Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India गाड़ी में अफीम रख फसाने के मामले में विरोध,व्यापारियों ने बाजार बंद रख जताया विरोध, साजिशकर्ताओं को तुंरत गिरफ्तार करने की मांग - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Tuesday, 24 May 2022

गाड़ी में अफीम रख फसाने के मामले में विरोध,व्यापारियों ने बाजार बंद रख जताया विरोध, साजिशकर्ताओं को तुंरत गिरफ्तार करने की मांग

हनुमानगढ़। जंक्शन के रेस्टोरेंट संचालक अनिल गक्खड़ को हरियाणा में अफीम तस्करी के झूठे मामले में फंसाने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। इस मामले में हरियाणा सीएम के निर्देश पर हुई जांच में फर्जी मुकदमें के 5 दिन बाद ही कल हरियाणा पुलिस ने अनिल गक्खड़ को निर्दोष साबित कर दिया और इस मामले में संगरिया से भाजपा विधायक गुरदीप शाहपीनी के भाई संगरिया के पूर्व प्रधान हरदीप शाहपीनी सहित कई जनों की भूमिका सामने आई है। वहीं इसी मामले में अनिल ने जिसे सहारा दिया और अपने व्यापार की जिम्मेदारी सौंपी वो भी इस मामले में स्लिंप्त पाया गया है जिससे भरोसे का भी खून हुआ है।


वहीं आज झूठे मामले के खिलाफ हनुमानगढ़ जंक्शन के व्यापारियों ने जंक्शन के बाजार बंद रख कर विरोध दर्ज करवाया और सभी दुकानदारों ने दोषियों की गिरफ्तारी की मांग रखी। व्यापारियों ने मौके पर बाजार बंद करवा कर धरना भी लगाया। 

आज व्यापारियों के बन्द के दौरान धरने पर भाजपा के कद्दावर नेता और राज्य के पूर्व केबिनेट मंत्री डॉ. रामप्रताप भी उनके समर्थन में धरने पर बैठे और व्यापारियों के आंदोलन को समर्थन दिया। 

गौरतलब है कि जंक्शन मुख्य बाजार में सागरमल बैजनाथ बिहाणी ट्रस्ट की करीब 250 दुकानों का विवाद चल रहा है और अनिल गक्खड़ इन दुकानदारों की अगुवाई कर रहा था और इसी रंजिश में ट्रस्ट पदाधिकारियों से मिलीभगत कर विधायक के भाई और अन्य कई जनों ने हरियाणा पुलिस की नारकोटिक्स सेल से मिलकर 6 दिन पहले अनिल गक्खड़ को डेढ़ किलो अफीम सहित हरियाणा में गिरफ्तार करवा दिया था जिसमें 5 दिनों में ही हरियाणा पुलिस ने मामले का खुलासा कर दिया।

अब इस मामले ने तूल पकड़ना शुरू कर दिया है व्यापारियों ने जहां आज विरोध दर्ज करवाया है तो वहीं इस विरोधाभास में किये गए कृत्य की निंदा भी की है। व्यापारियों ने कहा कि इस तरह के षड्यंत्र आमजन के हित मे नहीं है। ऐसा करने वालो के खिलाफ सभी को विरोध करना चाहिए। फिलहाल दुकानदारों ने हरियाणा पुलिस द्वारा किये गए खुलासे पर कहा कि हमे पहले ही विश्वास था कि अनिल को फंसाया गया है। इस मामले में आगे भी निष्पक्ष कार्रवाई करने की मांग की गई है।

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे