Report Exclusive, Lok Sabha Elections 2019: Latest News, Photos, and Videos on India General Elections, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India चुनाव जैसे महत्वपूर्ण कार्य में लापरवाही बर्दास्त नहीः- जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीगंगानगर - Report Exclusive

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Thursday, 4 October 2018

चुनाव जैसे महत्वपूर्ण कार्य में लापरवाही बर्दास्त नहीः- जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीगंगानगर





श्रीगंगानगर। जिला कलेक्टर व जिला निर्वाचन अधिकारी ज्ञानाराम ने कहा कि निर्वाचन आयोग ने जो जिम्मेदारी हमें सौंपी है, उसे भली प्रकार से निभानी होगी। चुनाव जैसे महत्वपूर्ण कार्य में लापरवाही बर्दास्त नही की जायेगी।
     ज्ञानाराम गुरूवार को डी.ए.वी शिक्षण संस्थान में सैक्टर अधिकारियों व पुलिस अधिकारियों के प्रशिक्षण कार्यक्रम में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि विधानसभा आम चुनाव 2018 का ऐसा माहौल तैयार करें, जिससे मतदाता निर्भीक होकर मतदान करने घरों से निकलें तथा बिना किसी भय के अपने मत का उपयोग करें। चुनाव में लगे समस्त अधिकारियों की जिम्मेदारी बनती है कि वे सभी के सहयोग से चुनाव को सफल बनाने में कामयाब होगें।
  चुनाव के दौरान शस्त्र जमा करावे
शस्त्र जमा नही कराने पर हो सकती है परेशानी
जिला निर्वाचन अधिकारी ज्ञानाराम ने कहा कि विधानसभा आम चुनाव 2018 को शांतिपूर्वक सम्पन्न करवाने तथा किसी अप्रिय घटना व आम चुनाव में धन बल के दुरूपयोग को रोकने के लिये सभी शस्त्र धारकों को अपने-अपने हथियार 5 अक्टूबर 2018 तक आवश्यक रूप से जमा कराने होगें। जिला श्रीगंगानगर में निवासरत व्यक्तियों के जिनको शस्त्र रखने का आर्म्स लाईसेंस मिला हुआ है, वे सभी अपने-अपने शस्त्र संबंधित पुलिस थाना, अधिकृत शस्त्र डीलर्स, यूनिट आरमरी में 5 अक्टूबर 2018 तक जमा करवाकर रसीद प्राप्त कर लेवे व इसकी सूचना संबंधित थाना को देवे। नियत समय में अपने शस्त्रा जमा नही करवाने वाले शस्त्र धारक के विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही की जावेगी, जिसमें उसके शस्त्र लाईसेंस के निलम्बन की कार्यवाही भी की जावेगी। किसी शस्त्र लाईसेंस धारक को हथियार जमा कराने के संबंध में कोई आपत्ति है तो वह अपनी परिवेदना संबंधित थानाधिकारी के प्रस्तुत कर सकता है।
    जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि 10 से 12 मतदान केन्द्रों पर एक सैक्टर अधिकारी होगा। प्रत्येक सेक्टर पर एक सैक्टर अधिकारी की नियुक्ति होगी। राजपत्रित अधिकारियों को सैक्टर अधिकारी लगाया गया है तथा एक सैक्टर में पुलिस अधिकारी की नियुक्ति की गई है। उन्होंने कहा कि सैक्टर अधिकारी आयोग द्वारा चुनाव घोषणा के साथ ही अपने-अपने क्षेत्र में सक्रिय हो जायेगें। प्रत्येक मतदान केन्द्र का दौरा करेगें तथा आमजन से भी मिलेगें। अगर किसी को मतदान करने में परेशानी हो, तो उनकी शंकाओ का समाधान करेंगे।
    आयोजित प्रशिक्षण में एडीएम प्रशासन नख्तदान बारहठ, एडीएम सर्तकता गोपालराम बिरदा, जिला आबकारी अधिकारी अमरनाथ अग्रवाल, प्रशिक्षक अशोक शर्मा, नवनीत, अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी सुरेन्द्र सोनी ने सैक्टर अधिकारियों को प्रशिक्षण दिया। 

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे