Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India Sameja kothi- आखिर कब तक नजरअंदाज ये हालात? - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Friday, 19 April 2019

Sameja kothi- आखिर कब तक नजरअंदाज ये हालात?

समेजा कोठी।(सतवीर सिह मेहरा)श्रीगंगानगर जिले की रायसिहनगर पंचायत समिति की समेजा कोठी पंचायत ग्रामीण स्वच्छता मिशन के तहत 28 अक्टूबर 2016 को ओडिएफ भले ही हो गई लेकिन ओडिएफ होने के बाद भी पंचायत के हालत अभी सुधरे नही हैं।ग्राम पंचायत की मुख्य सड़के विकास की मोहताज हैं।वार्ड एक की खाद बीज सोसायटी रोड़ तो थोडी सी बरसात से ही नाले में तब्दील हो जाती हैं।जबकि इस गली में किसानों के लिए सरकारी खरीद हेतु अनाज पिड,क्रय विक्रय सहकारी बैंक,वोडाफोन टावर आदि आमजन हेतु हैं लेकिन गली कीचड़ से अटी पडी हैं,जिससे किसान व राहगीर परेशान हैं।वार्ड में सीसी रोड़ की मांग लम्बे अरसे से चल रही हैं पर आज तक नही बनी।गली में कीचड़ होने से ऊट पालक परेशान हैं।समेजा पंचायत की अधिकांश गलिया कीचड़ से अटी रहती हैं।कीचड़ का एक कारण लोगों के घरो के स्नान घरों का पानी सीधा रोड़ पर छोड़ना भी हैं।अधिकांश ग्रामीण ने पानी के लिए स्टोरेज टेंक नही बनाया हैं।
वार्ड 13 के हरिजन बस्ती के लोग सरकारी सुविधा के लिए मोहताज -------------------वन विभाग की भूमि पर बसे लोगो के पास यू तो सब सरकारी सुविधा पहुच में हैं लेकिन पंचायत से शौचालय व पीएम आवास के लिए तरस रहे हैं जबकि पंचायत का सबसे गरीब तबका यही निवास करता हैं।गौरतलब हैं की  इस  हरिजन बस्ती में करीब 350 लोग रहते हैं ।लेकिन लगभग घरों में धमाका कुईया बनी हैं।शौचालय निर्माण के लिए पंचायत यह कहकर फार्म नही ले रही की यह बस्ती अवैध तरीके से बसी हुई हैं लेकिन सरकार ने राशनकार्ड इन लोगो को बनाकर दे रखे हैं।इनके वोटर आई कार्ड भी इसी बस्ती के नाम से बने हुये हैं।पंचायत यदि इनके समेजा निवासी के तौर पर राशनकार्ड व वोटर कार्ड,आधार कार्ड ,भामाशाह कार्ड आदि बना सकती हैं तो शौचालय की राशि देने में क्या हर्ज हैं।जरा सोचने वाली बात हैं की सरकार ने गरीब को सुविधा देने के लिए योजना का सरलीकरण किया था लेकिन यहा तो सारे गरीब बीपीएल लोग शौचालय राशि से वंचित हैं।यदि सरकार वहा बसे लोगों को बाकी सारी सुविधा दे रही हैं तो इस बारह हजार में कौनसा कानून अड गया।यदि ऐसा कुछ था तो पंचायत या तो उस बस्ती वालों को शुरू से ही कोई सुविधा ना देती।यदि पंचायत शुरू से ऐसा सुविधाओं से वंचित रखती तो आज पांच घरो से चार सौ की आबादी नही बनती।लोग बस्ती में घर बनाने से पहले पानी बिजली के बारे में सोचते और वह अपने कदम पीछे खींच लेते।लेकिन अब पंचायत को व सरकार को चाहिये की इस आबादी को समेजा पंचायत की आवासीय आबादी मानकर लोगो को प्लाटो का मालिकाना हक दे देना चाहिये व गरीब तबके के लोगो को तमाम सरकारी सुविधा मुहिया करवा दी जानी चाहिये।

वर्तमान विधायक ने वोटो के समय किया था वादा- वर्तमान विधायक बलवीर सिह लुथरा ने बस्ती में स्थित बाबा भैरो जी मंदिर के सामने विधायक चुनाव के समय वोट मांगने पंहुचे थे तो वार्ड पंच सहित गणमान्य नागरीकों ने वार्ड 13के निवासीयों को आवासीय पट्टा देने की मांग विधायक से मनवाई थी जिसमे विधायक ने जितने पर लोगों को आवासीय पट्टा दिलाने की बात कही थी।अब लोगों ने विश्वास पूर्वक मत दिया परिणामस्वरूप लूथरा जी विजय हुये।अब समेजा के हरिजन बस्ती के लोग विधायक से आवासीय पट्टे की आशा कर रहे हैं लेकिन ये वक्त ही बतायेगा की लोगों की मांग कब पूरी हो पाती हैं।

No comments:

Post a comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे