Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India आत्मा परियोजना में गंगानगर किसान हुए पुरस्कृत - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Friday, 25 September 2020

आत्मा परियोजना में गंगानगर किसान हुए पुरस्कृत

श्रीगंगानगर,। कृषक आत्मा परियोजना के अंतर्गत वर्ष 2019-20 में श्री मनीराम पूनिया गांव सांवतसर तहसील पदमपुर राज्य स्तर पर चयनित तथा वर्ष 2020-21 के लिए प्रत्येक पंचायत समिति से 5-5 श्रेष्ठ किसान चुने जायेंगे। 

उप निदेषक कृषि एवं पदेन परियोजना निदेशक (आत्मा) श्रीगंगानगर डाॅ. गुगनराम मटोरिया ने बताया कि वर्ष 2019-20 में आत्मा योजनान्तर्गत उत्कृष्ट कार्य करने वाले राजस्थान के कृषकों में से श्रीगंगानगर जिले के कृषक श्री मनीराम पूनिया का जहर मुक्त, प्राकृतिक विधि से बिना खाद, पेस्टीसाईड सब्जियां, दाल, गुड़ व सरसों तेल का उत्पादन जैविक विधि से करने के कारण राज्य स्तर पर चयन किया गया है, जिन्हें निदेशक समेती, दुर्गापुरा, जयपुर द्वारा पुरूस्कार के रूप में 50000 रूपये तथा जिला स्तर पर चयनित कृषक श्री विजयपाल बिश्नोई चक 10 एसडीएस, तहसील सादुलशहर को पुरूस्कार के रूप में 25000 रूपये संबंधित कृषकों के बैंक खाते में जमा करवाये गये हैं। वर्ष 2020-21 में कृषक पुरूस्कार हेतु कृषि, उद्यानिकी, पशुपालन, जैविक खेती व नवाचारी खेती का चयन किया गया है। इन क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाले 5-5 कृषकों का चयन प्रत्येक पंचायत समिति से किया जायेगा। प्रत्येक पंचायत समिति से एक उद्यम के लिए एक ही कृषक का चयन किया जायेगा। इस प्रकार सम्पूर्ण जिले की 9 पंचायत समितियों में से 45 कृषकों का चयन पुरूस्कार हेतु कर उनको नगद पुरूस्कार व प्रशस्ति पत्रा देकर सम्मानित किया जावेगा। इसके लिए कृषि विभाग ने आत्मा योजनान्तर्गत तैयारी शुरू कर दी है। प्रगतिशील कृषकों को 30 सितम्बर 2020 तक आवेदन करना है। इसके बाद कृषि विभाग की गठित कमेटी भौतिक सत्यापन कर प्रगतिशील कृषकों का चयन करेगी।
उप निदेषक कृषि एवं पदेन परियोजना निदेशक (आत्मा) श्रीगंगानगर डाॅ. गुगनराम मटोरिया ने बताया कि कृषि विस्तार सुधार कार्यक्रम (आत्मा) के तहत कृषि उद्यमों के श्रेष्ठ कृषको को राज्य, जिला तथा पंचायत समिति स्तर के लिए चयन कर पुरूस्कृत किये जाने का प्रावधान है। 
राज्य स्तर पर चुने जाने वाले प्रगतिशिल कृषकों को 50-50 हजार का पुरूस्कार दिया जायेगा। इसी तरह जिला स्तर पर भी 10 श्रेष्ठ कृषक चुने जायेंगे जिन्हंे 25-25 हजार रूपये दिये जायेंगे तथा पंचायत समिति स्तर पर 5 श्रेष्ठ कृषकों का चयन कर उन्हें 10-10 हजार रूपये का पुरूस्कार देकर पुरस्कृत व सम्मानित किया जायेगा। कृषक को एक बार ही इस योजना के अन्तर्गत सम्मानित किया जाना है। वर्ष 2009-10 से 2019-20 तक 178 कृषकों को आत्मा योजनान्तर्गत पुरूस्कृत किया जा चुका है, वे कृषक इस योजना के पुनः पात्र नहीं होंगे।
इस क्षेत्रा में कार्य करने पर मिलेगा सम्मान
 उन्नत जल प्रबन्धन तकनीकि से कृषि कार्य, हाईटेक उद्यानिकी, उन्नत पशुपालन, जैविक खेती व नवाचारी खेती आदि कार्य करने वाले कृषक पुरूस्कार चयन हेतु आवेदन निर्धारित प्रपत्रा में समस्त सूचना भरकर अपना पासपोर्ट साईज फोटो लगाकर कृषि एवं सम्बंधित क्षेत्रा में किये जा रहे उल्लेखनीय कार्यों की फोटो व सीडी सहित पूर्ण पत्रावली अपने नजदीक के सहायक निदेशक कृषि (विस्तार) कार्यालय के माध्यम से उप निदेशक कृषि एवं पदेन परियोजना निदेशक (आत्मा) श्रीगंगानगर में 30 सितम्बर 2020 तक प्रस्तुत कर सकते हैं। निर्धारित आवेदन पत्रा सभी सहायक निदेशक कृषि (विस्तार)/बीटीटी कन्वीनर कार्यालयों में उपलब्ध हैं। 
चयन प्रक्रिया
कृषक सम्मान हेतु आवेदन करने वाले कृषकों की उप निदेषक कृषि एवं परियोजना निदेशक आत्मा द्वारा उप निदेशक कृषि (विस्तार), जिला परिषद, संयुक्त निदेशक/उप निदेशक पशुपालन, सहायक निदेशक कृषि (विस्तार), सहायक निदेशक उद्यान एवं कृषि विज्ञान केन्द्र के वैज्ञानिक इत्यादि के माध्यम से प्रारंभिक जांच के पश्चात् पंचायत समिति वार सूची तैयार की जाकर, अंतिम रूप से चयन हेतु जिला कलक्टर एवं अध्यक्ष आत्मा की अनुमति से विचारार्थ शाषी परिषद् को प्रस्तुत किया जायेगा। शाषी परिषद् द्वारा इन नामांकनों में से प्रत्येक पंचायत समिति में पांच कृषकों का चयन किया जायेगा। पंचायत समिति वार चयनित कृषकांे में से ही जिला स्तर के 10 कृषकों का पुनः चयन किया जायेगा। जिला स्तर पर चयनित कृषकों मंे से राज्य स्तर पर चयन किया जावेगा।
अधिक जानकारी के लिए दूरभाष नम्बर 0154-2441930, मोबाईल नम्बर 82092-31021, 88755-04142 पर सम्पर्क करें।

No comments:

Post a comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे