Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India राजनैतिक दलों की बैठक सम्पन्न - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Friday, 21 August 2020

राजनैतिक दलों की बैठक सम्पन्न

श्रीगंगानगर, 21 अगस्त। राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार अर्हता 1 जनवरी 2021 के संदर्भ में विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम से पूर्व की तैयारियों के लिये शुक्रवार को जिला कलक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री महावीर प्रसाद वर्मा की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभाहाॅल में मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों की बैठक आयोजित हुई। 

जिला कलक्टर ने कहा कि अहर्ता 1 जनवरी 2020 के संदर्भ में विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों की मतदाता सूचियों का अंतिम प्रकाशन 19 फरवरी 2020 को करवाया गया है, जिसके पश्चात मतदाता सूचियों में निरन्तर अद्यतन की प्रक्रिया प्रारम्भ है। निरन्तर अद्यतन की प्रक्रिया में प्राप्त आवेदनों का निस्तारण ईआरओ नेट पर किया जा रहा है। भारत निर्वाचन आयोग नई दिल्ली के निर्देशानुसार अहर्ता 1 जनवरी 2020 के संदर्भ में मतदाता सूचियों के विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम निर्धारित किया गया है। 
कार्यक्रम के अनुसार मतदाता सूचियों का प्रारूप प्रकाशन 16 नवम्बर 2020 को, दावे एवं आपत्तियां प्रस्तुत करने की तिथियां 16 नवम्बर से 15 दिसम्बर 2020, विशेष अभियान निर्वाचन विभाग के निर्देशानुसार विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण अभियान अंतर्गत दो दिवस शनिवार एवं रविवार रहेगा। दावे एवं आपत्तियों के निस्तारण की अंतिम तिथि 5 जनवरी 2021 रहेगी। स्वास्थ्य मापदण्डों की जांच कर अंतिम प्रकाशन हेतु कमीशन की अनुमति प्राप्त करना एवं पूरक सूचियों का मुद्रण 14 जनवरी 2021 को होगा तथा मतदाता सूचियों का अंतिम प्रकाशन 15 जनवरी 2021 को होगा। 
श्री वर्मा ने कहा कि मतदान केन्द्रों के सुव्यवस्थीकरण हेतु समस्त मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों द्वारा प्रत्येक मतदान केन्द्र पर अपने बीएलए नियुक्त करना, बीएलए द्वारा बीएलओ से समन्वय स्थापित कर मतदाता आवेदनों का निस्तारण, मतदान केन्द्र के सुव्यवस्थीकरण, विशेष योग्यजनों के मतदाता सूची में पंजीकरण आदि सुनिश्चित करने में सहायता करना है। प्रत्येक मतदान केन्द्र पर 1500 से अधिक मतदाता होने पर सुविधा अनुसार नये मतदान केन्द्र की स्थापना की जा सकती है एवं 1500 से अधिक मतदाताओं को निकटतम मतदान केन्द्रों पर स्थानांतरित किया जा सकता है। ऐसे मतदान केन्द्रों का भौतिक सत्यापन संबंधित निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण पदाधिकारियों द्वारा किये जाने में सहयोग प्रदान करना है। 
ऐसे मतदान केन्द्र जिन पर मतदाताओं की संख्या 100 एवं 100 से कम है, उन्हें निकटतम मतदान केन्द्रों पर स्थानांतरित किया जाना है। समस्त मतदान केन्द्रों पर आधारभूत सुविधाएं यथा (छाया, पानी, बिजली की व्यवस्था, प्रवेश एवं निकासी हेतु पृथक द्वार, विशेष योग्यजनों हेतु रैम्प की व्यवस्था इत्यादि ) सुनिश्चित करना है। मतदाताओं को मतदान केन्द्रों पर पहुंचने हेतु 2 किमी से अधिक दूरी तय नहीं करनी पडे, सुनिश्चित करना है। इसके अतिरिक्त मतदान केन्द्रों के सुव्यवस्थीकरण हेतु निर्धारित नियमों के अनुरूप कार्य करने हेतु बीएलओ से समन्वय स्थापित कर सहायता करना है। कोविड-19 की परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए अधिकतम मतदाताओं को मतदाता सूचियों में पंजीकरण, परिवर्तन, विलोपन आदि कार्य हेतु आॅनलाईन पोर्टल वोटर हैल्प लाईन, एनवीएसपी एवं मोबाईल एप्प का उपयोग करने हेतु बीएलए द्वारा प्रोत्साहित करने में सहयोग करना है। 
बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर सर्तकता श्री अरविन्द जाखड़, आईएनसी के भीमराज डाबी, सीपीआईएम के विजय रेवाड़, सीपीआई के रावताराम एवं बीएसपी के लूनाराम उपस्थित थे। 

No comments:

Post a comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे