Report Exclusive, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India आमजन को उच्च गुणवत्ता की खाद्य सामग्री मिलेः- जिला कलक्टर श्रीगंगानगर - Report Exclusive

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Thursday, 10 January 2019

आमजन को उच्च गुणवत्ता की खाद्य सामग्री मिलेः- जिला कलक्टर श्रीगंगानगर



खाद्य वस्तुओं के अधिकतम नमूने लिये जाये


श्रीगंगानगर। जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने कहा कि खाद्य पदार्थों में मिलावट न हो, इसके लिये समय-समय पर नमूने लेकर उन्हें प्रयोगशाला भेजकर जांच रिपोर्ट मंगवाई जाये। नमूना अमानक पाये जाने पर प्रभावी कार्यवाही की जाये।
    जिला कलक्टर गुरूवार को विडियों कांफ्रेंसिग हॉल में सार्वजनिक वितरण प्रणाली से संबंधित बैठक में आवश्यक निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि किसी भी उपभोक्ता को मिलने वाली सामग्री गुणवत्तायुक्त हो तथा किसी के साथ चिटिंग नही हो, ऐसी व्यवस्था सुनिश्चित की जाये। हमारा उद्देश्य उपभोक्ता को शुद्ध व बिना मिलावट की खाद्य पदार्थ उपलब्ध करवाना है, इसके लिये लगातार मॉनिटरिंग की जरूरत रहेगी।
जिला कलक्टर ने जिले के समस्त उपखण्ड अधिकारियों को भी निर्देशित किया है कि वे समय-समय पर व्यापारियों की बैठक लें तथा खाद्य वस्तुओं में किसी तरह की मिलावट न हो, इस पर चर्चा करे तथा व्यापारियों को कानून की जानकारी दे। कोई भी दुकानदार अपने उत्पाद का स्वयं नमूना लेकर उसका निरीक्षण करवा सकता है तथा प्राप्त रिपोर्ट रसद विभाग को दे सकते है। बैठक में जिले में संचालित चिकित्सालयों में दवा का उपलब्ध स्टॉक का निरीक्षण करने के निर्देश दिये। रोगियां को दी जाने वाली दवाएं प्रतिदिन स्टॉक से कम की जाये, की भी जानकारी ले।
जिला कलक्टर ने कहा कि बाट व मापतोल के यंत्रों का भी समय-समय पर जांच होनी चाहिए। तौलने की मशीन में किसी प्रकार की गडबड़ी पाये जाने पर प्रभावी कार्यवाही की जाये। विधुत विभाग को निर्देशित किया है कि खराब मीटर को बदलने के कार्य में तेजी लाये तथा नवीन मीटर प्राप्त करने का क्रम जारी रखें। उन्होंने समस्त एसडीएम को निर्देशित किया कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा में लम्बित प्रकरणों का निपटारा करें, जो पात्रा है, उसे शामिल किया जाये। इसी प्रकार पेंशन से संबंधित प्रकरण भी ज्यादा दिन तक लम्बित नही रहने चाहिए।

आमजन को दवाएं व राशन मिलेंः- गंगानगर विधायक

गंगानगर विधायक राजकुमार गौड ने कहा कि माननीय मुख्यमंत्रा निशुल्क दवा योजना को काफी गंभीरता से ले रहे है। इसलिये जिले में निशुल्क दवा की कोई कमी नही रहनी चाहिए। वर्तमान में लगभग 680 प्रकार की दवाएं उपलब्ध है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा का लाभ लेने के लिये जो नागरिक आवेदन करते है, उन्हें लाभ मिलना चाहिए। श्री गौड ने कहा कि शुद्ध के लिये युद्ध शब्द अपने आप में काफी है। आमजन को भी जागरूक करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि खाद्य वस्तुओं में मिलावट नशे से भी ज्यादा खतरनाक है। आने वाली पीढ़ियां स्वस्थ हो, इसके लिये हमें शुद्ध खाद्य पदार्थ देने की व्यवस्था बनानी होगी। सही नियत से कार्य करे तो सफलता जरूर मिलेगी। उन्होंने कहा कि घी, दुध, मावा जितना चाहे उतनी मात्रा में उपलब्ध हो जाता है, इस विषय पर भी गहनता से विचार करना चाहिए। उन्हांने कहा कि सेवानिवृत चिकित्सा विशेषज्ञों की सेवाएं भी ली जायेगी।
बैठक में जिला रसद अधिकारी पार्थ सारथी, एडीएम सर्तकता गोपालराम बिरदा, न्यास सचिव कैलाशचंद शर्मा, सीएमएचओ डॉ. नरेश बंसल, उधोग केन्द्र की महाप्रबंधक श्रीमती मंजू नैण गोदारा, अधीक्षण अभियंता विधुत श्री के.के.कस्वा, उपनिदेशक लोक सेवाएं मुकेश बारहठ सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे। 

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे