Report Exclusive, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India राज्य में 24 घंटे में 33,000 मीट्रिक टन यूरिया की होगी आपूर्ति - अभय कुमार - Report Exclusive

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Friday, 21 December 2018

राज्य में 24 घंटे में 33,000 मीट्रिक टन यूरिया की होगी आपूर्ति - अभय कुमार


एक सप्ताह में एक लाख दो हजार मीट्रिक टन और पहुंचेगा यूरिया

श्रीगंगानगर/जयपुर। प्रमुख शासन सचिव, कृषि एवं सहकारिता अभय कुमार ने बताया कि किसानों को शीघ्रता से यूरिया उपलब्ध कराया जा रहा है। अगले 24 घंटे के भीतर राज्य के विभिन्न हिस्सों में 33 हजार मीट्रिक टन यूरिया की 11 रैक पहुंच जायेंगी तथा आगामी 7 दिवस में एक लाख दो हजार मीट्रिक टन यूरिया की 34 रैक भी पहुंचेगी।

       कुमार शुक्रवार को पंत कृषि भवन में कृषि विभाग के अधिकारियों एवं यूरिया आपूर्ति कम्पनियों की उच्च स्तरीय बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होनें कहा कि कृषि विभाग के अधिकारी कृषकों की मांग के अनुरूप खाद की उपलब्धता को सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने कम्पनियों को निर्देश दिये कि राज्य के दूरस्थ क्षेत्रों में प्राथमिकता के साथ यूरिया की आपूर्ति करें ताकि किसान समय रहते कृषि कार्यो में उपयोग कर सके।
      उन्होंने कहा कि 24 घंटे में होने वाली 33 हजार मीट्रिक टन यूरिया की आपूर्ति अलवर, चन्देरिया, जयपुर, जोधपुर, हिण्डौन, लालगढ एवं सूरतगढ इत्यादि स्थानों पर भिजवाना सुनिश्चित किया जायेंगा तथा यूरिया की अत्यधिक मांग वाले इलाकों में प्राथमिकता के साथ यूरिया आपूर्ति की जा रही है। उन्होंने आगामी 7 दिवस में भी होने वाली यूरिया आपूर्ति को लेकर अधिकारियों को निर्देश दिये कि सर्वप्रथम यूरिया आपूर्ति की मांग वाले क्षेत्रों को चिन्हित कर प्राथमिकता के साथ किसानों को यूरिया पहुचाया जाएगा।
       कुमार ने कहा कि राज्य में यूरिया की अधिक मांग देखते हुये भारत सरकार को 60 हजार मीट्रिक टन यूरिया के अतिरिक्त आवंटन के लिये भी आग्रह किया गया ताकि समय रहते राज्य के किसानों को यूरिया की आपूर्ति की जा सकें। उन्होनें श्रीराम एवं चम्बल उर्वरक कम्पनियों को निर्देश दिये कि यूरिया की आपूर्ति सतत् बनाये रखने के लिए सडक मार्ग से भी आपूर्ति करें।

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे