Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India जिला अधिकारियों की समीक्षा बैठक सम्पन्न - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Tuesday, 12 January 2021

जिला अधिकारियों की समीक्षा बैठक सम्पन्न



जिला कलक्टर ने बैठक के दौरान लिया महत्वपूर्ण निर्णय

श्रीगंगानगर,। जिला कलक्टर श्री महावीर प्रसाद वर्मा ने समीक्षा बैठक के दौरान एसडीएम गंगानगर श्री उम्मेद सिंह रतनू को शिक्षिका सीमा सेठी के वेतन भुगतान संबंधी मामले में तुरन्त कार्यवाही करने के निर्देश दिये। बैठक के दौरान एसडीएम श्री रतनू ने सीमा सेठी से फोन पर जानकारी मांगी व उनकी समस्या का निस्तारण करने के लिये उन्हें अपने कार्यालय में बुलाया व तुरन्त ही उनके प्रकरण का निस्तारण करने का आश्वासन दिया व जिला शिक्षा अधिकारी को इस संबंध में निर्देशित किया।

मुख्यमंत्राी श्री अशोक गहलोत द्वारा बुधवार को वीसी लिये जाने के संबंध में सभी जिला अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक जिला कलेक्ट्रेट सभागार मे आयोजित की गई। बैठक के मुख्य ऐजेण्डे में मुख्यमंत्री सहायता कोष में दुर्घटना के लम्बित प्रकरणों, सिलीकोसिस से संबंधित प्रकरण, प्रधानमंत्री आवास योजना, ग्रामीण विकास की प्रगति, राजस्थान काश्तकारी अधिनियम 1955 की धारा 251 ए के तहत रास्तें से संबंधित राजस्व न्यायालयों में दर्ज प्रकरण, राजस्थान भू-राजस्व अधिनियम 1956 की धारा 136 के तहत राजस्व रिकाॅर्ड में शुद्धि के लम्बित प्रकरण, जिला कलक्टर्स, एसडीएम व तहसीलदारों के कार्यालयों में भू-उपयोग परिवर्तन के लम्बित प्रकरणों (ओद्यौगिक संपरिवर्तन सहित) एवं राजस्थान लोक सेवा प्रदाय गारंटी अधिनियम के तहत भूपरिवर्तन हेतु दर्ज प्रकरणों तथा उनके उच्च स्तर पर अग्रेषण की समीक्षा, डिजीटल इंडिया लैण्ड रिकाॅर्ड माॅडनाईजेशन कार्यक्रम के अंतर्गत भू-अभिलेख के कम्प्यूटरीकरण की प्रगति, गैर खातेदारी भूमियों पर खातेदारी अधिकार प्रदत्त करने संबंधी लम्बित प्रकरणों की समीक्षा तथा मुख्यमंत्री कार्यालय तथा राजस्थान सम्पर्क पोर्टल से प्रेषित प्रकरणों की समीक्षा संबंधी बिन्दुओं पर चर्चा की जायेगी।
जिला कलक्टर श्री वर्मा ने बताया कि जिले में माईनिंग नहीं होने की वजह से सिलीकोसिस का कोई प्रकरण दर्ज नहीं है। उन्होंने मुख्यमंत्री सहायता कोष में दुर्घटना के लम्बित प्रकरणों की समीक्षा की व संबंधित अधिकारियों को निर्देश प्रदान किये। जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री अशोक कुमार मीणा ने बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना में 2016 से 2019 के लक्ष्य के तहत 21 हजार 244 का लक्ष्य निर्धारित था तथा अब तक 21 हजार 59 आवास स्वीकृत किये जा चुके है। इसी प्रकार 2019-20 में 12 हजार 364 स्वीकृतियां जारी की गई है। जिले की प्रगति 98.22 प्रतिशत है तथा इस योजना में प्रदेश में श्रीगंगानगर जिला आठवें स्थान पर है।
जिला कलक्टर ने धारा 251 ए व धारा 136 के तहत लम्बित प्रकरणों की समीक्षा की व आवश्यक निर्देश दिये। एसडीएम गंगानगर ने बताया कि सूरतगढ में राजस्व रिकाॅर्ड आॅनलाईन करने का कार्य किया जा रहा है तथा आॅनलाईन गिरदावरी 100 प्रतिशत है। उन्होंने बताया कि 3060 गांवों में से 3058 गांव सेग्रीगेट किये जा चुके हैं।
जिला कलक्टर ने एसडीएम से विस्तार से चर्चा कर गैर खातेदारी प्रकरणों पर सुझाव मांगे ताकि प्रकरण शीघ्र निस्तारित करने के लिये सरकार को भेजे जा सकंे।
जल संसाधन विभाग के अधीक्षण अभियंता श्री प्रदीप रूस्तगी ने बताया कि गंगनहर में 1900 क्यूसेक पानी चल रहा है। वर्तमान में डैम में गत वर्ष की तुलना में पानी की मात्रा कम है। आज की तिथि से तुलना करंे तो गत वर्ष की तुलना में अब 3.1 एमएएफ पानी की मात्रा कम है।
मेडिकल काॅलेज व मिनी सचिवालय निर्माण कार्य की प्रगति पर की चर्चा
जिला कलक्टर श्री वर्मा ने मेडिकल काॅलेज निर्माण की प्रगति पर चर्चा की। उन्होंने बताया कि मेडिकल काॅलेज निर्माण कार्य 15 मार्च से प्रारम्भ होने की संभावना है। मेडिकल काॅलेज का विस्तार करने के संबंध में नन्दी शाला, रेड क्रास व मोर्चरी की पुरानी बिल्डिंग को डिसमेंटल किया जा चुका है। जिला कलक्टर ने इंडियन मेडिकल ऐसोसिएशन के भवन को डिसमेंटल करने के आदेश बैठक में प्रदान किये। उन्होंने बताया कि आईएमए को जल्द ही नई जगह आवंटित की जायेगी।
जिला कलक्टर ने कहा कि मिनी सचिवालय बनाने के संबंध में 36 बीघा भूमि का विक्रय कर पैसा एकत्रा किया जाना था, इस संबंध में यूआईटी को निर्देश प्रदान किये गये हैं तथा यूआईटी द्वारा 11 ब्लाॅक की नीलामी शीघ्र की जायेगी। उन्होंने बताया कि इस मिनी सचिवालय के पास की सड़का का बेस कार्य प्रारम्भ कर दिया जायेगा व सड़कों का डामरीकरण मार्च के बाद होगा। इस मिनी सचिवालय के बनने के बाद लगभग 84 कार्यालय इसमें शिफ्ट हो जायेंगे।
जिला कलक्टर ने जिले की विशेष उपलब्धियों के बारे में चर्चा की व बताया कि कायाकल्प व जल जीवन मिशन में जिला प्रथम स्थान पर है तथा ऐग्रो प्रोसेसिंग यूनिट में द्वितीय स्थान पर है। इसी प्रकार महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम के विधालय खोलने में श्रीगंगानगर जिले ने 100 प्रतिशत की उपलब्धि हासिल की है। जिला कलक्टर ने 20 सूत्राी कार्यक्रम व फ्लेगशिप योजनाओं की समीक्षा भी की। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि आयुष्मान भारत योजना में लाभान्वितों की जानकारी दी।
जिला कलक्टर ने साॅलिड वेस्ट मैनेजमेंट, वेट लैण्ड आदि पर चर्चा करते हुए आवश्यक दिशा निर्देश प्रदान किये। जिला कलक्टर ने इंदिरा रसोई के विषय में प्रगति की जानकारी ली। फिलहाल श्रीगंगानगर में तीन रसोई चल रही है। जिला कलक्टर ने विस्तार से चर्चा करते हुए इंदिरा रसोईयों के कार्य की समीक्षा की।
बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर प्रशासन श्री भवानी सिंह पंवार, अतिरिक्त जिला कलक्टर सर्तकता श्री अरविन्द जाखड़, न्यास सचिव डाॅ. हरितिमा, पेयजल विभाग के अधीक्षण अभियंता श्री बलराम शर्मा, विधुत के अधीक्षण अभियंता श्री जे.एस.पन्नू, उधोग केन्द्र के महाप्रबंधक श्री हरीश मित्तल सहित सभी जिला अधिकारी उपस्थित थे।

No comments:

Post a comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे