Report Exclusive, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India पत्रकार के साथ हुए दुव्र्यवहार को लेकर पूरे जिले के पत्रकार हुए लामबंद - Report Exclusive

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Saturday, 9 February 2019

पत्रकार के साथ हुए दुव्र्यवहार को लेकर पूरे जिले के पत्रकार हुए लामबंद


- आईएफडब्ल्यूजे ने दी संभाग स्तर पर आंदोलन की चेतावनी 

श्रीगंगानगर। इंडियन फेडरेशन ऑफ वर्किंग जर्नलिस्ट (आईएफडब्ल्यूजे) की संभाग स्तरीय इकाई द्वारा चूनावढ़ थाना पुलिस के एक हेड कांस्टेबल द्वारा स्थानीय पत्रकार के साथ कथित दुव्र्यवहार का शुक्रवार को संज्ञान लेते हुए कहा कि क्षेत्र में बार-बार होने वाली ऐसी घटनायें चिंतित करने वाली हैं। प्राप्त जानकारी अनुसार क्षेत्र के वरिष्ठ जर्नलिस्ट महेंद्र सिंह परवाना गत 10 जनवरी को चूनावढ़ थाने के समक्ष किसी सामाजिक संगठन द्वारा किये किये जा रहे प्रदर्शन की कवरेज को गए थे। उक्त लगाए जा रहे धरने की जब उन्होंने ने फोटो लिए तो मौके पर मौजूद हेड कांस्टेबल चतरू राम मीणा आवेशित हो उठे और परवाना को धक्के मारते हुए वहां से निकल जाने को कहां। इस पर परवाना धरना स्थल पर डटे रहे तो हेड कांस्टेबल मीणा ने गाली-गलोच करते हुए उन्हें झूठे मुकदमे में फंसाने की भी धमकी दे डाली। हेड कांस्टेबल चतरू राम मीणा का उद्देश्य था की इस धरने और पुलिस प्रदर्शन की खबर जिला मुख्यालय तक ना पहुंचे इसको लेकर वो आखिरकार मारपीट पर भी उतर आया। इस मुद्दे को लेकर क्षेत्र के समस्त पत्रकार जगत में भारी रोष व्याप्त है। बावजूद इसके इस बुद्धिजीवी वर्ग ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के आश्वासन पर धैर्य बनाये रखा। इसी संदर्भ में आज आईएफडब्ल्यूजे के प्रदेश प्रभारी अनिल जान्दू और जिलाध्यक्ष मोहन पाल सचदेवा के नेतृत्व में संघ के अन्य पदाधिकारियों ने सीओ ग्रामीण राहुल यादव के साथ शिष्टाचार भेंट की लेकिन इस वार्ता में सीओ यादव का नजरिया सकरात्मक नहीं लगा। इस पर अब संगठन ने एक बार फिर पुलिस प्रशासन के विरुद्ध आंदोलनात्मक मुहीम छेडऩे की ठान ली है। संभाग प्रभारी अनिल जान्दू के अनुसार अगर आगामी मंगलवार तक इस सम्बन्ध में कोई ठोस कार्रवाई नहीं हुई तो इस आंदोलन को आईएफडब्ल्यूजे संभाग स्तर पर उठाएगा। जिसकी सुचना प्रदेशाध्यक्ष उपेंद्र राठौड़ को ईमेल द्वारा प्रेषित कर दी गई है। जिला उपाध्यक्ष रणदीप राणा ने बताया कि आंदोलन की रुपरेखा को लेकर श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़, बीकानेर सहित चूरू जिलों की इकाइयों के अध्यक्षों को सुचना प्रेषित कर दी गई है। संगठन के वरिष्ठ सरंक्षक दविंद्रजीत सिंह, महेंद्र सिंह परवाना, विनोद राजपूत, अरविन्द भाटिया, रामरतन उपाध्याय आदि मौजूद रहे। 

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे