Report Exclusive, Lok Sabha Elections 2019: Latest News, Photos, and Videos on India General Elections, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India एसडीएम व तहसीलदार कार्यालयों में डेपुटेशन कम से कम होः- जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीगंगानगर - Report Exclusive

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Tuesday, 19 March 2019

एसडीएम व तहसीलदार कार्यालयों में डेपुटेशन कम से कम होः- जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीगंगानगर


चुनाव के दौरान अतिक्रमण होने पर होगी व्यक्तिगत जिम्मेदारी
गांव में कार्य स्वीकृति की आवश्यकता हो, तो स्वीकृत किया जा सकता है।
जनसुनवाई में श्रीगंगानगर जिला राज्य में पांचवे स्थान पर।


श्रीगंगानगर।(सतवीर सिह मेहरा) जिला कलक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री शिवप्रसाद मदन नकाते ने कहा कि लोकसभा आम चुनाव 2019 के दौरान जिले के एसडीएम व तहसील कार्यालयों में जो अनावश्यक कार्मिकों की प्रतिनियुक्तियां कर रखी है, उन्हें निरस्त समझें तथा जिला मुख्यालय से स्वीकृत प्रतिनियुक्ति ही मान्य होगी।
    जिला कलक्टर मंगलवार को कलेक्ट्रैट सभाहॉल में जिला स्तरीय बैठक में आवश्यक निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि चुनाव प्रकोष्ठों में जो कार्मिक लगाये गये है। एक-एक कार्मिक का कार्य बताना होगा। अनावश्यक कार्मिक कही भी नही रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि चुनाव के दौरान अतिक्रमण की संभावना बढ़ जाती है। अगर कही अतिक्रमण हुआ तो संबंधित अधिकारी की व्यक्तिगत जिम्मेदारी निर्धारित की जायेगी। बैठक में श्रम विभाग सहित जो अधिकारी अनुपस्थित थे, उन्हें कारण बताओ नोटिस दिये जायेंगे।
    जिला कलक्टर ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ संबंधित किसानों को मिले, इसके लिये बीमा कम्पनी द्वारा परोपर सर्वे तथा आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करवाई जाये। उन्होंने कृषि विभाग के उपनिदेशक को निर्देशित किया कि संबंधित किसानों को फसल खराबे का लाभ मिले, इसके लिये जयपुर के उच्च अधिकारियों को पत्र प्रेषित किया जाये। जिला कलक्टर ने आईजीएनपी में प्रस्तावित नहरबंदी के दौरान सादुलशहर, सूरतगढ, विजयनगर, अनूपगढ तथा रावला क्षेत्र में पेयजल के पर्याप्त भंडारण करने के निर्देश दिये है। उन्होंने कहा कि किसी कार्मिक की लापरवाही से पेयजल भंडारण नही हुआ तो संबंधित के विरूद्ध कडी कार्यवाही अमल में लाई जायेगी।
    श्री नकाते ने कहा कि महात्मा गांधी नरेगा योजना में लम्बित भुगतान किया जाये। वर्तमान में जिले में 10 हजार श्रमिकों को रोजगार दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि किसी गांव में कार्य स्वीकृति की आवश्यकता हो, तो स्वीकृत किया जा सकता है। उन्हांने शहर के वार्ड नम्बर 45 व 46 में फोगिंग करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि चिकित्सा विभाग एवं नगरपरिषद एमएलओ डालने की कार्यवाही करें। चिकित्सा विभाग लगातार खाद्य वस्तुओं के नमूने लेवें। उन्होंने भगतसिंह चौक से बीरबल चौक तक नाले को फेरोकवर से ढकने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि मटका चौक विद्यालय की दीवार के पास की जगह को ठीक की जाये। जिससे वाहनों की पार्किंग में मद्द मिलेगी। जिला कलक्टर ने आरयूआईडीपी के कार्यों की धीमी गति पर नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने कहा कि कम्पनी को पाबंद किया जाये कि कार्य में तेजी लाये अन्यथा आवश्यक कार्यवाही की जायेगी।
    जिला कलक्टर ने बताया कि जनसुनवाई में श्रीगंगानगर जिला राज्य में पांचवे स्थान पर है। उन्होंने कहा कि अधिकारी यह प्रयास करे कि यह रैंक बरकरार रहें तथा जनसुनवाई में गुणवत्तायुक्त निस्तारण पर विशेष ध्यान दिया जाये।
बैठक में एडीएम सर्तकता श्री राजवीर सिंह, मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री सौरभ स्वामी, एसडीएम श्री मुकेश बारहठ, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. नरेश बंसल, सहायक निदेशक औषधि श्री डी.एस, उप्पल, विधुत विभाग के अधिक्षण अभियंता श्री के.के.कस्वा सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे