Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India देश को आत्मनिर्भरता की ओर ले जाने वाला केन्द्रीय बजट है: सांसद श्री निहाल चन्द - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Wednesday, 2 February 2022

देश को आत्मनिर्भरता की ओर ले जाने वाला केन्द्रीय बजट है: सांसद श्री निहाल चन्द

 देश को आत्मनिर्भरता की ओर ले जाने वाला केन्द्रीय बजट है: सांसद श्री निहाल चन्द

श्रीगंगानगर, । वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण के द्वारा वर्ष 2022-23 के लिए संसद में मोदी सरकार के दुसरे कार्यकाल का तीसरा आम बजट पेश किया गया। इस बजट के बाद लोकसभा सांसद एवं पूर्व केन्द्रीय राज्यमंत्री श्री निहाल चन्द ने कहा कि दुनिया में छाई आर्थिक मंदी के बीच वित्त मंत्री ने देश को एक साहसिक बजट दिया है, जोकि देश को आर्थिक मंदी से उबारने का काम करेगा, साथ ही देश को आत्मनिर्भरता की ओर ले जाने वाला है। इस बजट में देश के सभी वर्गों को समाहित किया गया है, जिसमें मध्यम, गरीब, किसान व पिछड़े वर्ग पर विशेष ध्यान दिया गया है । देश व दुनिया इस समय आर्थिक चुनौतियों का सामना कर रही है और केन्द्र सरकार के पिछले 8 वर्षों के कार्यकाल ने भारतीय अर्थव्यवस्था को एक बुनियादी मजबूती प्रदान की है। वित्त मंत्री ने इस मजबूती को बरक़रार रखने और विकास की गति को तेजी प्रदान करने की प्रतिबद्धता दिखाई है, साथ ही इस बजट में अगले 25 वर्षों का विजन साफ़ दिखाई देता है।  
गंव, गरीब और किसान् तथा प्रत्येक नागरिक के जीवन को ’’अधिक सरल‘‘ बनाने के लक्ष्य के साथ इस बजट को संसद में पेश किया गया है । प्रधानमंत्री के द्वारा ’’सबका साथ सबका विकास‘‘ विजन को लेकर इस बजट को तैयार किया गया है, जिसके माध्यम से सुस्त पड़ी अर्थव्यवस्था को फिर से गति प्रदान करने का लक्ष्य है। आर्थिक मंदी की मार पूरी दुनिया झेल रही है, इसके बावजूद वित्त मंत्री ने देश को आर्थिक मंदी से उबारने के लिए एक साहसिक बजट देश को दिया है। हमारी सरकार द्वारा ’’न्यू इंडिया‘‘ की ओर यह एक और ठोस कदम है। श्री निहालचंद ने इस साहसिक बजट के लिए आदरणीय प्रधानमंत्री वित्त मंत्री समेत केंद्र सरकार को धन्यवाद दिया है। 

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे