Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India इंदिरा रसोई योजना की शुरूआत आज से कोई भूखा ना सोये, इसके लिये रसोई योजना होगी शुरू प्रति थाली 8 रूपये लिए जाएंगे तथा 12 रूपये सरकारी अनुदान होगा मूल उद्देश्य न्यूनतम लागत पर जरूरतमंद को भोजन देनाः- जिला कलक्टर श्रीगंगानगर - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Wednesday, 19 August 2020

इंदिरा रसोई योजना की शुरूआत आज से कोई भूखा ना सोये, इसके लिये रसोई योजना होगी शुरू प्रति थाली 8 रूपये लिए जाएंगे तथा 12 रूपये सरकारी अनुदान होगा मूल उद्देश्य न्यूनतम लागत पर जरूरतमंद को भोजन देनाः- जिला कलक्टर श्रीगंगानगर

 
श्रीगंगानगर,। जिला कलक्टर श्री महावीर प्रसाद वर्मा ने कहा कि राजस्थान सरकार की मंशा के अनुसार कोई भूखा ना सोये, को साकार करने के लिये जिले के सभी नगरीय निकायों में 20 अगस्त 2020 से इंदिरा रसोई योजना शुरू की जा रही है। जिला कलक्टर ने बताया कि जिले में स्थित नगर परिषद क्षेत्र में तीन तथा नगरपालिका क्षेत्र में एक-एक इंदिरा रसोई आज से संचालित की जाएगी। जिसके लिए स्थल का चयन श्रीगंगानगर नगर परिषद क्षेत्र में कर लिया गया है। अंधविद्यालय परिसर सहित शहर में तीन इंदिरा रसोई संचालित की जाएगी। इसी प्रकार सूरतगढ, अनूपगढ, पदमपुर, गजसिंहपुर, केसरीसिंहपुर, सादुलशहर, श्रीविजयनगर, रायसिंहनगर में तथा श्रीकरणपुर में इंदिरा रसोई का संचालन किया जाएगा। जिला कलक्टर ने बुधवार को जिले की कई नगरपालिकाओं में जाकर इंदिरा रसोई की शुरूआत की तैयारियों का जायजा लेकर आवश्यक दिशा निर्देश दिये। उन्होने बताया कि इंदिरा रसोई संचालन के संबंध में स्वायत शासन विभाग जयपुर द्वारा जारी गाईड लाईन की अक्षरशः पालना सुनिश्चित की जाए। इंदिरा रसोई का मेन्यू सामान्य होगा, जिसमें प्रति थाली 100 ग्राम दाल, 100 ग्राम सब्जी, 250 ग्राम चपाती व अचार के रूप में दिया जाएगा तथा लाभार्थी से प्रति थाली 8 रूपये लिए जाएंगे एवं 12 रूपये अनुदान के रूप में देय होगा। जिला कलक्टर ने इंदिरा रसोई योजना के सफल संचालन के लिए उपखण्ड अधिकारियों को प्रभारी अधिकारी नियुक्त किया गया है।

No comments:

Post a comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे