Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India स्थानीय स्तर पर टीमों का गठन करें, जिससे अधिक से अधिक लाभार्थियों का वैक्सीनेशन किया जाये - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Tuesday, 6 April 2021

स्थानीय स्तर पर टीमों का गठन करें, जिससे अधिक से अधिक लाभार्थियों का वैक्सीनेशन किया जाये

श्रीगंगानगर। चिकित्सा विभाग के सचिव ने 1 अप्रैल 2021 से 45 वर्ष से अधिक उम्र के सभी व्यक्तियों का कोविड-19 वैक्सीनेशन हेतु आवश्यक कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश दिये हैं।

कोरोना-19 वायरस के संक्रमण से सम्पूर्ण विश्व प्रभावित रहा है तथा कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर की पूरी संभावना बन रही है। कोरोना के संक्रमण से बचाव हेतु भारत सरकार द्वारा 16 जनवरी से देशव्यापी कोविड-19 वैक्सीन टीकाकरण अभियान शुरू किया गया है। केन्द्र सरकार द्वारा प्रदत्त दिशा निर्देशों के अनुसार 1 अप्रैल 2021 से 45 वर्ष से अधिक आयु के सभी व्यक्तियों का भी कोविड टीकाकरण प्रारम्भ किया गया है। राजस्थान में 60 वर्ष और इससे अधिक उम्र के लगभग 86 लाख लाभार्थियों के अलावा 45 से 59 वर्ष के 1.22 करोड़ व्यक्तियों को इस प्रकार के राज्य में कुल 2.09 करोड़ व्यक्तियों का टीकाकरण किया जाना है।
इस कार्य हेतु अधिकतम टीमों का गठन कर वैक्सीनेशन टीम सदस्यों को प्रशिक्षित किया जायें। जिससे प्रतिदिन राज्य में लगभग 5 हजार या उससे ज्यादा टीमों द्वारा वैक्सीनेशन किया जा सके। इसके लिये स्थानीय स्तर पर टीमों का गठन करें, जिससे कि अधिक से अधिक लाभार्थियों का वैक्सीनेशन किया जाये। वैक्सीनेशन टीम का गठन स्थानीय स्तर पर किया जाये एवं वैक्सीनेशन टीम के सभी सदस्यों, वैक्सीनेशन आफिसर का चयन एवं गठन मुख्य सचिव के आदेशानुसार उनका प्रशिक्षण करवाना सुनिश्चित करें। कुछ जिलों में यह देखा जा रहा है कि वैक्सीनेशन टीम जिला स्तर से भेजी जा रही है। टीमों का गठन जिला कलक्टर के निर्देशों के अनुसार उपखण्ड स्तर पर किया जायेगा एवं समस्त अभियान का समन्वय ब्लाक स्तरीय टास्क फोर्स द्वारा किया जायेगा।
वैक्सीनेशन की कार्ययोजना प्रत्येक सत्र स्थल पर 200 या अधिक लाभार्थियों व संस्थान की क्षमता के अनुसार बनाई जाये। वर्तमान में कुछ जिलों में एक कोविड वैक्सीनेशन सत्रा पर 30 से 40 लाभार्थियों को भी टीकाकृत किया जा रहा है। जिला अस्पताल, उप जिला अस्पताल एवं निजी अस्पताल में सुविधा अनुसार सप्ताह में 7 दिवस भी टीकाकरण किया जाये। एक कोविड वैक्सीनेशन सेन्टर पर अधिक लाभार्थी होने पर दो से तीन वैक्सीनेटर तथा वैरिफायर की नियुक्ति की जाये। ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड वैक्सीनेशन ग्राम पंचायतवार अर्थात पहले एक ग्राम पंचायत के सभी गांवों में टीकाकरण पूर्ण करने के बाद ही अगली ग्राम पंचायत के गांवों में टीकाकरण शुरू किया जाये, इसी प्रकार शहरी क्षेत्रों में एक या कुछ वार्ड का वार्डवाइज टीकाकरण किया जाना है।
किसी परिवार से व्यक्ति टीकाकरण के लिये नहीं आया है या उस परिवार से कम लाभार्थी आये है। इसके लिये स्थानीय पटवारी, ग्राम सेवक, कृषि विभाग के कार्मिक, सरपंच, आंगनबाड़ी व आशा कार्यकर्ता या स्थानीय शिक्षकों द्वारा भी उस लाभार्थी से सम्पर्क कर या फोन पर टीकाकरण हेतु मोबिलाइजेशन कर बुलाया जाये। सरपंच, वार्डपंच, ग्राम सेवक, पटवारी, एएनएम, अध्यापक, बीएलओ, आंगनबाड़ी एवं आशा कार्यकर्ता एवं अन्य व्यक्ति जो कि टीकाकृत हो चुके हैं, वह लोगों को कोविड टीकाकरण हेतु प्रेरित कर मोबिलाईज करेंगे।
आधार कार्ड उपलब्ध होने पर वैरिफिकेशन आधार कार्ड से किये जायें। प्रथम डोज के साथ हेल्थ केयर एवं फ्रंट लाईन वकर्स को द्वितीय डोज तथा ऐसे व्यक्ति जिनकी उम्र 45 से 59 वर्ष है एवं गंभीर रोग से ग्रसित हैं तथा 60 वर्ष से अधिक उम्र के व्यक्ति जिनको प्रथम डोज दी जा चुकी है, यदि उनकी दूसरी डोज दिया जाना शेष है, तो उनको दूसरी डोज भी लगाई जाये।

No comments:

Post a comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे