Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India पर्यावरण संरक्षण और हरित पर्यावरण की ओर उत्तर पश्चिम रेलवे के बढते कदम - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Wednesday, 21 April 2021

पर्यावरण संरक्षण और हरित पर्यावरण की ओर उत्तर पश्चिम रेलवे के बढते कदम

 

श्रीगंगानगर,। हरित पर्यावरण और पर्यावरण संरक्षण का उत्तरदायित्व आज व्यक्ति विशेष का न होकर सभी का हो गया है, ताकि आने वाली पीढ़ी को स्वस्थ जीवन प्रदान किया जा सके। ऊर्जा संरक्षण के साथ पर्यावरण को सुदृढ़ बनाने के लिये रेलवे भी लगातार सकारात्मक कदम उठा रहा है, जिसमें परम्परागत संसाधनों के स्थान पर पर्यावरण अनूकुल स्त्रोतो का अधिकाधिक उपयोग किया जा रहा हैं। रेलवे द्वारा किये गये पर्यावरण अनूकुल कार्यों की विभिन्न स्तरों पर सराहना की गई एवं पुरस्कृत भी किया गया है।
 उत्तर पश्चिम रेलवे के उपमहाप्रबन्धक (सामान्य) व मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी लेफ्टिनेंट शशि किरण के अनुसार उत्तर पश्चिम रेलवे पर उत्तर पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक श्री आनन्द प्रकाश के. दिशा-निर्देशों में विगत समय में पर्यावरण संरक्षण के कार्यों पर विशेष बल दिया गया। पर्यावरण व ऊर्जा संरक्षण के लिये सौलर पेनल की स्थापना, वाटर रि-साइक्लिंग व रैन वाटर हार्वेसटिंग प्लाट की स्थापना, कचरा निस्तारण प्रबंधन, स्वच्छता अभियान व वृक्षारोपण अभियान जैसे अनेक कार्य कर प्रतिबद्धता दर्शायी है।
 उन्होने बताया कि मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय भवन जयपुर को आईजीबीसी  (इंडियन ग्रीन बिल्डिग काउंसिल) द्वारा प्लेटिनम रेटिंग प्रदान की गई है। काउंसिल द्वारा मार्च 2021 में किए गए निरीक्षण व आंकलन पर यह प्लेटिनम रेटिंग प्रदान की गई है। जयपुर मंडल आईजीबीसी द्वारा चार प्लेटिनम ग्रीटिंग प्राप्त करने वाला भारतीय रेलवे का प्रथम मंडल है। इंडियन ग्रीन बिल्डिग काउंसिल ने हरित अवधारणा एवं तकनीक को प्रोत्साहित करने के लिए आईजीबीसी द्वारा ग्रीन एक्स्टिग बिल्डिग्स आॅपरेशन एंड मेंटेनेंस रेटिंग सिस्टम की शुरुआत की थी। हरित अवधारणा एवं तकनीक राष्ट्रीय प्राथमिकताओं जैसे उपभोक्ता अपशिष्ट प्रबंधन, जल प्रबंधन, जीवाश्म ईंधन के उपयोग में कमी, ऊर्जा दक्षता तथा प्राकृतिक संसाधनों के संरक्षण में सहायक होती हैं। मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय भवन, जयपुर का मूल्यांकन इसी प्रणाली के तहत किया गया था। इस भवन के स्थान व सुविधा प्रबंधन, जल दक्षता, ऊर्जा दक्षता एवं स्वास्थ्य सुविधाओं जैसी पर्यावरण के अनुकूल तथ्यों पर काउंसिल ने रिपोर्ट तैयार की है।
 उत्तर पश्चिम रेलवे के प्रधान कार्यालय बिल्डिंग जयपुर सेन्ट्रल हाॅस्पीटल जयपुर, जयपुर रेलवे स्टेशन एवं मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय भवन को आईजीबीसी द्वारा प्लेटिनम रेटिंग प्रदान की गई है तथा कैरिज वर्कशाॅप, अजमेर, बीकानेर व जोधपुर, लोको वर्कशाॅप, अजमेर, रेलवे स्टेशन बीकानेर रेलवे हाॅस्पीटल अजमेर को भी ग्रीन रेटिंग प्रदान की गई है। 22 अप्रैल सम्पूर्ण विश्व में पृथ्वी के संरक्षण के लिये वल्र्ड अर्थ डे के रूप में मनाया जाता है। इस विश्वव्यापी अभियान में रेलवे भी पर्यावरण के प्रति अपने दायित्व के प्रति जागरूक रह कर अपना योगदान प्रदान कर रहा है। पर्यावरण के प्रति प्रतिबद्धता के लिये रेलवे का यह प्रयास निरंतर और अनवरत जारी है और आने वाले समय में इसको और सुदृढ़ किया जायेगा। 

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे