Report Exclusive, Lok Sabha Elections 2019: Latest News, Photos, and Videos on India General Elections, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India Report Exclusive श्रीगंगानगर:- मानवता ही खुदा की इबादत का पहला फलसफा: अर्चना सिद्धू - Report Exclusive

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Monday, 1 April 2019

Report Exclusive श्रीगंगानगर:- मानवता ही खुदा की इबादत का पहला फलसफा: अर्चना सिद्धू


ज्वाइंट इंटरनेशनल संस्था की नई टीम ने शपथ ग्रहण की 
श्रीगंगानगर(एजेंसी)। एक इंसान ही है जो दूसरों की दुख तकलीफ को समझता है और उन्हें बांटता है।इस धरती पर इंसान के अलावा जो भी जीवित प्राणी हैं वह पहले अपने और अपने बच्चों के बारे में सोचते हैं फिर दूसरे का ख्याल करते हैं। मानवता ही खुदा की इबादत का पहला फलसफा है। यह विचार सेना की अमोघ डिवीजन (श्रीगंगानगर)में आर्मी वाइव्स वेलफेयर एसोसिएशन (आवा) की चेयरपर्सन अर्चना सिद्धू ने आज रविवार को अंतर्राष्ट्रीय सामाजिक संस्था ज्वाइंट इंटरनेशनल की श्रीगंगानगर शाखा प्रेरणा की नई टीम के शपथ ग्रहण समारोह संकल्प में मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित करते हुए व्यक्त किए।उन्होंने कहा सामाजिक ढांचा एक दूसरे की सहायता करने की भावना पर ही टिका हुआ है। समाज की एकजुटता, खुशहाली, तरक्की और मजबूती के लिए को बनाए रखने के लिए सेवा के बहुत से कार्य हैं, जिन्हें इस तरह की सामाजिक संस्थाएं कर सकती हैं। उन्होंने स्वच्छता पर जोर देते हुए प्लास्टिक और कागज का कम से कम उपयोग करने पर बल दिया। सिद्धू ने कहा कि जहां तक हो सके प्लास्टिक का इस्तेमाल ना किया जाए। कागज रहित कार्य किए जाने चाहिए। कागज का ज्यादा इस्तेमाल भी पर्यावरण के लिए नुकसानदायक है। समाज सेवा के निरंतर कार्यों की प्रेरणा देते हुए सिद्धू ने कहा कि यह कार्य दया भाव की बजाए मानवता की भलाई के उद्देश्य से किए जाने चाहिए।मानवता ही खुदा की इबादत का पहला फलसफा है।उन्होंने कहा कि समाज सेवा का जो भी कार्य करें वह पूरी तन्मयता और दिल से करें। 

इस तरह किए गए कार्य का परिणाम भी सर्वश्रेष्ठ रहता है। सिद्धू ने कहा कि  नशाखोरी के खिलाफ भी एहसास था  अभियान चलाएं।  इसमें उनका भी सहयोग रहेगा ।उन्होंने अपनी तरफ से ज्वाइंट इंटरनेशनल प्रेरणा शाखा को हर संभव सहयोग प्रदान करने का विश्वास दिलाया। संस्था की ओर से उन्हें आनरेरी मेंबरशिप प्रदान की गई है, जिस पर सिद्धू ने प्रसन्नता जाहिर करते हुए आभार जताया। सुखाडिया सर्किल के समीप होटल प्रतीक प्लाजा में आयोजित कार्यक्रम संकल्प में निवर्तमान अध्यक्ष मीनू मिगलानी ने नई अध्यक्ष छाया कौशल को कार्यभार ग्रहण करवाया छाया।छाया कौशल और उनकी नई टीम के पदाधिकारियों नवी,रैना, रेणु अग्रवाल, सुमन जिंदल, दिव्या, डॉ सविता लालगढ़िया, नमिता शर्मा,डॉ स्वाति बंसल,रुचिका चुघ और प्रेरणा को इंस्टॉलेशन ऑफिसर यूनिट डायरेक्टर के.सी. भाटी ने शपथ ग्रहण करवाई। संस्था के फेडरेशन-9 के प्रेसिडेंट आनंद मूंदड़ा ने संस्था की अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय स्तर पर चल रही गतिविधियों के बारे में विस्तार से बताया। अध्यक्ष का कार्यभार ग्रहण करते हुए छाया कौशल ने विश्वास व्यक्त किया कि उनके एक वर्ष के कार्यकाल में समाज सेवा के अनेक प्रकल्प चलाए जाएंगे।संस्था जिन उद्देश्यों को लेकर चल रही है,उन्हें भी निरंतर जारी रखा जाएगा। 


निवर्तमान अध्यक्ष मीनू मिगलानी ने नई टीम को शुभकामनाएं दी। कोषाध्यक्ष डॉ सविता लालगढ़ जाने गत वर्ष का प्रतिवेदन प्रस्तुत करते हुए इस दौरान किए गए समाजसेवा के कार्यों की जानकारी दी। डॉ स्मिता लालगढ़िया को नई कार्यकारिणी में फिर से कोषाध्यक्ष बनाया गया है। इस मौके पर ज्वाइंट इंटरनेशनल प्रेरणा को शाखा को गत वर्ष समाज सेवा के उत्कृष्ट कार्यों के लिए  राज्य स्तर पर 3 अवार्ड प्रदान किए गए। फेडरेशन-9 के अध्यक्ष आनंद मूंदड़ा ने क्लब की पदाधिकारियों और सदस्यों को बेस्ट ग्रुप, बेस्ट सचिव और श्रेष्ठ सामाजिक कार्यों के लिए यह 3 अवार्ड प्रदान किए। 


इस मौके पर संस्था से नई  जुड़ी 12 सदस्य महिलाओं को भी सामाजिक कार्यों की शपथ दिलाई गई। दो जरूरतमंद बालिकाओं को अध्ययन के लिए आर्थिक सहायता दी गई।संस्था ने  पॉलिथीन की थैलियों के खिलाफ  अभियान चलाने के उद्देश्य से  इस कार्यक्रम में इको फ्रेंडली कैरी बैग का  विमोचन किया।अध्यक्ष छाया कौशल ने बताया कि  यह थैलियां  ऐसे  पदार्थ से बनी हैं,जो  पानी में घुलनशील हैं।  लोगों को पॉलीथिन की जगह यह थैलियां अपनाने के लिए प्रेरित किया जाएगा। मंच संचालन डॉ स्वाति बंसल तथा प्रतिमा मिगलानी ने किया। कार्यक्रम में अंकुर मिगलानी, जागीर चंद फरमा, विनोद बिहानी, प्रेम चुघ आदि बड़ी संख्या में गणमान्य लोग शामिल हुए। कार्यक्रम का समापन समापन स्वरुचि भोज के साथ हुआ।

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे