Report Exclusive, Lok Sabha Elections 2019: Latest News, Photos, and Videos on India General Elections, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India ठेकेदारों से लोकेशन पास कराने के नाम पर लूट रहे थे तो एसीबी ने मारा छापा,ये आई हक़ीक़त सामने - Report Exclusive

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Friday, 29 March 2019

ठेकेदारों से लोकेशन पास कराने के नाम पर लूट रहे थे तो एसीबी ने मारा छापा,ये आई हक़ीक़त सामने


हनुमानगढ़ आबकारी कार्यालय पर एसीबी का छापा
महिला कार्मिक सहित दो कर्मचारी गिरफ्तार
एक लाख से अधिक संदिग्ध राशि जब्त
आबकारी अधिकारी सहदेव रतनू से कड़ी पूछताछ
श्रीगंगानगर। हनुमानगढ़ में जिला आबकारी विभाग कार्यालय पर भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) की एक उच्च स्तरीय टीम ने गुरुवार शाम छापा मारा और एक वरिष्ठ लिपिक सहित दो कर्मचारियों को रिश्वतखोरी के जुर्म में गिरफ्तार कर लिया। इन कार्मिकों से एक लाख से अधिक की संदिग्ध राशि बरामद की गई है। छापेमारी के समय जिला आबकारी अधिकारी सहदेव रतनू अपने कार्यालय में मौजूद थे। एसीबी की टीम उन्हें भी संदेह के दायरे में लेते हुए कड़ी पूछताछ कर रही है। प्राप्त जानकारी के अनुसार एसीबी के उच्चाधिकारियों को दो-तीन दिन से गुप्त सूचनाएं मिल रही थीं कि हनुमानगढ़ में आबकारी विभाग के अधिकारी व कर्मचारी अगले वित्त वर्ष 2019-20 की अवधि के लिए जिनके नाम शराब ठेकों की लॉटरी निकली है, उनकी दुकानों की लोकेशन की मंजूरी के आवेदन का निस्तारण करने की एवज में पांच से सात हजार की रिश्वत बटौर रहे हैं। उच्चाधिकारियों ने इस पर कार्यवाही करने के लिए सीकर में एसीबी के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कमल प्रसाद को निर्देश दिये। उनकी टीम गुरुवार सुबह ही हनुमानगढ़ टाऊन आ गई। इस टीम ने गोपनीय रूप से टाऊन में आबकारी विभाग के कार्यालय के अंदर-बाहर नजर रखी। दिनभर शराब ठेकों के नये अनुज्ञाधारियों का अपने-अपने ठेकों की लोकेशन मंजूर करवाने के लिए आना-जाना लगा रहा। शाम लगभग 5 बजे कार्यालय बंद होने के समय एसीबी की टीम हरकत में आ गई। टीम ने जैसे ही कार्यालय में जाकर कर्मचारियों से पूछताछ करते हुए उनकी तलाशी लेनी शुरू की, तो वहां हडक़म्प मच गया। 

लगभग डेढ़ घंटे तक किसी को भी कार्यालय के अंदर-बाहर नहीं जाने दिया। शाम लगभग 7 बजे अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कमलप्रसाद ने बाहर मौजूद मीडियाकर्मियों को बताया कि इस कार्यालय में वरिष्ठ लिपिक कुलदीप पुत्र रामनारायण छीम्पा निवासी करतारसिंह कॉलोनी से 95 हजार और सूचना सहायक कर्मी सीमा मोदी पुत्री बाबूलाल मोदी निवासी हिसारिया मार्केट वार्ड नं. 21 के कब्जे से सात हजार की संदिग्ध राशि मिली है। उन्होने बताया कि वर्ष 2019-20 में शराब की दुकानों की स्वीकृतशुदा अनुज्ञाधारकों से दुकानों की लोकेशन पास करने के नाम पर कुलदीप व सीमा मोदी प्रत्येक लोकेशन पत्रावली पर पांच हजार रुपये की मांग कर रहे थे। उन्होंने बताया कि कार्यालय की सर्चिंग के दौरान कुलदीप की अलमारी में अलग-अलग ब्रांड की 21 शराब की बोतलें भी मिली हैं। इस सम्बंध में एसीबी द्वारा सम्बन्धित थाने में उस पर अवैध रूप से शराब रखने का मामला दर्ज करवाये जाने की सम्भावना है। 


उन्होंने बताया कि जब्त की गई राशि के बारे में कुलदीप और सीमा का कहना है कि उन्हेांने किसी से दो हजार, किसी से तीन तो किसी से एक हजार रुपये लिये हैं। सीमा के पर्स में अलग से 6300 रुपये मिले, जोकि उसने अपनी निजी राशि बताया। कुलदीप जब्त किये गये 95 हजार और सीमा सात हजार के बारे में कोई संतोषजनक जवाब नहीं दे पाये। एक सवाल के जवाब मेें कमलप्रसाद ने कहा कि जिला आबकारी अधिकारी से भी इस बारे में कड़ी पूछताछ की जा रही है। रिश्वतखोरी में उनकी लिप्तता पाई गई तो उनके खिलाफ भी भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत नियमानुसार कार्यवाही की जायेगी। 


No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे