Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India आयुर्वेद विभाग नागरिकों को काढा पिलाये,10 जनवरी से शुरूवात करे-जिला कलेक्टर - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Wednesday, 9 January 2019

आयुर्वेद विभाग नागरिकों को काढा पिलाये,10 जनवरी से शुरूवात करे-जिला कलेक्टर


                                                                                      श्रीगंगानगर /विकास कार्यों में देरी न हो
जिला कलक्टर ने कहा कि जिले में संचालित विभिन्न विकास योजनाओं में स्वीकृत कार्य निर्धारित समय से पूर्व पूर्ण होने चाहिए। जो कार्य प्रारम्भ नही है, उन्हें प्रारम्भ किया जाये। जिन कार्यों की निविदा इत्यादि की जानी है, उसमें देरी न करें। किसी कार्य में विलम्ब के लिये संबंधित अधिकारी जिम्मेदार होगा। प्रत्येक विकास कार्यों की साप्ताहिक मॉनिटरिंग की जायेगी। हर सप्ताह पूछा जायेगा कि विकास कार्य कहा तक पहुंचा है। उन्होंने कहा कि जिले में संचालित सभी गौरवपथ अप्रेल 2019 तक पूर्ण होने चाहिए। जो दो कार्य प्रारम्भ नही है, उन्हें भी तत्काल प्रारम्भ किया जाये।
आयुर्वेद विभाग नागरिकों को काढा पिलाये
जिला कलक्टर ने कहा कि आयुर्वेद विभाग द्वारा वैज्ञानिक तरीके से तैयार किया गया काढा बहुउपयोगी है। विभाग को जगह-जगह कैम्प लगाकर नागरिकों को काढा पिलाना चाहिए। उन्होंने कहा कि बस अड्डा, रेलवे स्टेशन व सार्वजनिक स्थलों पर काढा पिलाने का अभियान शुरू किया जाये। जिला कलक्टर ने कहा कि इसकी शुरूवात 10 जनवरी से कर दी जाये, जिसमें मैं स्वयं काढा पीने पहुंचुगा। आमजन में एक विश्वास की भावना पैदा करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि जिले में स्वाईन फ्लू नियंत्राण में है, जो इस क्षेत्रा के नागरिकों के लिये अच्छी बात है, फिर भी विभाग को सर्तक रहना है। विभाग नागरिकों को स्वाईन फ्लू बचाव के तरीके व सावधानियां बताए।
किसी विभाग की सेवा बाधित न हो
जिला कलक्टर ने कहा कि निर्माण व विकास कार्यों में लगी ऐजेंसियों को इस बात का ध्यान रखना होगा कि भूमिगत कार्य करते समय किसी भी विभाग की सेवा बाधित न हो। अगर बाधित होती है, तो वह विभाग जिम्मेदार होगा। इसके लिये रोड कटिंग से पूर्व नगरपरिषद की एनओसी लेनी होगी। नगरपरिषद यह तय करेगा कि कितनी राशि धरोहर के रूप में रखनी है। तोड़ी गई सड़क संबंधित ऐजेंसी द्वारा पुनः पूर्व जैसी बना देते है तो ठीक है अन्यथा धरोहर राशि से सड़क को ठीक किया जायेगा। 

No comments:

Post a comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे