Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India श्रीगंगानगर के युवा खिलाड़ी ने किया शानदार प्रदर्शन,आईपीएल में गुजरात लोयंस के लिए खैला गंगानगर का युवा - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Friday, 28 April 2017

श्रीगंगानगर के युवा खिलाड़ी ने किया शानदार प्रदर्शन,आईपीएल में गुजरात लोयंस के लिए खैला गंगानगर का युवा

अंकित सोनी के घर पर लगा बधाई देने वालो का तांता

श्रीगंगानगर। राष्ट्रीय स्तर के क्रिकेट में राजस्थान का एक और सितारा उभरा है। अंकित सोनी नाम का यह क्रिकेटर श्रीगंगानगर का बेटा है, जिसने बिना कोई रणजी मैच खेले ही इंडियन प्रीमियर लीग में अपनी जगह बना चुका है। अंकित ने गुरुवार को गुजरात लॉयंस की तरफ से अपना पहला मैच रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के खिलाफ खेला और डेब्यू मैच में ही शानदार प्रदर्शन किया। इस युवा खिलाड़ी का प्रदर्शन देखकर कमेंटेटर चकित थे, वहीं टीम के साथियों व प्रबंधन ने अंकित के प्रदर्शन की खुलकर तारीफ की और उन्हें भविष्य का सितारा बताया। अंकित की इस कामयाबी पर परिवार फूला नहीं समा रहा। उनके घर बधाइयां देने वालों का तांता लगा हुआ है।
अंकित सोनी श्रीगंगानगर का मूल निवासी है। उसके दादा प्रेम सोनी यहां 3-एफ-36 जवाहरनगर में परिवार सहित रहते हैं। उसके चाचा रमेश सोनी शिक्षा विभाग में लिपिक हैं, जबकि पिता नरेश सोनी सूरतगढ़ में एलआईसी के अतिरिक्त शाखा प्रबंधक हैं। आज यहां पैतृक घर में खुशियां मना रहे परिवारजनों ने बताया कि अंकित ने 15 वर्ष की उम्र में वर्ष 2007 में क्रिकेट का प्रशिक्षण लेना शुरू किया। सूरतगढ़ की शेरवुड एकेडमी के कोच रणजीतसिंह ने उसे कोचिंग दी। इसके बाद वह समय-समय पर श्रीगंगानगर जिला क्रिकेट संघ के सहयोग से संचालित सेठ सुशीलकुमार बिहाणी क्रिकेट एकेडमी में कोच धीरज शर्मा के सान्निध्य में कोचिंग लेता रहा। पिता नरेश सोनी उसे फास्ट बॉलर बनाना चाहते थे, लेकिन अंकित की रुचि स्पिन गेंदबाजी में थी। लेग स्पिनर के रूप में उसका हुनर देखकर कोच ने इसी फील्ड में प्रेक्टिस कराई। साथ-साथ बैटिंग में भी अंकित बढिय़ा कर रहा था।
डीसीए कोच धीरज शर्मा के अनुसार अंकित सोनी जिले की तरफ से अंडर-16, अंडर-19 प्रतियोगिताएं खेल चुका है। इसके अलावा सीनियर टीम के साथ खेलते हुए वर्ष 2015 में कॉल्विन शील्ड जीतने में अहम भूमिका निभाई थी। इस दौरान वर्ष 2013 से ही वह जयपुर में आईपीएल की टीम राजस्थान रॉयल्स के प्रेक्टिस सेशन में बॉलिंग करता रहा था। रॉयल्स टीम प्रबंधन से जुड़े मोंटी देसाई ने अंकित सोनी की प्रतिभा को पहचाना और टीम में उसे शामिल करने का प्रस्ताव रखा, लेकिन दुर्भाग्य से अन्य पदाधिकारियों ने ध्यान नहीं दिया। कॉल्विन शील्ड में अच्छे प्रदर्शन को देखते हुए अंकित को मुम्बई भेजा गया, जहां वह मोंटी देसाई के क्लब से खेलने लगा। अब मोंटी देसाई गुजरात लॉयंस टीम से जुड़े हुए हैं। लॉयंस टीम के ड्वेन ब्रावो तथा शिविल कौशिक के चोटिल होने पर देसाई ने ही अंकित को टीम में लेने का सुझाव दिया। उससे पहले ही कप्तान सुरेश रैना प्रेक्टिस सैशन में अंकित की गेंदबाजी देख चुके थे, इसलिए इरफान पठान के साथ ही अंकित को भी टीम में शामिल कर लिया।
अंकित सोनी (फाइल फोटो)

पहले ही मैच में जमाई धाक

अंकित सोनी ने गुजरात लॉयंस की तरफ से आरसीबी के खिलाफ खेलते हुए पहले ही मैच में धाक जमाई। उसने 3 ओवर में 28 रन देकर नेगी का महत्वपूर्ण विकेट तो लिया ही, विध्वंसक बल्लेबाजी एबी डीविलियर्स को रन आउट भी कराया। उनके प्रदर्शन पर कमेंटेटर भी चकित थे कि बिना रणजी मैच खेले ही सीधे आईपीएल में आया यह युवा खिलाड़ी कितना प्रतिभाशाली है।

दो बार आईपीएल नीलामी से चूके

अंकित सोनी दो बार लेग स्पिनर के रूप में आईपीएल नीलामी में भाग ले चुके हैं, लेकिन दुर्भाग्य से किसी टीम ने उन्हें नहीं खरीदा। पहली बार वर्ष 2015 और फिर 2017 की नीलामी में उनका बेस प्राइस 10 लाख रुपए रखा गया था। अब गुजरात लॉयंस ने बेस प्राइस पर ही उन्हें टीम में शामिल किया है। टीम की तरफ से बुधवार को अंकित सोनी के साथ एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए।

No comments:

Post a comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे