Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India 31074 किसानों को 122.47 करोड़ रूपये का ऋण स्वीकृत इससे किसानो को मिली दोहरी खुशी - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Wednesday, 23 October 2019

31074 किसानों को 122.47 करोड़ रूपये का ऋण स्वीकृत इससे किसानो को मिली दोहरी खुशी


श्रीगंगानगर। राज्य सरकार द्वारा अल्पकालीन सहकारी फसली ऋण वितरण योजनांतर्गत रबी 2019-20 के लिये दिये जाने वाले कृषि ऋण के प्रथम चरण में जिले के 31778 किसानों का पोर्टल पर अंगूठा लगा दिया गया है। जिसमें से 31074 किसानों को 122.47 करोड़ रूपये का ऋण स्वीकृत किया जा चुका है। अब तक 88.30 करोड़ रूपये का वितरण किया जा चुका है। सरकार द्वारा किसानों के फसली ऋण माफ करने के पश्चात पुनः किसानों को ऋण दिया जा रहा है। इससे किसानों में दोहरी खुशी प्रतीत हो रही है। कर्ज के बोझ तले दबे किसानों को लोनमाफी के पश्चात पुनः सहकारी समितियों द्वारा राशि उपलब्ध करवाना उनके लिये एक सुखद अनुभूति है। 
ऋण वितरण कार्यक्रमों में रोहिड़ावाली ग्राम सेवा समिति के आदर्श कुमार के खुशी का ठिकाना नही था। उसने बताया कि वष 2018 में उसे 20600 रूपये की ऋण माफी हुई, जबकि वर्ष 2019 में एक लाख रूपये का ऋण सरकार द्वारा माफ किया गया। मेरे द्वारा एक लाख रूपये की राशि चुकाना बेहद कठिन था। सरकार ने छोटे किसानों का ऋण माफ कर एक बहुत बड़ा उपकार किया है। हमें फसलों के लिये खाद, बीज तथा अन्य संसाधनों के लिये रबी ऋण वितरण में 20600 रूपये नगद प्राप्त हो गये है। 
इसी प्रकार इसी ग्राम सेवा सहकारी समिति के किसान भंवरलाल ने बताया कि वर्ष 2018 में 49500 रूपये का ऋण माफ हुआ तथा वर्ष 2019 में 17495 रूपये का ऋण माफ किया गया। रबी ऋण वितरण में पुनः 46000 रूपये की राशि ऋण स्वरूप प्राप्त हुई है। इस राशि से फसलों के लिये खाद उर्वरक इत्यादि क्रय कर सकेगें। 
ग्राम सेवा सहकारी समिति में उपस्थित किसानों ने बताया कि ऋण माफी से छोटे किसानों को बड़ा लाभ मिला है। छोटे किसान की थोड़ी जमीन ही आय का जरिया होती है। ऐसे में कर्ज चुकाना बेहद मुश्किल था। सरकार ने ऋण माफ कर हमारी राह आसान बना दी। अब हम एक खुशहाल जीवन व्यतीत कर सकेगें। 

No comments:

Post a comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे