Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India प्रत्येक गांव में ‘‘अपनी बात‘‘ कार्यक्रम होंगेः- पुलिस अधीक्षक - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Friday, 16 October 2020

प्रत्येक गांव में ‘‘अपनी बात‘‘ कार्यक्रम होंगेः- पुलिस अधीक्षक

 


महिला अत्याचार रोकने के लिये ‘‘आवाज‘‘ अभियान चलेगाः- जिला कलक्टर

प्रत्येक गांव में ‘‘अपनी बात‘‘ कार्यक्रम होंगेः- पुलिस अधीक्षक 
श्रीगंगानगर, । जिला कलक्टर श्री महावीर प्रसाद वर्मा ने कहा कि महिला अत्याचार न हो, इसको लेकर जागरूकता लाने के उद्देश्य से एक माह तक के लिये एक विशेष अभियान आवाज (एक्शन अंगेस्ट वुमन रिलेटिड क्राईम एंड अवेयरनेस फाॅर जस्टिस) चलाया जायेगा, जिसमें ग्राम स्तर तक बैठकें आयोजित कर जागरूकता को बढ़ावा दिया जायेगा। इस अभियान का उद्देश्य महिलाओं के प्रति व्यवहार अच्छा व सम्मानजनक हो। महिलाओं के प्रति सम्मान की भावना पैदा हो, इसके लिये अभियान चलाया जायेगा। 
जिला कलक्टर श्री वर्मा शुक्रवार को कलेक्ट्रेट सभाहाॅल में महिला अत्याचार के प्रकरणों में जागरूकता लाने के लिये आयोजित बैठक में आवश्यक निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि महिलाओं व बालिकाओं की सुरक्षा को सुनिश्चित करने, अपने अधिकारों एवं कानूनों की जानकारी, महिला सुरक्षा एवं सम्मान का भाव जागृत करने के लिये ग्राम स्तर तक बैठकों का आयोजन होगा, जिसमें ग्राम स्तर के समस्त कार्मिक भाग लेंगे। उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी केन्द्रों व शिक्षण संस्थाओं में भी इस प्रकार की जानकारी व जागरूकता के लिये लगातार प्रयास किये जाये। जिले की 345 ग्राम पंचायतों में प्रतिदिन 28 ग्राम पंचायतों में कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे। पुलिस विभाग द्वारा निर्धारित तिथि के अनुसार अन्य विभागों के कार्मिक कार्यक्रम में शामिल होंगे। 
पुलिस अधीक्षक श्री राजन दुष्यंत ने कहा कि महिला अत्याचार को लेकर संवेदनशीलता बढ़ी है। राज्य सरकार के निर्देशानुसार जिले में आवाज अभियान चलाया जायेगा। एक माह में पूरे जिले को कवर किया जायेगा। इस अभियान में नोडल पुलिस विभाग रहेगा तथा जिला कलक्टर के निर्देशन में कार्यक्रम व गतिविधियां होगी। आवाज कार्यक्रम में मुख्य रूप से महिला बाल विकास, शिक्षा, ग्रामीण विकास पंचायती राज, चिकित्सा तथा समाज कल्याण विभाग की महत्वपूर्ण भूमिका रहेगी। 
उन्होंने कहा कि अपराधों में कमी लाने के लिये जागरूकता बढ़ाई जायेगी। इसके लिये पोस्टर, बैनर इत्यादि आंगनबाड़ी केन्द्रों, थानों, शिक्षण संस्थाओं, चिकित्सा केन्द्रों, बस स्टेण्ड इत्यादि पर वितरित व चस्पा किये जायेंगे। प्रत्येक ग्राम पंचायत में अपनी बात को लेकर बैठक होगी, जिसमें विभिन्न विभागों के कार्मिक, सामाजिक संगठन, पटवारी, ग्राम सेवक भाग लेकर महिलाओं व युवा वर्ग से संवाद किया जायेगा। महिला अधिकार, समानता, कानून की जानकारी, अपराध के बाद सजा का प्रावधान की जानकारी देते हुए युवाओं को अपराध से दूर रहने की जानकारी दी जायेगी। राजीविका, आरएसएलडीसी तथा स्वयं सहायता समूहों को भी शामिल किया जायेगा। 
बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर प्रशासन डाॅ. गुंजन सोनी, सीईओ जिला परिषद श्रीमती टीना डाबी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. गिरधारी लाल, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री सहीराम, सीओ सिटी श्री स्माईल खान, पीएमओ डाॅ. के.एस.कामरा, सहायक निदेशक महिला अधिकारी श्री विजय कुमार सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे

No comments:

Post a comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे