Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India नशे की आदत पर नियंत्रण पाना मुश्किल है, पर असंभव नहीं - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Friday, 28 January 2022

नशे की आदत पर नियंत्रण पाना मुश्किल है, पर असंभव नहीं

 नशे की आदत पर नियंत्रण पाना मुश्किल है, पर असंभव नहीं

फतूही में आयोजित नशा मुक्ति कार्यशाला में बोले वक्ता


श्रीगंगानगर,। कोई भी व्यक्ति नशेड़ी बनने के लिए नशे का सेवन कभी भी प्रारंभ नहीं करता। नशे का सेवन करने की एक बार की गलती से कोई भी व्यक्ति फिर नशे की गिरफ्त में आता चला जाता है और फिर यह उसकी आदत में शुमार हो जाता है। नशे की आदत पर नियंत्रण पाना मुश्किल है, परंतु असंभव नहीं है। किसी योग्य चिकित्सक  की सलाह व घरवालों के सक्रिय सहयोग से नशा छोड़ा जा सकता है। लोगों ने नशा छोड़ने को लेकर जो भ्रांतियां फैला रखी हैं, वो अच्छे भले किसी भी आदमी को नशे की आदत से बाहर नहीं आने देती। ये उदगार पुलिस थाना हिंदुमलकोट की ओर से  ग्राम पंचायत फतूही में आयोजित नशामुक्ति जनजागृति कार्यशाला व नशामुक्ति शिविर में मुख्य वक्ता के रूप में संबोधित करते हुए नशामुक्ति विशेषज्ञ डॉ0 रविकांत गोयल ने व्यक्त किये।
 डॉ0 गोयल ने नशेडियो के लक्षण, नशीले पदार्थाे के दुष्परिणाम, नशीले पदार्थाे से बचने के उपाय से अवगत करवाते हुए नशामुक्त जीवन जीने का आह्वान किया। शिक्षा विभाग के प्रतिनिधि श्री मुनीश कुमार लड्ढा ने इस अवसर पर कहा कि जिस देश का नौजवान नशे के दलदल में धंसकर किसी काम के योग्य ना रहे, ऐसे हालात हो जाये, उससे बड़ा दुर्भाग्य किसी देश का क्या हो सकता है। श्री लड्ढा ने नशे पर काबू पाने के लिए बुलंद हौसलों के साथ अपने-अपने क्षेत्र में काम करने का आह्वान गांव के जवानों, ग्रामीणों व बीट प्रभारी पुलिस के जवानों से किया। लड्ढा ने ग्रामीणों व विद्यार्थियों को नशामुक्त जीवन जीने का संकल्प भी दिलवाया।
 इस अवसर पर राजकीय माध्यमिक विद्यालय फतूही के प्रधानाध्यापक श्री ललित शर्मा ने संबोधित करते हुए कहा कि बढ़ते नशे पर नियंत्रण पाने के लिए नशे के नुकसान का आकलन खुद के परिवार के सदस्य जैसा विचार कर करेंगे, तो निश्चित रूप से नशे पर नियंत्रण शीघ्र पाया जा सकेगा। गांव के नौजवान स्वयं नशे से बचें और ग्रामीणों को भी नशे से बचाने में अपनी प्रभावी भूमिका अदा करे। नशामुक्ति जनजागृति कार्यशालाओ से जो वातावरण निर्मित हो रहा है, उसके सकारात्मक परिणाम निकट भविष्य में प्रभावी रूप से देखने में आयेंगे। ग्राम पंचायत सरपंच सुनीता देवी ने कहा कि नशा किसी भी रूप में हो, उसके परिणाम घातक होते हैं। मानव जीवन अनमोल है, इसे नशे में न गवाएं। नशा करने वाला व्यक्ति अपने साथ साथ परिवार का जीवन भी बर्बाद कर देता है।  विद्यार्थी नशो व अन्य बुराइयों से दूर रहकर अपने भविष्य में ऊंचे लक्ष्यों को पा सकते हैं। नशामुक्त समाज की रचना करने में सहयोगी बने।
 हिंदुमलकोट थाना से द्वितीय थानाधिकारी श्री रतिराम ने कहा कि आईपीएस सुधीर प्रताप सिंह ने नशामुक्त समाज की रचना का जो सपना संजोया था, वह हम सब लोगो के सहयोग से पूरा हो सकता है। श्रीगंगानगर जिले में नशामुक्ति की जो अलख उन्होंने जगाई थी, उसे आज भी हमारे वर्तमान जिला पुलिस अधीक्षक श्री आनंद शर्मा जोश के साथ प्रज्वलित किए हुए है। नशामुक्ति अभियान पुलिस प्रशासन  द्वारा चिकित्सा विभाग व शिक्षा विभाग के सहयोग से चलाया जा रहा है, जिसके सुखद परिणाम आ रहे हैं। युवा व जागरूक लोग इस अभियान के सहयोगी बनें। कार्यक्रम के अंत में डॉ रविकांत गोयल ने नशा छोड़ने के इच्छुक लोगो की जांच की व उन्हें उचित परामर्श दिया।

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे