Report Exclusive, Lok Sabha Elections 2019: Latest News, Photos, and Videos on India General Elections, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India जिले में संचालित बर्फ फैक्ट्रियों का निरीक्षण करेंः- जिला कलक्टर - Report Exclusive

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Tuesday, 9 July 2019

जिले में संचालित बर्फ फैक्ट्रियों का निरीक्षण करेंः- जिला कलक्टर


नहरों के लिये खतरा बने पेड़ ही हटाये
दोगुनी संख्या में पेड़ लगाने भी होंगे
जिले में संचालित बर्फ फैक्ट्रियों का निरीक्षण करेंः- जिला कलक्टर
श्रीगंगानगर। जिला कलक्टर श्री शिवप्रसाद मदन नकाते ने कहा कि सिंचाई व वन विभाग नहरों के किनारे ऐसे पेड़ों को हटाये जो नहरों के लिये खतरा बने हुए है। जितने पेड़ नहर के पट्डडों से काटे जायेंगे, उससे दो गुणा पेड़ लगाने भी होंगे। 
जिला कलक्टर श्री नकाते मंगलवार को कलेक्ट्रेट सभाहॉल में आयोजित जिला स्तरीय अधिकारियों की बैठक में आवश्यक निर्देश दे रहे थे। बैठक में बताया गया कि एच नहर से ऐसे 570 पेड हटाये गये है तथा 7 नहरों का संयुक्त सर्वें किया गया है। नहरों के किनारे वे ही पेड़ चिन्हित किये जायेंगे, जिनसे नहर के टुटने का खतरा है। जिला कलक्टर ने कहा कि 20 सूत्रा कार्यक्रम की प्रगति में तेजी लायी जाये तथा प्रगति को ऑनलाईन अपडेट भी करें। 
बैठक में जिला चिकित्सालय में पुलिस चौकी के लिये स्थान चिन्हित करने, सुखाड़िया सर्किल से मीरा चौक तक नाला निर्माण व इंटरलोकिंग के कार्य में तेजी लाने तथा डिवाईडर निर्माण का कार्य प्रारम्भ करने के निर्देश दिये गये। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को जिले की चिकित्सीय संस्थाओं का नियमित निरीक्षण करने तथा बर्फ की फैक्ट्रियों की जांच करने के निर्देश दिये गये। नशे के विरूद्ध अभियान को जारी रखने पर बल दिया गया। महाराजा गंगासिंह स्टेडियम में सिंथैटिक ट्रेक निर्माण कार्य के अलावा खेल उपकरणों को स्थापित करने के लिये समिति बनाकर सभी आवश्यक कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिये गये। सिंथैटिक ट्रेक की सुरक्षा के लिये जाली भी लगाई जायेगी। 
जिला कलक्टर ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि जिले के प्रभारी मंत्रा द्वारा गत बैठक में दिये गये निर्देशों की पालना रिपोर्ट आगामी बैठक में प्रस्तुत करनी होगी। जिले में महात्मा गांधी नरेगा योजना के तहत 82 हजार श्रमिक कार्यरत है। पेयजल परियोजनाओं की सफाई के लिये भी प्लान बनाने के निर्देश अधीक्षण अभियंता को दिये। जिले में कुतों की संख्या को नियंत्रित करने के लिये पशुपालन विभाग स्थानीय निकायों के साथ मिलकर प्रभावी कार्यवाही करेगें। जिला कलक्टर ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि जलशक्ति योजना के प्रस्ताव 7 दिवस में तैयार कर आवश्यक रूप से प्रस्तुत करें। 
बैठक में श्रम विभाग द्वारा किये जा रहे भौतिक सत्यापन के कार्यों में तेजी लाने के साथ ही पंजाब क्षेत्र में अनाधिकृत पाईप लगाकर पानी चोरी करने, पाईपें हटाने की साप्ताहिक रिपोर्ट प्रस्तुत करनी होगी। जलसंसाधन विभाग राजस्थान के सहायक अभियंता, जो पंजाब में तैनात है, उन्हें प्रतिसप्ताह रिपोर्ट करनी होगी। बैठक में जानकारी दी गई कि सादुलशहर-गंगानगर सड़क मार्ग का कार्य प्रारम्भ कर दिया गया है।
बैठक में एडीएम शहर श्री राजवीर सिंह, मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री सौरभ स्वामी, अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ. हरितिमा, उप पुलिस अधीक्षक डॉ.रामप्रताप, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. नरेश बंसल, पीएमओ डॉ. के.एस.कामरा, जिला परिवहन अधिकारी सुमन, पीडब्ल्यूडी के अधीक्षण अभियंता श्री सुशील बिश्नोई सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे। 

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे