Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India मुख्यमंत्री ने ली कोविड-19 संबंधित बैठक सबका एक ही टास्क हो ,हर चेहरे पर मास्क हो, का दिया नारा - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Tuesday, 10 November 2020

मुख्यमंत्री ने ली कोविड-19 संबंधित बैठक सबका एक ही टास्क हो ,हर चेहरे पर मास्क हो, का दिया नारा

 


मुख्यमंत्री ने ली कोविड-19 संबंधित बैठक
सबका एक ही टास्क हो ,हर चेहरे पर मास्क हो, का दिया नारा
श्रीगंगानगर, । कोविड-19 सम्बंधित समीक्षा बैठक मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में सांय चार बजे वीसी के माध्यम से आयोजित की गई।
 श्री गहलोत ने कहा कि लक्षण ना होने पर भी ध्यान रखें, आवश्यकता पड़ने पर सीटी स्कैन करवाएं ताकि समय पर ईलाज मिल सके। आमजन स्वेच्छा से मास्क लगाएं व सतर्क रहें। सब का एक ही टास्क हो हर चेहरे पर मास्क हो। मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने इस समीक्षा बैठक के दौरान यह नारा दिया व कहा कि मास्क लगाना सबसे जरूरी है जो व्यक्ति मास्क लगाएगा उसकी जिंदगी सुरक्षित रहेगी।
  इस बैठक में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डाॅ रघु शर्मा व समस्त जिला कलक्टर उपस्थित रहे। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री श्री रघु शर्मा बिहार दौरे पर थे। उन्होंने वीसी के माध्यम से ही संबोधित किया व कहा कि राजस्थान सरकार द्वारा किए गये प्रयासों के कारण ही आज राजस्थान की जनता सुरक्षित हैं व यहाँ चिकित्सकीय सुविधाएँ अन्य राज्यों की अपेक्षा बेहतर स्थिति में है।
 मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने कोविड-19 की समीक्षा करते हुए सभी जिला कलेक्टरों को निर्देशित किया। उन्होंने श्रीगंगानगर के सीएमएचओ श्री गिरधारी लाल मेहरड़ा से संवाद स्थापित किया। उन्होंने कहा कि श्रीगंगानगर में बाहर से आ रहे लोगों को भी ईलाज दिया जा रहा है। श्री मेहरड़ा ने कहा कि सभी विभागों के सहयोग से कोरोना को हराने में अपनी जी जान लगाई जा रही है। मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने पूर्ण सहयोग से कोरोना को हराने में संयम बरतने को कहा व कहा कि शीघ्र ही स्थिति में सुधार होगा। उन्होंने कहा कि राजस्थान अन्य प्रदेशों से बेहतर स्थिति में है सर्दी के मौसम में त्योहारों तथा चुनाव को देखते हुए अधिक सावधानी बरतने की जरूरत है।
 मुख्यमंत्री ने प्रदेश के सभी विभागों, नगर परिषद, नगर पालिकाओं, स्वास्थ्य विभाग आदि के प्रयासों के लिए उन्हें शाबाशी दी व आगे भी इसी प्रकार कार्य करने को प्रेरित किया।
उन्होंने कहा कि प्रदेश में स्थिति को नियंत्रण में रखने के लिए जनजागरूकता बढाई जाएगी।
जनप्रतिनिधियों व व्यापारिक संगठनों द्वारा उचित सामाजिक व्यवहार के लिए प्रेरित किया जायेगा। त्योहारों पर अतिरिक्त सतर्कता बरती जाये ताकि विकट स्थिति पैदा ना हो।
 मुख्य सचिव श्री निरंजन आर्य ने बताया कि होम क्वेरेंटीन किए गए लोगों को किट, बुकलेट तथा मास्क उपलब्ध कराये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि जिला कलक्टर टेस्टिंग पर स्वयं निगरानी रखेंगे और कोविड-19 की दैनिक समीक्षा की जा रही है। सभी जिलों में मेडिकल सुविधाएँ दी जा रही हैं, बचाव ही उपचार है।
 इस बैठक में मुख्य सचिव श्री निरंजन आर्य प्रिंसिपल सेक्रेटरी होम श्री अभय कुमार,  चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सचिव श्री सिद्धार्थ महाजन, एसूचना एवं जनसंपर्क आयुक्त श्री महेन्द्र सोनी सहित राज्य सरकार के उच्च अधिकारी मौजूद रहे।
 श्रीगंगानगर से अतिरिक्त जिला कलक्टर डाॅ0 गुंजन सोनी, अतिरिक्त जिला कलक्टर सतर्कता श्री अरविंद जाखड़, एसडीएम श्री उम्मेद सिंह रत्नु, यूआईटी सचिव डाॅ0 हरीतिमा जोशी, सीएमएचओ डाॅ0 गिरधारीलाल मेहरड़ा, नगरपरिषद आयुक्त प्रियंका बुडानिया सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे ।

No comments:

Post a comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे