Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य की जांच गुरुवार को, 79 चिकित्सा संस्थानों में मनाया जाएगा प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व दिवस - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Wednesday, 8 June 2022

गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य की जांच गुरुवार को, 79 चिकित्सा संस्थानों में मनाया जाएगा प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व दिवस

 गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य की जांच गुरुवार को, 79 चिकित्सा संस्थानों में मनाया जाएगा प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व दिवस

हनुमानगढ़, । चिकित्सा विभाग द्वारा गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य को लेकर 9 जून गुरुवार को जिले में प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व दिवस मनाया जाएगा। इस दिन जिले के सभी सीएचसी, पीएचसी, यूपीएचसी एवं जिला अस्पताल में गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य की जांच की जाएगी और जीवनरक्षक टीके भी लगाए जाएंगे।
आरसीएचओ डॉ. विक्रमसिंह ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की ओर से प्रत्येक माह की 9 तारीख को पीएमएसएमए दिवस मनाया जाता है। उन्होंने बताया कि गर्भवती महिलाओं को अपने स्वास्थ्य का ज्यादा ध्यान रखना चहिए ताकि गर्भ में पल रहा शिशु भी स्वस्थ और तंदुरुस्त हो। इसके लिए 9 जून को जिले के 79 चिकित्सा संस्थानों पर गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य की जांच की जाएगी, ताकि प्रसव के समय होने वाली जटिलताओं का पता लगाया जा सके और समय से पूर्व उनका निदान किया जा सके। उन्होने बताया कि गर्भवती महिलाओं को अपने खानपान का विशेष ध्यान रखना चाहिए। उसे पौष्टिक, संतुलित व आयरन युक्त आहार लेना चाहिए, ताकि शरीर में खून की कमी नहीं आए और प्रसव बिना किसी परेशानी के हो सके। डॉ. विक्रमसिंह ने बताया कि अभियान के अन्तर्गत प्रत्येक चिकित्सा संस्थान पर जिला एवं उपजिला अस्पताल पर कम से कम 150 से 200, प्रत्येक सीएचसी पर 100 एवं प्रत्येक पीएचसी पर 50 से 60 गर्भवती महिलाओं द्वारा भाग लिये जाने हेतु निर्देशित किया गया है। साथ ही अभियान के दौरान प्रसव पूर्व जांच की गुणवत्ता बनाए रखने के लिए जिला स्तरीय अधिकारियों सहित खण्ड मुख्य चिकित्सा अधिकारी, ब्लॉक कार्यक्रम प्रबंधक, ब्लॉक आशा सुपरवाइजर, पीएचएस (पीएचसी आशा सुपरवाइजर) को चिकित्सा संस्थानों का निरीक्षण करने तथा पाई गई कमियों को दूर करवाने के निर्देश दिए है।
 
ये सुविधाएं कराई जाएंगी उपलब्ध

अभियान के तहत रक्तचाप, शर्करा के स्तर, वजन, हीमोग्लोबिन परीक्षण, रक्त परीक्षण, एचआईबी जांच, एचआईवी जांच, हृदय स्पंदन की जांच और स्क्रीनिंग सहित चिकित्सा केन्द्रों पर कई परीक्षणों सहित आवश्यक औषधियों की निशुल्क सेवाएं उपलब्ध करायी जायेंगी। इस योजना से विशेषकर दूरस्थ ग्रामीण क्षेत्रों में गर्भवती महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान स्वास्थ्य संबंधी सहायता मिल रही है।
 
आशा को मिलेगी प्रोत्साहन राशि

अभियान के दौरान गर्भवती महिला का हाई रिस्क प्रेगनेंसी चिन्हित होने के बाद कम से कम तीन एएनसी जांच चिकित्सक अथवा स्त्री रोग विषेषज्ञ द्वारा करवाने पर आशा को प्रति एचआरपी 300 रूपये तथा एक बार उच्च जोखिम वाली गर्भवती महिला चिन्हित होने के उपरांत प्रसव एवं प्रसव पश्चात 45 दिनों तक हाई रिस्क मानते हुए ट्रेकिंग करने पर 500 रूपये प्रति एचआरपी आशा को देय होंगे।

जिले में 24 सेंटर्स पर होगा गर्भवती महिलाओं का निरूशुल्क अल्ट्रासाउण्ड

सीएमएचओ डॉ. नवनीत शर्मा ने बताया कि जिले में स्थापित 24 अल्ट्रासाउण्ड सेंटर्स पर गर्भवती महिलाओं की निरूशुल्क अल्ट्रासाउण्ड जांच की जाएगी। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार के निर्देशानुसार हर माह की 9 तारीख को आयोजित प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व दिवस पर गर्भवती  महिलाओं की निरूशुल्क अल्ट्रासाउण्ड जांच की जाती है। सरकारी चिकित्सा संस्थान पर कार्यरत डॉक्टर द्वारा आवश्यक होने पर गर्भवती महिला को अल्ट्रासाउण्ड करवाने के लिए पर्ची बनाकर दी जाएगी। उक्त पर्ची के आधार पर अल्ट्रासाउण्ड सेंटर गर्भवती महिला की जांच कर पाएगा। गर्भवती महिला के लिए यह सेवा निरूशुल्क रहेगी। अल्ट्रासाउण्ड पर होने वाला खर्च चिकित्सा विभाग द्वारा देय होगा। उन्होंने बताया कि जिले में इसके लिए भादरा में स्थापित 4 अल्ट्रासाउण्ड सेंटर, हनुमानगढ़ में 14, नोहर में 3, रावतसर में 1 एवं संगरिया में कार्यरत 2 अल्ट्रासाउण्ड सेंटर्स पर गर्भवती महिलाओं की अल्ट्रासाउण्ड जांच की जाएगी। 

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे