Report Exclusive, Lok Sabha Elections 2019: Latest News, Photos, and Videos on India General Elections, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India Report Exclusive श्रीगंगानगर:- पारवारिक झगड़े में समझोते की नकल के लिए मांगी रिश्वत तो एसीबी के चढ़ा हत्थे,पढ़े.. - Report Exclusive

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Saturday, 30 March 2019

Report Exclusive श्रीगंगानगर:- पारवारिक झगड़े में समझोते की नकल के लिए मांगी रिश्वत तो एसीबी के चढ़ा हत्थे,पढ़े..


थानाधिकारी का रीडर 10हजार की रिश्वत लेते गया पकड़ा
-समझौते की नकल के नाम पर ली जा रही थी रिश्वत
श्रीगंगानगर। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम ने शुक्रवार को  डीएसपी सलेह मोहम्मद के नेतृत्व में कार्रवाई करते हुए उद्योग नगर थाना अधिकारी के रीडर फूल सिंह को 10000 की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया।आरोपी रीडर फूलसिंह के द्वारा परिवादी महाराज सिंह से पारिवारिक झगड़े में हुए समझौते की नकल देने की एवज में 10000 की रिश्वत मांगी गई थी। परिवादी ने इसकी शिकायत एसीबी को की थी इसके बाद एसीबी ने मामले का सत्यापन करवाया और आज शाम परिवादी ने लीडर को 10000 दिए। 


उसके तुरंत बाद एसीबी की टीम ने आरोपी को दबोच लिया और उसके पास से 10000 की राशि बरामद कर ली । ब्यूरो के पुलिस उपाधीक्षक सलेह मोहम्मद ने बताया कि इस मामले में परिवादी महाराज सिंह ने 27 मार्च को जो शिकायत दी थी उसके अनुसार 30 नवम्बर 2018 को उसके भतीजे की पत्नी की मौत हो गई थी जिसके मामले में 23 जनवरी 19 को मृतका के पीहर पक्ष ने जरिये इस्तगासा अदालत में मामला दर्ज कराया था जिसमें स्वयं महाराज सिंह, उसके दो भाई, भतीजा, भाभी को आरोपी बनाया गया था। 


करीब एक माह पूर्व इस मामले में समझौता हो गया था और समझौते की नकल देने के लिये एमाआईए थानाधिकारी ने 10 हजार रूपये की रिश्वत मांगी थी जिस पर ब्यूरों में ये शिकायत दर्ज कराई गई जो सत्यापन में सही पाई गई। इसके बाद शुक्रवार को कार्रवाई करते हुए आरोपी को रिश्वत लेते हुए दबोचा गया। आरोपी फूलसिंह मूल रूप से अलवर जिले की लक्षमणगढ़ तहसील के ग्राम बुटियाना का निवासी है और यह 2008 मेें पुलिस में भर्ती हुआ तथा 2016 से आरोपी इस थाने में थानाधिकारी के रीडर पद पर कार्यरत है।

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे