Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India जिलाव्यापी वृहद एवं व्यवस्थित वृक्षारोपण अभियान - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Thursday, 10 June 2021

जिलाव्यापी वृहद एवं व्यवस्थित वृक्षारोपण अभियान

 जिलाव्यापी वृहद एवं व्यवस्थित वृक्षारोपण अभियान

श्रीगंगानगर,। जिला कलक्टर श्री जाकिर हुसैन ने बताया कि माननीय मुख्यमंत्री द्वारा ग्रामीण विकास योजनाओं की समीक्षा बैठक में दिये गये निर्देशों के अनुरूप आगामी मानसून सत्र के दौरान जिले में जिलाव्यापी वृहद एवं व्यवस्थित वृक्षारोपण अभियान चलाया जायेगा।
उन्होंने बताया कि पंचायती राज विभाग के निर्देशानुसार 11 जून तक वृक्षारोपण की कार्ययोजना तैयार की जायेगी। 15 जून तक विभिन्न स्तरों पर समन्वय बैठक तथा 25 जून तक वृक्षारोपण के लिये पूर्व तैयारी, आवश्यक व्यवस्था, स्वीकृतियां जारी की जायेगी। वृक्षारोपण अभियान के दौरान मुख्य गतिविधियों, नवाचारों की वीडियोग्राफी करवाई जायेगी। विशेष उपलब्धियों के लिये कार्मिकों को राज्य स्तर पर पुरूस्कृत किया जायेगा। वृक्षारोपण के दौरान फलदार पेड़ पौधे, व्यवहारिक औषधीय पौधे तथा अलग-अलग स्थानों पर आवश्यकता के अनुरूप वृक्षारोपण किया जायेगा।
अभियान में पोषण वाटिका विकास कार्य किये जायेंगे, जिसमें फलदार औषधीय पौधे होंगे। वाटिका में मेहंदी, करोंदे, संतरे, नींबू, फलों के पौधे जैसे नींबू, अमरूद, केला, अनार, पपीता, बैर, आम, आंवला, किन्नू, संतरा, बील, जामुन इत्यादि तथा सब्जियों के पौधे भी लगाये जा सकते है। तुलसी, गिलोय, ऐलोवेरा आदि के पौधे लगाये जा सकते है। ग्रामीण क्षेत्र में महात्मा गांधी नरेगा योजनाओं के माध्यम से न्यूट्री गार्डन विकसित किये जा सकते है। आॅर्गेनिक वेस्ट को खाद में बदलने के लिये गड्ढा बनाया जा सकता है। रिचार्ज पिट बनाये जा सकते है।
सामान्य वृक्षारोपण में सड़क के किनारे, चारागाह विकास, माॅडल तालाब, वन विभाग की भूमि, स्टेडियम, शमशान, कब्रिस्तान, नहर के किनारे राजकीय भवन, राजकीय शिक्षण संस्था, आंगनबाड़ी, पंचायत भवन, एएनएम सेन्टर, पंचायत समिति कार्यालय तथा जल ग्रहण क्षेत्रों में सघन वृक्षारोपण किया जा सकता है।

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे