Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India सीआई विष्णुदत्त आत्महत्या प्रकरण : उधर सीबीआई जांच की हुई अनुशंसा तो इधर धरना समाप्त - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Thursday, 4 June 2020

सीआई विष्णुदत्त आत्महत्या प्रकरण : उधर सीबीआई जांच की हुई अनुशंसा तो इधर धरना समाप्त


सीबीआई जांच की अनुशंसा के बाद धरना समाप्त

रायसिंहनगर। राजगढ़ थानाधिकारी के आत्महत्या के बाद से शुरू हुआ धरना आज आखिरकार सीबीआई जांच की अनुशंसा रिपोर्ट सामने आने के बाद समाप्त कर दिया गया । सीआई विष्णुदत्त विश्नोई न्याय संघर्ष समिति रायसिंहनगर का सीबीआई जांच की मांग को लेकर धरना आज लगातार आठ दिन बाद सीबीआई जांच के आदेश पर समाप्त कर दिया गया। 

सीआई विष्णुदत्त बिश्नोई न्याय संघर्ष समिति के प्रेस प्रवक्ता महादेव विश्नोई ने बताया कि आज शाम को राज्य सरकार द्वारा विष्णुदत्त विश्नोई आत्महत्या प्रकरण की जांच सीबीआई को देने की घोषणा पर समिति द्वारा चल रहे अनिश्चितकालीन धरने को समाप्त करने की घोषणा समिति संयोजक सीताराम मांजू द्वारा की गई तथा धरना स्थल पर विष्णु की प्रतिमा पर दो मिनट का मौन रखकर पुष्प अर्पित किए गए। धरना स्थल पर सीआई विष्णुदत्त के भाई संदीप बिश्नोई व ज्योतिष बिश्नोई ने पहुंचकर संघर्ष करने वाले सभी साथियों को धन्यवाद ज्ञापित किया। वहीं धरने पर बैठे सभी व्यक्तियों ने एक स्वर में कहा कि हमे विश्वास है कि जांच सीबीआई को सौंपने के बाद बेहतर परिणाम सामने आएंगे। 

श्रद्धांजलि सभा में एडवोकेट हेतराम बोला, पूर्व विधायक लालचंद मेघवाल, जिला परिषद डायरेक्टर विनोद बिश्नोई, भाजपा नेता रामप्रकाश गोदारा, माकपा के शयोपतराम मेघवाल, पूर्व चेयरमैन राकेश ठोलिया, मनीष कौशल, महादेव बिश्नोई, रवि मालिया, उपेंद्र बिश्नोई, महेश बिश्नोई, निजी शिक्षण संस्थान के पूर्व जिला अध्यक्ष सुरेंद्र गोदारा, प्रधान प्रतिनिधि ओम सारस्वत, पूर्व जिला अध्यक्ष सुरेंद्र गोदारा, कानू गोदारा सरपंच प्रतिनिधि, दिनेश माल, मुकेश डेलू, वीरेंद्र भादू, युवराज बिश्नोई, सावताराम गोदारा, सुधीर बिश्नोई, मोहनलाल बोला, आत्माराम बिश्नोई सहित अनेक लोग उपस्थित थे |

No comments:

Post a comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे