Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India स्काडा प्रणाली जल्द प्रारम्भ करें, जिससे पारदर्शिता बढ़ेगीः जिला कलक्टर - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Thursday, 23 September 2021

स्काडा प्रणाली जल्द प्रारम्भ करें, जिससे पारदर्शिता बढ़ेगीः जिला कलक्टर

 गंगनहर प्रणाली जिला जल वितरण समिति की हुई बैठक

फिरोजपुर फीडर के लिये बजट में होगा प्रावधानः विधायक श्री गौड़
स्काडा प्रणाली जल्द प्रारम्भ करें, जिससे पारदर्शिता बढ़ेगीः जिला कलक्टर
श्रीगंगानगर, । गंगनहर प्रणाली हेतु डिप्लीशन अवधि 21 सितम्बर से 20 मई 2022 तक पानी 3 लाख 32 हजार 483 क्यूसेक डेज आवंटित है, आवंटित पानी का उपयोग करने के लिये गुरूवार को जिला जल वितरण समिति की बैठक जिला कलक्टर श्री जाकिर हुसैन की अध्यक्षता में आयोजित हुई।
बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिला कलक्टर श्री जाकिर हुसैन ने कहा कि पूर्व में जब पानी की समस्या आयी तो किसानों की भलाई के लिये सीएमओ, जल संसाधन के सचिव स्तर तक बातचीत करने से पानी की मात्रा बढ़ी तथा किसानों को लाभ हुआ। भविष्य में भी किसानों की भलाई के लिये मैं सदैव तत्पर हूॅ।
 जिला कलक्टर ने कहा कि हमारे पास उपलब्ध पानी का किसानों की आवश्यकता व जरूरत के अनुसार वितरण किया जाये, जिससे किसान को समय व जरूरत के अनुरूप पानी मिले। उन्होंने कहा कि फिरोजपुर फीडर की मरम्मत के कार्य को प्राथमिकता में लिया है। उन्होंने कहा कि गत दिनों मुख्य सचिव की वीसी में भी नहर मरम्मत को लेकर सारगर्भित चर्चा हुई है, जिसके सार्थक परिणाम आयेंगे। जिला कलक्टर ने जल संसाधन अधिकारियों को निर्देश दिये कि स्काडा प्रणाली को जल्द प्रारम्भ किया जाये, जिससे पारदर्शिता बढ़ेगी तथा किसानों को अपने पानी की मात्रा का पूरा ज्ञान रहेगा।
गंगानगर विधायक श्री राजकुमार गौड़ ने कहा कि सरकार ने सदैव किसानों की भलाई के कार्य किये है। उन्होंने कहा कि मैनें मुख्यमंत्री जी से, सीएमओ कार्यालय में तथा जल संसाधन के उच्च अधिकारियों से समय-समय पर पानी के विषय में बात की। उन्होंने कहा कि बांधों में पानी की मात्रा कम है, यह जानकारी प्रत्येक किसान तक जानी चाहिए तथा कम पानी चाहने वाली फसलें बोनी चाहिए। उन्होंने कहा कि आज की बैठक में उपलब्ध पानी का जिस प्रकार समझदारी से वितरण चार्ट तैयार किया गया है, वह तारीफ के लायक है।
श्री गौड़ ने कहा कि मुख्यमंत्री जी ने पूर्व में गंगनहर मरम्मत के लिये 446 करोड़ रूपये की राशि स्वीकृत की थी। फिरोजपुर फीडर की मरम्मत को लेकर सरकार प्रयासरत है तथा इसी बजट में फिरोजपुर फीडर के लिये राशि जारी हो जायेगी। फिरोजपुर फीडर की डीपीआर तैयार कर केन्द्र सरकार को भिजवा दी गई है। विधानसभा में भी मैनें लगातार पानी की मात्रा को लेकर तथा नहरों में आ रहे गंदे पानी को लेकर मुद्दा उठाया है। पंजाब सरकार से लगातार बात होने से आगामी जब भी नहरबंदी आयेगी, उस दौरान बुढ्ढा नाला का डायवर्जन किया जायेगा।
उन्होंने कहा कि हमारा प्रयास है कि फिरोजपुर फीडर की मरम्मत होने से 300-400 क्यूसेक पानी बढ़े। नहर में साफ सफाई के लिये 98 लाख रूपये की राशि तत्काल भिजवाई थी, लेकिन किसी कारण से उस राशि का उपयोग नहीं हो सका। उन्होंने कहा कि नीचे स्तर के अधिकारियों व कार्मिकों को फील्ड में जाना चाहिए, जिससे नहरों की स्थिति ठीक होगी तथा पानी चोरी रूकेगी।
बैठक में जानकारी दी गई कि 21 से 30 सितम्बर तक 1600 क्यूसेक, अक्टूबर में 1 से 10, अक्टूबर 11 से 20 व अक्टूबर 21 से 31 तक 1600 क्यूसेक, नवम्बर माह में 1 से 10 नवम्बर तक 1600 क्यूसेक, 11 से 20 नवम्बर तथा 21 से 30 नवम्बर तक 1800 क्यूसेक, दिसम्बर माह में 1 से 10 दिसम्बर, 11 से 20 व 21 से 31 दिसम्बर तक 1800 क्यूसेक, जनवरी 2022 में 1 से 10 जनवरी तक 1800 क्यूसेक, 11 से 20 व 21 से 31 जनवरी तक 1600 क्यूसेक, फरवरी माह में 1 से 10 फरवरी तक 1600 क्यूसेक, 11 से 20 व 21 से 28 फरवरी तक 1500 क्यूसेक, मार्च माह में 1 से 10 मार्च, 11 से 20 व 21 से 31 मार्च तक 1800 क्यूसेक, अप्रैल में 21 से 30 अप्रैल तक 400 क्यूसेक, मई में 1 से 10 मई तक 500 क्यूसेक तथा 11 से 20 मई तक 1000 क्यूसेक पानी लेना प्रस्तावित किया गया है।
जल संसाधन विभाग के अधीक्षण अभियंता श्री धीरज चावला ने किसानों को जानकारी दी कि जब खेतों में पानी की कम आवश्यकता रहेगी,उस दौरान कम पानी लिया जायेगा तथा फसलों की बिजाई व पकाई के समय पानी ज्यादा लिया जाये तो उचित रहेगा। उन्होंने बताया कि फिरोजपुर फीडर की मरम्मत को लेकर उच्च अधिकारियों से सकारात्मक चर्चा हो चुकी है। पंजाब में पानी चोरी रोकने के लिये सरकार स्तर से प्रभावी कदम उठाये जा रहे है। राजस्थान में पानी चोरी रोकने के लिये प्रयासरत है तथा हैड से निर्धारित पानी के अलावा किसी प्रकार की छेड़छाड़ ना हो, इस पर भी ध्यान दिया जा रहा है।
बैठक में रायसिंहनगर विधायक श्री बलवीर लूथरा, सर्व श्री शमीर सिंह, तेज कुमार शर्मा, हरविन्दर सिंह, राजेन्द्र पाल सिंह, राजेन्द्र सिंह, सुभाष मोयल,मनजीत सिंह, लाभ सिंह, अमतिन्द्र सिंह, विनोद कुमार, राकेश नेण, मोहिन्द्र सिंह, महावीर गोदारा, श्री बलदेव सिंह, चेनाराम, परविन्द्र सिंह सहित विभिन्न नहर संघों के अध्यक्ष व किसान संगठनों के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे