Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India उत्तर पश्चिम रेलवे पर मनाया जा रहा है ऊर्जा संरक्षण सप्ताह - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Wednesday, 16 December 2020

उत्तर पश्चिम रेलवे पर मनाया जा रहा है ऊर्जा संरक्षण सप्ताह

श्रीगंगानगर,। उत्तर पश्चिम रेलवे द्वारा 14 दिसम्बर 2020 से 20 दिसम्बर 2020 तक कोविड-19 के दिश-निर्देशों का पालन करते हुए ऊर्जा संरक्षण सप्ताह मनाया जा रहा है। इस वर्ष राजस्थान राज्य ऊर्जा संरक्षण पुरस्कार 2020 के अंतर्गत उत्तर पश्चिम रेलवे ने सर्वाधिक 12 पुरस्कार प्राप्त किये है।

 उत्तर पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी लेफ्टिनेंट शशि किरण ने बताया कि राष्ट्रीय ऊर्जा दिवस प्रतिवर्ष 14 दिसम्बर को मानवता के भविष्य की ऊर्जा से संबंधित समस्याओं के प्रति लोगों को अधिक जागरूक करने के लिए मनाया जाता हैए जिसमें ऊर्जा संरक्षण की आवश्यकताए ऊर्जा दक्षताए ऊर्जा के उपयोग में मितव्ययता की जानकारी का प्रसार होता है। उत्तर पश्चिम रेलवे में वर्ष 2019-20 में 96 मिलियन यूनिट ऊर्जा का उपयोग किया गया हैए जिसमें विद्युत कर्षण में 5 मिलियन यूनिट व अन्य कार्यों में 90 मिलियन यूनिट तथा 34.26 लाख किलोलीटर डीजल, डीजल कर्षण में उपयोग में लाया गया है। इन क्षेत्रों में ऊर्जा की बचत के विभिन्न उपाय किये जा रहे है। ऊर्जा के वैकल्पिक संसाधनों, खास तौर पर सौर ऊर्जा के अंतर्गत इस रेलवे पर कुल 6973 के डब्ल्यूपी क्षमता के सोलर पावर पैनल प्लेटफार्म व कार्यालय भवनों की छतों पर लगाये गये है तथा 8.68 एम डब्ल्यू पी क्षमता के सोलर पाॅवर पैनल का कार्य चल रहा है। भूमि पर सोलर पावर पैनल लगाने के लिए 1306 एकड खाली रेलवे भूमि का निर्धारण कर लिया गया है। इससे फेज 1 में 603 एकड़ भूमि पर 151 मेगावाट के सोलर पावर प्लांट तथा फेज 3 में 802ण्07 एकड़ भूमि पर 200.51 मेगावाट के सोलर पावर प्लांट लगाने के लिए आरइएमसीएल ने निविदाएं आमंत्रित की है। वर्तमान में लगाये गये सोलर पैनल से लगभग 75 लाख यूनिट प्रतिवर्ष बिजली का उत्पादन होता है। इसके अलावा ऊर्जा दक्षता की वृद्धि से बिजली की बचत के लिए उत्तर पष्चिम रेलवे पर सभी विद्युतीकृत 561 रेलवे स्टेशनोंए सभी सर्विस बिल्डिंग तथा रेल आवासों में प्रकाश की व्यवस्था के लिए शत प्रतिशत ऊर्जा दक्ष एलईडी फिटिंग्स लगाई जा चुकी है। ऊर्जा संरक्षण की दृष्टि से पम्प्स पर वेब आधारित ओटोमेशन सिस्टम तथा ऊर्जा दक्ष उपकरणों जैसे कि 3 स्टार या अधिक रेटेड प्रोडेक्ट जिनमें फेन, एयरकंडीशनर, रेफ्रिजरेटर व पम्प्स शामिल है, को ज्यादा से ज्यादा उपयोग में लाया जाता है। दफ्तरों में ओक्युपेंसी सेंसर एवं स्टेशन परिसर में एलईडीयुक्त हाई मास्ट, स्ट्रीट लाईट तथा वाटर कूलरों में इलेक्ट्राॅनिक टाईमर का उपयोग किया जा रहा है।
श्री शशि किरण ने बताया कि ऊर्जा संरक्षण सप्ताह के दौरान अनेक कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे है। आज उत्तर पश्चिम रेलवे के प्रमुख स्टेशनों तथा रेलवे काॅलोनियों में ऊर्जा संरक्षण के लिए लोगों को परामर्श दिया गया तथा जागरूकता के लिए कार्यशाला का आयोजन किया गया। आगामी दिनों में रेलकर्मियों के मध्य ऊर्जा संरक्षण विषय पर निबंध तथा स्लोगन प्रतियोगिताए नुक्कड़  नाटक सभी मण्डलों तथा कारखानों पर आॅनलाइन वेबीनार स्कूल के विद्यार्थियो के लिए आॅनलाइन चित्रकला प्रतियोगिता आदि का आयोजन किया जायेंगा।

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे