Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India आमजन शीत लहर से बचने में सावधानी बरते - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Friday, 15 January 2021

आमजन शीत लहर से बचने में सावधानी बरते

श्रीगंगानगर।(सतवीर मेहरा) चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग राजस्थान जयपुर के निर्देशानुसार जन साधारण को शीत व शीत लहर से बचाव हेतु आवश्यक जानकारियां दी जायेगी।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. गिरधारी लाल ने बताया कि शीत लहर से प्रभावित रोगियों को समय पर उपचार देने की कार्यवाही चिकित्सालयों में की जायेगी। रैन बसेरों में रहने वाले व्यक्तियों की चिकित्सा सुविधा हेतु चिकित्सा दल का गठन कर समय-समय पर रैन बसेरों में ठहरने वालों के स्वास्थ्य की जांच करवाई जायेगी।
शीत लहर से बचाव
शीत लहर के लक्षणः शीत लहर से प्रभावित रोगियों के लक्षण में शरीर का ठंडा पड़ जाना, शरीर का सुन्न पड़ना, नाड़ी का धीमा व मंद पड़ जाना, रोये खड़े हो जाना व श्वसन तेज चलना आदि होने पर शीत लहर के लक्षण माने जायेंगे। शीत लहर से प्रभावित रोगी को समय पर उपचार नहीं मिलने से रोगी की मृत्यु भी हो सकती है।
शीत लहर बचाव के उपायः शीत लहर से बचने के लिये जहां तक हो सके घर के बाहर कार्यों के लिये दिन में निकले, स्वयं को व बच्चों को उपलब्ध ऊनी कपड़ों से ढ़कें, फुटपाथ पर रहने वाले भ्रमण शील जातियां जैसे भिखारी, गाड़िया लुहार आदि रात्रि मे रैन बसेरा, सार्वजनिक भवन व धर्मशालाओं में रहे तथा खुले स्थान पर न सोये। रात्रि में बाहर कार्य करना, रहना आवश्यक हो तो अपने पास अंगीठी, आवश्यक लकड़ी व कूडा करकट जलाकर अलाव लगाकर तापने की व्यवस्था करे।
शीत लहर में अधिकतर गर्म भोजन का सेवन करे और खाद्य पदार्थ जैसे गुड, तिल, चिकनाई, चाय, काॅफी आदि का सेवन करे। शारीरिक श्रम अधिक करे, हो सके तो सुबह व्यायाम करे, शरीर पर तेल की मालिश करे। जिस व्यक्ति को शीत, शीत लहर का प्रभाव पड़ जाये, उसे तत्काल कम्बल, रजाई आदि से ढ़के। पास में अंगीठी, हीटर आदि लगाए, कमरे में ताजा हवा का रास्ता बंद न करे, गर्म पेय पदार्थ गुड, चाय, चिकनाई, काॅफी, तेल का अधिक उपयोग करे।
गर्म पानी की थैली उपलब्ध हो तो उससे सेक करे, इसके पश्चात पास के चिकित्सालय में दिखाए, जहां तक हो सके गर्म पानी से नहाए। शीत, शीत लहर से प्रभावित होने पर व्यक्ति को शीघ्र ही नजदीकी चिकित्सा संस्थान में उपचार हेतु ले जाये या ले जाने की सलाह दे। विशेष रूप से कोविड-19 के बचाव हेतु लोगों को साबुन से हाथ धोने, चेहरे को ढ़कते हुए मास्क लगाने, सामाजिक दूरी पर रहने का पालन करने एवं इससे संबंधित समस्त गाईडलाईन का पालन करने की जानकारी दी जाये।

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे