयोजित हुई। कोविड वैक्सीनेशन अभियान के जिला नोडल अधिकारी एवं अतिरिक्त जिला कलेक्टर ए एच गौरी ने समस्त निजी अस्पतालों जहां पर टीकाकरण बूथ स्थापित किए जाएंगे के प्रभारियों को समस्त कोविड प्रोटोकॉल्स के साथ सत्र आयोजित करने के निर्देश दिए। उन्होंने आर्मी व बीएसएफ क्षेत्रों के अस्पतालों में भी टीकाकरण की तैयारियों को भारत सरकार के प्रोटोकॉल अनुसार अंतिम रूप देने को कहा। सीएमएचओ डॉ सुकुमार कश्यप ने बताया कि टीकाकरण स्थल पर सत्र आयोजित करने के लिए अस्पताल को ऐसे तीन कमरे आरक्षित करने होंगे जिनसे नियमित ओपीडी सेवाएं बाधित न हो तथा लाभार्थियों का अन्य मरीजों से किसी प्रकार का संपर्क ना हो। सत्र स्थल पर प्रवेश और निकास के लिए अलग व्यवस्था होनी चाहिए। उन्होंने बताया कि दो ही दिन में को-विन सॉफ्टवेयर में डाटा फ्रीज हो जाएगा इसलिए यदि किसी भी स्तर पर कोई हेल्थ वर्कर छूट रहा है तो उसका डाटा भी अपडेट करवा दिया जाए। जिनका स्थानांतरण हो गया है उनकी सूचना भी अद्यतन की जानी है। अभियान के सहायक नोडल अधिकारी एवं आर सी एच ओ डॉ आर के गुप्ता ने बताया कि वैक्सीन देने के बाद प्रत्येक लाभार्थी को आधा घंटा निगरानी कक्ष में सुनिश्चित रूप से गुजारने होंगे। इस दौरान अथवा उसके बाद में यदि किसी प्रकार का एलर्जी साइड इफेक्ट या समस्या महसूस होती है तो पुख्ता तौर पर एईएफआई प्रबंधन व्यवस्था मौजूद रहेगी। आवश्यकता होने पर लाभार्थी को एंबुलेंस के मार्फत पीबीएम अस्पताल भेजा जाएगा जहां  विशेषज्ञों की  एईएफआई प्रबंधन टीम मौजूद रहेगी। यूएनडीपी के संभागीय समन्वयक योगेश शर्मा ने पीपीटी प्रेजेंटेशन द्वारा टीकाकरण सत्र से संबंधित समस्त प्रशिक्षण दिया। इस अवसर पर विश्व स्वास्थ्य संगठन के एसएमओ डॉ अनुरोध तिवारी व जिला आईईसी समन्वयक मालकोश आचार्य सहित विभिन्न निजी अस्पतालों, आर्मी, बीएसएफ व ई एस आई सी अस्पतालों के प्रतिनिधि मौजूद रहे।

No comments:

Post a comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे