Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India नशा मुक्त भारत अभियान 15 अगस्त से देश के 272 जिलों में श्रीगंगानगर का चयन - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Tuesday, 28 July 2020

नशा मुक्त भारत अभियान 15 अगस्त से देश के 272 जिलों में श्रीगंगानगर का चयन


नशा मुक्ति में श्रेष्ठ तीन में शामिल हो गंगानगर जिला: जिला कलक्टर
श्रीगंगानगर,। जिला कलक्टर श्री महावीर प्रसाद वर्मा ने कहा कि भारत सरकार द्वारा आगामी 15 अगस्त 2020 से नशा मुक्त भारत अभियान की शुरूआत की जा रही है। उन्होंने कहा कि श्रीगंगानगर जिले में नशे के विरूद्ध अभियान जारी है तथा इस जिले को नशा मुक्त करने के लिये ओर गति से कार्य करने की आवश्यकता है। उन्होंने आह्वान किया कि भारत सरकार द्वारा नशा मुक्त भारत अभियान में जो 272 जिले चिन्हित किये गये है, उनमें से श्रेष्ठ प्रथम तीन को पुरस्कृत किया जायेगा, प्रथम तीन में आने के लिये सकारात्मक प्रयास किये जाये। 
जिला कलक्टर मंगलवार को कलेक्ट्रेट सभाहाॅल में नशामुक्त भारत अभियान के तहत गठित जिला स्तरीय समन्वय समिति की बैठक में आवश्यक निर्देश दे रहे थे। उन्होंने अधिकारियों से आह्वान किया कि नशा मुक्त भारत अभियान में एक टीम के रूप में युद्ध स्तर पर अभियान चलाना है तथा श्रेष्ठ तीन जिलों में श्रीगंगानगर का चयन हो, ऐसी मैं मंशा रखता हूॅ। उन्होंने कहा कि गंगानगर जिले में पिछले कई वर्षों से नशे के विरूद्ध अभियान जारी है, जिसे नये तरीके से जन-जन तक पहुंचाकर इस बुराई को खत्म करना है। 
जिला कलक्टर ने कहा कि नशा मुक्त भारत अभियान में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य, महिला बाल विकास, पुलिस विभाग, सूचना एवं जन सम्पर्क, नेहरू युवा केन्द्र, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग, शिक्षा विभाग तथा स्काउट गाईड को जो उतरदायित्व दिये गये है, उनकी अक्षरशः पालना सुनिश्चित की जाये। उन्होंने कहा कि राजकीय विभागों के अलावा नशा मुक्त भारत अभियान में सामाजिक संस्थाओं का भी सहयोग लिया जाये, जिससे इस बुराई को जड़ से खत्म किया जा सके। राष्ट्रीय स्वास्थ्य कार्यक्रम, राष्ट्रीय तम्बाकू नियंत्रण के माध्यम से अभियान को आगे बढ़ाना है, वही पर पुलिस विभाग नशा करने वाले नागरिकों को शिविर लगाकर मुख्य धारा में जोड़ने का कार्य करेगी। 15 अगस्त से नशा मुक्त भारत अभियान की जागरूकता के लिये प्रचार रथ को कलेक्ट्रेट परिसर से रवाना किया जायेगा। युवाओं द्वारा सहभागी जागरूकता के लिये 50 युवाओं का चयन किया जायेगा, जिन्हें एनआईएसडी के आॅनलाईन माॅडयूल द्वारा प्रशिक्षण दिलवाया जायेगा। यह युवा जिले के युवा वर्ग को नशे से दूर रखने की प्रेरणा देंगे। 
पुलिस अधीक्षक श्री राजन दुष्यंत ने कहा कि नशा मुक्त भारत अभियान को कोरोनाकाल के दौरान थोड़ी सावधानी के साथ नियमों व गाईडलाईन की पालना करते हुए चलाया जायेगा। पुलिस विभाग द्वारा नशा मुक्ति शिविर में जहां 400 से 500 छात्रा भाग लेते थे, अब उनकी संख्या में थोड़ी कमी की जायेगी तथा सामाजिक दूरी की पालना करने हुए शिविर लगाये जायेंगे। उन्होंने कहा कि नशा मुक्त भारत अभियान की जागरूकता के लिये वैन के साथ-साथ सोशल मीडिया के माध्यम से व्यापक प्रचार किया जाये। नशा मुक्त अभियान में विभिन्न विभागों की महत्वपूर्ण भूमिका रहेगी, जो समय-समय पर  पुलिस विभाग को सूचना देंगे। 
पुलिस अधीक्षक ने कहा कि शिक्षण संस्थाओं के 100 मीटर दूरी तक तम्बाकू की ब्रिक्री न हो, कही पर ऐसा हो रहा है, इसकी सूचना शिक्षा विभाग के माध्यम से आनी चाहिए। उन्होंने कहा कि पोस्त व नशे की गोलियां इस क्षेत्रा में नशें का एक बड़ा कारण है। नशे की गोलियों की आपूर्ति चैन को तोड़ना होगा। युवाओं को विधालयों व महाविधालयों में भी नशे के नुकसान की जानकारी दी जायेगी। 
बैठक में एडीएम सर्तकता श्री अरविन्द जाखड़, सीएमएचओ डाॅ. गिरधारी लाल मेहरड़ा, सहायक निदेशक सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता श्री विक्रम सिंह, सहायक निदेशक औषधि डी.एस. उप्पल, अधीक्षण अभियंता श्री बलराम शर्मा, डाॅ. रविकान्त गोयल, स्काउट गाईड की मोनिका यादव, शिक्षा विभाग के श्री हरचंद गोस्वामी तथा सामाजिक संस्थाओं के पदाधिकारियों ने भाग लिया।

No comments:

Post a comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे