Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India प्रभारी मंत्री ने ली समीक्षा बैठक ,कोविड की तीसरी लहर के मद्देनजर हर ब्लाॅक हेडक्वार्टर पर करें बच्चों के लिऐ बेड की व्यवस्था - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Tuesday, 24 August 2021

प्रभारी मंत्री ने ली समीक्षा बैठक ,कोविड की तीसरी लहर के मद्देनजर हर ब्लाॅक हेडक्वार्टर पर करें बच्चों के लिऐ बेड की व्यवस्था

श्रीगंगानगर। ऊर्जा, जनस्वास्थ्य अभियान्त्रिकी एवं भू-जल, कला, साहित्य, संस्कृति एवं पुरातत्व विभाग एवं जिले के प्रभारी मंत्री डाॅ. बी.डी. कल्ला ने मंगलवार को सूरतगढ स्थित पंचायत समिति के सभागार में जिला स्तरीय अधिकारियों की समीक्षात्मक बैठक ली।

प्रभारी मंत्री डाॅ. बी.डी.कल्ला ने कोविड-19 की तीसरी लहर की संभावना को देखते हुए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग को पीडियाट्रिक व्यवस्थाएं रखने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि हर ब्लाॅक हेडक्वार्टर पर बच्चों के लिये बेड की व्यवस्था रखी जाये। सीएमएचओ डाॅ. गिरधारी लाल ने बताया कि श्रीगंगानगर में चार एक्टिव केस हैं तथा आॅक्सीजन बेड और जीवन रक्षक दवाईयां उपलब्ध हैं। आॅक्सीजन कंसट्रेटर 808 है इसी तरह पूर्व में वेंटिलेटर 29 थे और अभी 9 अन्य वेंटिलेटर रिजर्व में रखे गये हैं, 661 आॅक्सीजन बेड पूर्व में थे तथा 110 और बढ़ाये गये है।
प्रभारी मंत्राी ने कहा कि जन प्रतिनिधियों से राय लेकर उनके निर्वाचन क्षेत्रा में आ रही समस्याओं को दूर करें। विधायक कोटे से एम्बुलेंस या अन्य सुविधाओं का लाभ लें। उन्होंने कहा कि वेंटिलेटर के साथ ही बाईपैप की व्यवस्था अवश्य रखें।
20 सूत्री कार्यक्रम की समीक्षा
प्रभारी मंत्री ने स्वयं सहायता समूहों के गठन पर विस्तार से चर्चा की तथा निर्देशित किया कि इस कार्य में ए श्रेणी लाने का प्रयत्न करें। सीईओ जिला परिषद श्री अशोक कुमार मीणा ने बताया कि नरेगा में जिले की पोजिशन तीसरी है एवं वर्तमान में एक लाख 340 लेबर कार्यरत है। प्रभारी मंत्री ने कहा कि नरेगा श्रमिकों से नहरों की सफाई आदि कार्य भी अवश्य करायें। उन्होंने प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना, विधुत विभाग एवं पीएचईडी से 20 सूत्री कार्यक्रम में उनकी परर्फोमेंस सुधारने पर निर्देश प्रदान किये। उन्होंने कहा कि 2013 तक भारत सरकार रेगिस्तानी क्षेत्र में शत-प्रतिशत अनुदान देती थी, जो अब घटकर 35 प्रतिशत रह गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश को इस संकट की स्थिति से निकालने का कार्य केन्द्र सरकार अवश्य करे। पीएचईडी विभाग के अधिकारी ने बताया कि इस साल के कार्यों के वर्क आॅर्डर जारी कर दिये गये हैं। 98 प्रतिशत आंगनबाड़ी और स्कूलों को पेयजल कनेक्शन से जोड़ दिया गया है। बीस सूत्राी कार्यक्रम में महिला एवं बाल विकास, आंगनबाड़ी को ए ग्रेड मिला है ।
प्रभारी मंत्री ने कहा कि मानसून के देरी से आने से जो भी समस्याएं उत्पन्न हो रही है, पीएचईडी अधिकारी ब्लाॅक हेडक्वार्टर का दौरा कर उन्हें दूर करें। टयूबवैल के नये कनेक्शन जारी करें तथा सभी डिग्गियों को भरें। विधुत विभाग के अधीक्षण अभियंता श्री जे.एस.पन्नू ने बताया कि इस साल 650 कृषि कनेक्शन के विरूद्ध अब तक 373 कृषि कनेक्शन जारी किये गये हैं। प्रभारी मंत्री ने कहा कि पेंडिंग कनेक्शन को समय से पूरा करें। नये डिमांड नोट तब भरें जब सामग्री उपलब्ध हो। डिमांड नोट भरने के बाद एक महीने के भीतर ही कनेक्शन चालू करें। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारियों को किसानों के प्रति संवेदनशील होना जरूरी है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के निर्देशानुसार स्कूलों के ऊपर गुजरने वाली विधुत लाईन को निशुल्क हटाया जायेगा। इसी प्रकार घरों के ऊपर से गुजरने वाली लाईन को 50 प्रतिशत पैसा लेकर शिफ्ट किया जा सकेगा। उन्होंने विधुत विभाग के अधिकारी को निर्देशित किया कि जो ठेकेदार समय पर काम ना करे, उसे ब्लैक लिस्ट करें तथा राजियासर में आने वाली विधुत समस्याओं का निपटारा शीघ्र करे। वहां टांसफार्मर लगाने संबंधी समस्या है, जिसके लिये उन्होंने शीघ्र निस्तारण करने के निर्देश दिये। प्रभारी मंत्री ने बताया कि पीएचईडी में क्वालिटी कंट्रोल के लिये गाईडलाईन बना दी गई है। उन्होंने कहा कि यदि जनप्रतिनिधि अपने क्षेत्र की समस्याओं से अवगत कराते हैं तो अधिकारी तुरन्त इन मामलों को गंभीरता से लें। उन्होंने कहा कि कुछ दिन पूर्व केन्द्र सरकार द्वारा कोयले की सप्लाई बंद कर देने से विधुत संकट उत्पन्न हो गया था। राज्य सरकार ने तुरन्त संज्ञान लेते हुए इस समस्या को बातचीत द्वारा हल किया तथा अब पहले जैसी व्यवस्था हो गई है।
फ्लैगशिप योजनाओं पर की समीक्षा
प्रभारी मंत्री ने सभी विभागों से फ्लैगशिप योजनाओं पर जानकारी ली। सीएमएचओ ने बताया कि जिले में शुद्ध के लिये युद्ध अभियान ने गति पकड़ी है। 12 अगस्त को खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने ज्वाईन कर लिया है। उसके पश्चात दूध के 11, मिठाई के 5, मावे के 4 व घी-तेल के 5 सैम्पल लिये गये हैं। प्रभारी मंत्री ने कहा कि खाद्य पदार्थों में मिलावट को हर संभव प्रयत्न कर रोका जाये और मिलावट करने वालों व जमाखोरों पर कड़ी कार्यवाही हो। मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना के अंतर्गत आने वाली सभी दवाईयां उपलब्ध हैं। इसी प्रकार चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में जिले में 25 चिकित्सालय रजिस्ट्रर्ड हैं, जिनमें 95 हजार 335 परिवार रजिस्ट्रर्ड हैं। प्रभारी मंत्री ने निर्देशित किया कि शत-प्रतिशत रजिस्ट्रेशन किया जाये। हर पंचायत में कार्यक्रम बनाकर सभी व्यक्तियों को लाभान्वित किया जाये।
डीएसओ श्री राकेश सोनी ने बताया कि उनके द्वारा शत-प्रतिशत अनाज वितरण किया जा रहा है। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग ने सभी योजनाओं में नियमित भुगतान किये जा रहे हैं। शिक्षा विभाग के अधिकारी ने बताया कि महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम विधालयों में शिक्षकों के 29 पद खाली थे, जिनमें 26 पद भरे जा चुके हैं। एग्रो फूड प्रोसेसिंग यूनिट, कोल्ड स्टोरेज, वेयर हाउस, दाल मिल, आॅयल मिल के संबंध में जानकारी देते हुए अनाज मंडी गंगानगर के सचिव श्री लाजपत खुराना  ने बताया कि सरकार इन योजनाओं में 2 करोड़ तक के प्रोजेक्ट लगाने की स्वीकृति देती है, जिनमें किसानों को 50 प्रतिशत व अन्य को 25 प्रतिशत सब्सिडी का प्रावधान है। अभी तक चार दाल मिले, 8 आॅयल मिल, एक कोल्ड स्टोरेज लगाया गया है। इसी प्रकार वेयर हाउस के लिये 29 प्रकरण सेंक्शन किये गये हैं।
जन आधार कार्ड में अब तक के लक्ष्य की प्राप्ति कर ली गई है। इसी प्रकार कोरोना से प्रभावित परिवारों में 84 विधवा महिलाओं और एक अनाथ बच्चे को सहायता दी जा रही है। सिंचाई विभाग के अधिकारी ने बताया कि तीनों बांध पौंग, रणजीत सागर व भाखड़ा डेम मे पानी कुछ फीट खाली है, जिसकी वजह से पानी की उपलब्धता में समस्या आ रही है। प्रभारी मंत्री ने कहा कि किसानों की फसलों को आवश्यकता के अनुरूप सिंचाई पानी उपलब्ध करवाया जाये।
प्रभारी मंत्री ने कहा कि पानी की चोरी रोकने के लिये पुलिस की सहायता से गश्त बढ़ाएं व पानी की चोरी करने वालों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करें ताकि पानी किसान के खेतों तक पहुंच सके। उन्होंने कहा कि इससे लगभग 500 क्यूसेक पानी का फर्क पड़ेगा। उन्होंने मौजूद विधायकगणों से आग्रह किया कि फ्लैगशिप योजनाओं की जानकारी अपने-अपने क्षेत्र में आम आदमी को अवश्य दें ताकि आम आदमी अधिक से अधिक लाभान्वित हो सके। उन्होंने कहा कि सेन्ट्रल स्पाॅन्सर्ड स्कीम्स  में राजस्थान को शत-प्रतिशत राशि दी जाये।
बैठक में करणपुर विधायक श्री गुरमीत सिंह कुन्नर, रायसिंहनगर विधायक बलवीर लूथरा, अनूपगढ़ विधायक श्रीमती संतोष बावरी, सूरतगढ़ विधायक श्री रामप्रताप कासनिया उपस्थित थे।
बैठक में जिला कलक्टर श्री जाकिर हुसैन, जिला पुलिस अधीक्षक श्री राजन दुष्यंत, मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री अशोक कुमार मीणा, नगर विकास न्यास सचिव डाॅ. हरितिमा, उपनिदेशक कृषि जी.आर.मटोरिया, सहायक निदेशक उद्यान श्रीमती प्रीति गर्ग, जिला परिवहन अधिकारी श्री विनोद लेघा, सीडीईओ श्री हंसराज यादव, जिला उधोग केन्द्र महाप्रबंधक श्री हरीश मिततल, पीएमओ डाॅ. बलदेव सिंह, सहायक अभियंता सीमा, रविन्द्र कुमार, श्री अशोक कुमार, एल.आर.खुराना, एडीपीएस श्री ऋषभ जैन, सहायक निदेशक सूचना एवं जनसम्पर्क कार्यालय श्रीमती ऋतु सोढ़ी सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे