Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India नौनिहालों को बचाएंगे डायरिया और कुपोषण से - सशक्त दस्त नियंत्रण पखवाड़ा की शुरूआत जिले में आज से, ढाई से पांच साल तक के बच्चे होंगे लाभान्वित - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Wednesday, 15 July 2020

नौनिहालों को बचाएंगे डायरिया और कुपोषण से - सशक्त दस्त नियंत्रण पखवाड़ा की शुरूआत जिले में आज से, ढाई से पांच साल तक के बच्चे होंगे लाभान्वित


नौनिहालों को बचाएंगे डायरिया और कुपोषण से
- सशक्त दस्त नियंत्रण पखवाड़ा की शुरूआत जिले में आज से, ढाई से पांच साल तक के बच्चे होंगे लाभान्वित
- सरकारी चिकित्सा संस्थानों और आंगनबाड़ी केन्द्रों में बांटी जाएगी जिंक टेबलेट और ओआरएस के पैकेट्स

हनुमानगढ़। राज्य के नौनिहालों को डायरिया से मुक्त करने के लिए ओआरएस का घोल और जिंक टेबलेट दी जाएगी। इसके लिए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग ने पूरी तैयारियां पूर्ण कर ली है। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के विशिष्ट शासन सचिव व मिशन निदेशक एनएचएम नरेश ठकराल ने सशक्त दस्त नियंत्रण पखवाड़ा के आयोजन को लेकर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए हैं। उन्होंने निर्देश दिए हैं कि सभी चिकित्सा संस्थान व आंगनबाड़ी केन्द्र स्तर तक आवश्यकतानुसार जिंक टेबलेट और ओआरएस के पैकेट्स की आपूर्ति कम नहीं होनी चाहिए, यह सुनिश्चित कर लिया जाए। इसे लेकर 16 जुलाई, गुरूवार को मातृत्व एवं शिशु स्वास्थ्य दिवस पर हनुमानगढ़ जिले में ब्लॉक स्तर पर शुरूआत कार्यक्रम होंगे। 
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. अरूण कुमार ने बताया कि सशक्त दस्त नियंत्रण पखवाड़ा के तहत सभी सरकारी चिकित्सा संस्थानों में ओआरएस कॉर्नर बनाए जाएंगे। जिला अस्पताल, सीएचसी तथा पीएचसी तथा सब सेंटर स्तर पर ओआरएस कॉर्नर स्थापित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि महिला एवं बाल विकास विभाग के साथ जिला स्तर पर समन्वय स्थापित कर आईडीसीएफ पखवाड़े में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का भी सहयोग लिया जाएगा। 
अतिरिक्त मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पवन कुमार ने बताया कि सशक्त दस्त नियंत्रण पखवाड़ा में ढाई माह से लेकर पांच साल की उम्र तक के बच्चों को लाभान्वित किया जाएगा। इन बच्चों को ओआरएस का घोल का पिलाकर और जिंक टेबलेट देकर डायरिया व कुपोषण से दूर रखा जाए। 

No comments:

Post a comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे